Overthinking नुकसानदायक है रिलेशनशिप के लिए

रिश्तों में प्यार और तकरार आम बात है। लेकिन आप रिलेशनशिप में हो और आपमें इनसिक्योरिटी और overthinking बढ़ती जा रही है, तो ये आपके रिलेशनशिप को खत्म कर सकती है।

By: Neelam Chouhan

Published: 20 Jul 2021, 03:36 PM IST

नई दिल्ली। जब आप रिलेशनशिप में होते हैं तो आपको लगता है आप अपने पार्टनर को पूरा टाइम दें। हर समय वे आपके इर्द-गिर्द रहें। उनकी दिनचर्या की एक एक बात वो आपसे शेयर करें और आप भी उनसे अपनी सारी समस्या शेयर करें। परन्तु कई बार ऐसा नहीं होता है आपका पार्टनर आपकी तरह नहीं सोचता या उसे पर्सनल स्पेस चाहिए होता है। ऐसे में यह झगड़े का कारण बन जाता है। आप overthinking करने लगते हैं, इनसिक्योर फील करने लग जाते हैं। ऐसे में रिलेशनशिप खत्म होने का खतरा बढ़ जाता है। सोचना अच्छी बात है लकिन बहुत सोचने के कारण आप टेंशन में रहने लगते हैं। इसलिए रिलेशनशिप में आपको फ्री माइंड से रहना चाहिए।

यह भी पढ़ें- डिजिटल युग में मोबाइल कैसे कर रहा है रिश्तों में बंटवारा

आइए जानते हैं overthinking के खतरे और बचने के उपायः

1. तुलना ना करें

यदि आप रिलेशनशिप में हैं और बार- बार अपने पार्टनर की किसी और से तुलना करते हैं तो ये गलत है। तुलना करने से आपके रिश्ते में दरार आ सकती है क्यूंकि सबका अपना-अपना नेचर होता है।

2. दुखी रहते हैं

आप उस इंसान के बारे में यदि बहुत सोचते हैं तो उदास हो जाते हैं। आपको लगता है यह ऐसे क्यों नहीं है। क्या मैं किसी गलत रिलेशनशिप में तो नहीं हूं, इसलिए बहुत ना सोचें और फ्री माइंड रहें।

3. बिना बात के लड़ाई करना

बिना बात के लड़ाई तब होगी जब आप आलोचना करते हैं, आप तुलना करने लगते हैं और सवाल उठाने लगते हैं। ऐसे में सामने वाला आपसे चिड़चिड़ा हो जाता है और बिन बात के लड़ाई होती रहती है।

4.कल की चिंता करना

जब आप आज में ना जीकर कल की फिक्र करने लगते हैं, कब क्या कैसे होगा इसी में अपना दिन व्यतीत करते हैं। यह भी रिलेशनशिप खत्म होने का बड़ा रीज़न हो सकता है।

5. असुरक्षित रहना

जब आप अपने पार्टनर के ऊपर जरुरत से अधिक शक करने लगते हैं। ऐसे में सामने वाला असुरक्षित हो जाता है और नतीजा ये होता है कि झगड़े होने लगते हैं।

यह कुछ ऐसे टिप्स हैं जिनको यदि आप ध्यान में रखते हैं तो आपस में झगड़े की सम्भावना नहीं रहती। विवाद या झगड़ा किसी भी चीज़ का समाधान नहीं है। और बात करें रिलेशनशिप की तो इसमें आपको टेंशन से ज्यादा ख़ुशी मिलनी चाहिए क्योंकि आपका ख़ुशी रहना बहुत जरूरी है।

Neelam Chouhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned