scriptChanting of these mantras during lunar eclipse can overcome problems | Chandra Grahan चंद्र ग्रहण के समय इन मंत्रों का जाप जीवन की हर समस्या कर सकता है दूर, जानें मान्यता | Patrika News

Chandra Grahan चंद्र ग्रहण के समय इन मंत्रों का जाप जीवन की हर समस्या कर सकता है दूर, जानें मान्यता

Mantra During Chandra Grahan: चंद्र ग्रहण के बुरे प्रभावों से बचने के लिए ज्योतिष में कुछ विशेष मंत्रों के बारे में बताया गया है। जानें क्या हैं ये मंत्र।

नई दिल्ली

Updated: May 16, 2022 10:11:13 am

Lunar Eclipse Or Chandra Grahan 2022: साल 2022 का पहला चंद्र ग्रहण 16 मई की सुबह में घटित होगा। ग्रहण सुबह 8 बजकर 10 मिनट से 10 बजकर 23 मिनट तक रहेगा। ग्रहण वृश्चिक राशि और विशाखा नक्षत्र में लग रहा है। धार्मिक दृष्टि से ग्रहण को अशुभ माना जाता है। जिस कारण इस दौरान कई कार्यों को करने की मनाही होती है। लेकिन वहीं अगर इस दौरान कुछ विशेष मंत्रों का जाप कर लिया जाए तो ना सिर्फ ग्रहण के बुरे प्रभावों से बचा जा सकता है बल्कि कई तरह के लाभ भी प्राप्त किए जा सकते हैं।

chandra grahan, chandra grahan 2022, chandra grahan mantra, chandra grahan 16 may 2022, mantra,
चंद्र ग्रहण के समय इन मंत्रों का जाप जीवन की हर समस्या कर सकता है दूर, जानें मान्यता

ये एक पूर्ण चंद्र ग्रहण होगा। ग्रहण का दृश्य क्षेत्र दक्षिणी-पश्चिमी यूरोप, उत्तरी अमेरिका के अधिकांश हिस्सों, दक्षिणी-पश्चिमी एशिया, प्रशांत महासागर, हिंद महासागर, अफ्रीका, दक्षिण अमेरिका, अटलांटिक और अंटार्कटिका रहेगा। ग्रहण वाले दिन बुद्ध पूर्णिमा भी पड़ रही है। चंद्र ग्रहण का सूतक ग्रहण लगने से ठीक 9 घंटे पहले ही शुरू हो जाता है।

चंद्र ग्रहण के दौरान इन मंत्रों का करें जाप (Chandra Grahan Mantra)

भगवान विष्णु मंत्र:
ऊं नमो भगवते वासुदेवाय

भगवान शिव के मंत्र:
-ऊं तत्पुरुषाय विद्महे, महादेवाय धीमहि, तन्नो रूद्रः प्रचोदयात
-ॐ हौं जूं स: ॐ भूर्भुव: स्व: ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम् उर्वारुकमिव बन्धनान्
मृत्योर्मुक्षीय मामृतात् ॐ स्व: भुव: भू: ॐ स: जूं हौं ॐ !!
-ॐ नमः शिवाय

शत्रुओं से मुक्ति के लिए:
ॐ ह्लीं बगलामुखी देव्यै सर्व दुष्टानाम वाचं मुखं पदम् स्तम्भय जिह्वाम कीलय-कीलय बुद्धिम विनाशाय ह्लीं ॐ नम:

लक्ष्मी प्राप्ति के लिए तांत्रिक मंत्र:
ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं ऐं ॐ स्वाहा:

नौकरी-व्यापार