scriptBada Mangal 2022: Interesting Story Of Lord Rama And Hanuman Relation | बड़ा मंगल विशेष: आखिर क्यों स्वर्गलोक गमन के लिए श्री राम ने हनुमान जी से किया अंगूठी ढूंढने का छल | Patrika News

बड़ा मंगल विशेष: आखिर क्यों स्वर्गलोक गमन के लिए श्री राम ने हनुमान जी से किया अंगूठी ढूंढने का छल

Bada Mangal 2022: कहा जाता है कि धरती पर जन्म लेने से पूर्व ही हर प्राणी की मृत्यु की तिथि निश्चित हो जाती है। ऐसे में मनुष्य रूप में पृथ्वी पर जन्म लेने वाले ईश्वर के अवतारों का भी निर्धारित समय पर दुनिया से लुप्त होना तय था।

नई दिल्ली

Updated: May 12, 2022 01:39:03 pm

क्या आप जानते हैं कि पृथ्वी पर मनुष्य रूप में अपना समय पूरा होने पर स्वर्गलोक गमन के लिए श्री राम ने हनुमान जी से अंगूठी ढूंढकर लाने का छल किया था? आइए जानते हैं इस घटना से जुड़ी कथा के बारे में...

पौराणिक कथा के अनुसार, जब श्री राम का पृथ्वी लोक पर मनुष्य देह त्यागने का समय आया तो उसमें सबसे बड़ी रुकावट राम जी के परम भक्त हनुमान ही थे। क्योंकि यमराज का हनुमान जी की उपस्थिति में प्रभु श्री राम के प्राण हरना तो क्या भगवान राम के नजदीक आना भी नामुमकिन था। वहीं हनुमान जी ने श्री राम और सीता माता की रक्षा का जिम्मा अपने सिर लिया हुआ था।

bada mangal 2022, ram bhakt hanuman, budhwa mangal 2022, बुढ़वा मंगल की हार्दिक शुभकामनाएं, बड़ा मंगल 2022, राम जी की मृत्यु कैसे हुई थी, भगवान राम का अंत कैसे हुआ, राम भक्त हनुमान जी की कथा, राम का स्वर्ग लोक में जाना, राम ने किया हनुमान से छल, Hanuman in search of Rama's ring,
बड़ा मंगल विशेष: आखिर क्यों स्वर्गलोक गमन के लिए श्री राम ने हनुमान जी से किया अंगूठी ढूंढने का छल

तब विष्णु भगवान के अवतार श्री राम ने मोक्षधाम जाने के लिए अपनी अंगूठी को महल के फर्श ने आई दरार में छल से गिरा दिया ताकि वे हनुमान जी को बहाने से मुख्य द्वार से दूर हटा सकें और यम वहां आ सकें। अंगूठी गिराने के तुरंत बाद राम जी ने बजरंगबली को आदेश दिया कि वह उनकी अंगूठी निकलकर लाएं। अपने प्रभु की आज्ञा पाते ही हनुमान जी सूक्ष्म रूप में फर्श की दरार के अंदर अंगूठी ढूंढने के लिए चले गए। लेकिन उन्हें उस समय ये नहीं पता था कि वो कोई सामान्य दरार नहीं थी बल्कि एक बड़ी सुरंग थी।

उस सुरंग में भगवान हनुमान की मुलाकात राजा वासुकी से हुई। राजा वासुकी उन्हें अपने साथ नाग लोक ले गए और वहां पर अंगूठियों के एक विशाल ढेर की तरफ इशारा करते हुए हनुमान जी से बोले कि यहां आप अपनी अंगूठी ढूंढ सकते हैं। यह बात सुनते ही बजरंगबली को चिंता हो गई कि इतने बड़े अंगूठी के पहाड़ में से श्री राम की अंगूठी वह किस तरह ढूढेंगे। इसके बाद हनुमान जी को सबसे बड़ा आश्चर्य तब हुआ जब बार-बार कोई भी अंगूठी उठाने पर उन्हें हर अंगूठी श्री राम की ही लगती। हनुमान जी ऐसे समय में कुछ समझ नहीं पा रहे थे। हनुमान जी की ऐसी हालत देखकर राजा वासुकी मुस्कुराए और उन्हें कुछ समझाने लगे।

राजा वासुकी ने पवन पुत्र से कहा कि, पृथ्वी लोक में जो भी आता है उसका जाना भी तय होता है। वासुकी का इतना कहना था कि हनुमान जी सब समझ गए कि उनके प्रभु श्रीराम पृथ्वी लोक को छोड़कर विष्णु लोक जा रहे हैं। साथ ही राम जी का उन्हें अंगूठी ढूंढ़ने के लिए भेजना और फिर उनका नाग-लोक में आना, यह सब भगवान राम की ही नीति थी। इस बात का एहसास होते ही हनुमान जी दुख से भर गए कि उन्हें प्रवेश द्वार से हटाने और यम को बुलाने के लिए ही राम जी ने ये छल किया था। वहीं अब अगर वह अब वापस जाएंगे तो उनके प्रभु श्री राम विष्णु लोक जा चुके होंगे और भगवान राम के बिना हनुमान जी के लिए दुनिया में कुछ भी नहीं।

(डिस्क्लेमर: इस लेख में दी गई सूचनाएं सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। patrika.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ की सलाह लें।)

यह भी पढ़ें

विदुर नीति: इन 3 लोगों को दिया हुआ पैसा नहीं मिलता कभी वापस

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Veer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनName Astrology: इन नाम वाले लोगों के जीवन में अचानक से धनवान बनने का होता है योगफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटबुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामबेहद शार्प माइंड होते हैं इन 4 राशियों के लोग, बुध और शनि देव की रहती है इन पर कृपाज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

टेरर फंडिंग केस में यासीन मलिक को उम्र कैद की सजा, 10 लाख का जुर्मानायासीन मलिक की सजा से तिलमिलाया पाकिस्तान, PM शहबाज शरीफ, इमरान खान, शाहिद आफरीदी को आई मानवाधिकार की यादAir Force के 4 अधिकारियों की हत्या, पूर्व गृहमंत्री की बेटी का अपहरण सहित इन मामलों में था यासीन मलिक का हाथअमरनाथ यात्रियों को तीन लेयर में मिलेगी सिक्योरिटी, ड्रोन व CCTV कैमरों के जरिए भी रखी जाएगी नजरमहबूबा मुफ्ती ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा- आप बता दो कि मुसलमानों के साथ क्या करना चाहते होकपिल सिब्बल समाजवादी पार्टी के टिकट से जाएंगे राज्यसभा, बताई कांग्रेस छोड़ने की वजह16 वर्षीय ग्रैंडमास्टर आर प्रज्ञानानंद ने रचा इतिहास, चेसेबल मास्टर्स के फाइनल में पहुँचने वाले पहले भारतीयलोकसभा चुनाव वाला Yogi का बजट, धर्म के साथ रोजगार, युवा, किसान, महिलाओं को जोड़ेगी सरकार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.