Lunar Eclipse 2021: 26 मई के चंद्र ग्रहण का राशियों पर असर

Chandra Grahan: वैशाख पूर्णिमा के दिन साल 2021 का पहला चंद्र ग्रहण...

साल 2021 का पहला चंद्रग्रहण बुधवार के दिन 26 मई को लगने जा रहा है। हिंदू पंचांग के अनुसार इस बार यह चंद्र ग्रहण Vaisakh Purnima के दिन लगने जा रहा है। ये चंद्र ग्रहण तो दिखाई भारत में भी देगा, लेकिन यहां ये केवल उप छाया ग्रहण की तरह दृश्य होगा, ऐसे में जानकारों के अनुसार भारत में इस Lunar eclipse का धार्मिक प्रभाव और सूतक मान्य नहीं होगा।

वहीं जानकारों के अनुसार Chandra Grahan का वैज्ञानिक महत्व होने के साथ ही धार्मिक और ज्योतिष महत्व भी होता है। ज्योतिष मान्यताओं के अनुसार चंद्र ग्रहण का प्रभाव सभी लोगों पर पड़ता है।

यह चंद्रग्रहण 26 मई 2021, बुधवार को दोपहर 14:17 बजे से शुरु होकर 19:19 बजे तक रहेगा। यह पूर्ण चंद्र ग्रहण भारत, पूर्वी एशिया, ऑस्ट्रेलिया, प्रशांत महासागर और अमेरिका में दिखाई देगा।

MUST READ : चार धाम यात्रा पर रोक, जल्द सरकार कराएगी ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था!

https://www.patrika.com/pilgrimage-trips/char-dham-closed-govt-will-soon-make-arrangements-for-online-darshan-6822932/

ज्योतिष के जानकारों की मानें तो साल 2021 का यह पहला चंद्रग्रहण वृश्चिक राशि में लग रहा है, इसलिए भले ही इसका सबसे अधिक प्रभाव वृश्चिक राशि पर देखने को मिलेगा। लेकिन चंद्रग्रहण का प्रभाव सभी राशियों पर भी पड़ेगा।

Jyotish Shastra में चंद्रमा को मन का कारक माना गया है। ऐसे में माना जा रहा है कि वृश्चिक राशि के साथ इसका प्रभाव वृषभ राशि और कर्क राशि पर अधिक देखा जा सकता है। जिसके कारण इन राशि के जातकों को Lord Shiv की पूजा करनी चाहिए और क्रोध, तनाव और वाणी दोष आदि से बचना चाहिए।

उपाय : ताबें के लोटे में सप्तमुखी रुद्राक्ष को जल के साथ रखें। ग्रहण समाप्ति के बाद जल को अपने घर के अलावा खुद पर व अपनों पर छिड़क लें। इसके अलावा सुबह पूजा करें और ग्रहण समाप्ति पर स्नान अवश्य करें।

Must read- शुक्रवार के दिन ऐसे मिलेगी मां लक्ष्मी की कृपा, जानें कैसे व्यक्ति पर रहती हैं मेहरबान?

https://www.patrika.com/religion-news/how-to-please-goddess-lakshmi-on-friday-6834149/

सभी 12 राशियों पर इसका असर: Lunar eclipse affects-may 2021

1. मेष राशि : यह ग्रहण आपकी राशि के अष्टम भाव में रहेगा। ऐसे में इस समय मानसिक तनाव हावी रहने की संभावना अधिक रहेगी। इस समय अपनी व अपनी मां की सेहत का खास ख्याल रखें। व्यर्थ के वाद विवाद से बचें, इसके अलावा इस दौरान किसी बड़े परिवर्तन से भी बचें। अचानक धन लाभ हो सकता है।

2. वृषभ राशि : यह ग्रहण आपकी राशि के सप्तम भाव में रहेगा। जिसके चलते स्त्री को कष्ट कर संभावना के बीच ग्रहस्थ जीवन में परेशानी रह सकती हैं। वहीं मान सम्मान में कमी आने की भी संभावना है। जीवन साथी की सेहत का ख्याल रखने के अलावा वैवाहिक जीवन में कटुता से बचें।

3. मिथुन राशि : यह ग्रहण आपकी राशि के छठे भाव में रहेगा। जो आपके लिए ग्रहण लाभकारी होगा, ऐसे में धन लाभ की संभावना भी है। वहीं कार्य में सफलता तो मिलेगी,लेकिन व्यर्थ के वाद विवाद से बचना होगा।

4. कर्क राशि : यह ग्रहण आपकी राशि के पंचम भाव में रहेगा। जिसके चलते मानसिक तनाव, पेट संबंधी रोग रह सकते है। इस दौरान संतान का ख्याल रखें। मान हानि की शंका के बीच कार्य व्यवसाय में लाभ की संभावना है।

Must read : एक ऐसी देवी जिन्होंने धारण कर रखें हैं चारों धाम

https://www.patrika.com/temples/goddess-who-strongly-hold-all-four-dhams-6056143/

5. सिंह राशि : यह ग्रहण आपकी राशि के चतुर्थ भाव में रहेगा। जिसके कारण कार्य व्यवसाय में बड़ी सफलता की संभावना है। लेकिन, इस समय घरेलू परेशानी भी रह सकती है। इस दौरान अपनी मां की सेहत का खास ख्याल रखें। कार्य सिद्धि के बीच इस समय किसी भी कार्य में परिवर्तन से बचें।

6. कन्या राशि : यह ग्रहण आपकी राशि के तृतीय भाव में रहेगा। यह समय आपके लिए अच्छा रहेगा। साथ ही भाग्य व धन धान्य में वृद्धि होगी। लाभ के बीच नौकरी में भी तरक्की की संभावना।

7. तुला राशि : यह ग्रहण आपकी राशि के द्वितीय भाव में रहेगा। जिसके चलते इस समय धन हानि के संकेत हैं, साथ ही इस समय उधार देने व निवेश से भी बचें। अपनी व जीवन साथी दोनों की सेहत का ख्याल रखें। शारीरिक कष्ट व चिंता रहने की संभावना है।

8. वृश्चिक राशि : यह ग्रहण आपकी राशि के प्रथम यानि लग्न भाव में रहेगा। जिसके कारण आप पर इसका विशेष प्रभाव पड़ेगा। इस दौरान आपको कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना होगा। इस समय सेहत का ख्याल रखने के साथ ही मानसिक तनाव से बचें। शारीरिक कष्ट व चिंता इस समय आपको घेर सकती हैं। इस दौरान घरेलू झंझटों बाहर आने के अलावा वाद विवाद से बचें। जीवन साथी से मतभेद से भी दूर रहें, धन हानि संभव।

Must Read- दुनिया में शिवलिंग पूजा की शुरूआत होने का गवाह है ये ऐतिहासिक और प्राचीनतम मंदिर

https://www.patrika.com/temples/world-first-shivling-and-history-of-shivling-5983840/

9. धनु राशि : यह ग्रहण आपकी राशि के द्वादश भाव में रहेगा। जिसके कारण खर्चों में अधिकता आने के साथ ही अनिद्रा की समस्या रह सकती है। इस समय स्वस्थ्य का खास ध्यान रखें। साथ ही वाणी पर संयम रखते हुए व्यर्थ के वाद विवाद से बचें। धन हानि के संकेत हैं।

10. मकर राशि : यह ग्रहण आपकी राशि के एकादश भाव में रहेगा। यह समय आपके लिए अत्यंत लाभदायक है। इस दौरान धन लाभ, कार्य व्यवसाय में बड़ी सफलता मिलने की संभावना है। इस समय सेहत अच्छी व संतान सुख भी मिलेगा। कुल मिलाकर ये समय आपके लिए शुभ है।

11. कुंभ राशि : आपके दशम भाव में ग्रहण पड़ रहा है। जिसके चलते कार्य व्यवसाय में उतार चढ़ाव बना रहेगा। उचित होगा वरिष्ठ अधिकारियों से तालमेल बना कर चलें। कार्य व्यवसाय में धीरे धीरे सफलता मिलेगी। कुल मिलाकर ये समय आपके लिए शुभ नहीं है।

12. मीन राशि : यह ग्रहण आपकी राशि के नवम भाव में रहेगा। ऐसे में यह समय आपके लिए विशेष लाभकारी है। इस दौरान भाग्य की वृद्धि के साथ ही धन लाभ भी होगा। लेकिन माता पिता के साथ व्यर्थ के वाद विवाद की संभावना है। इस समय मां और संतान की सेहत का विशेष ध्यान रखें। इस दौरान किसी बड़े परिवर्तन से बचें, अन्यथा ये ग्रहण चिंता का कारण बन सकता है।

दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned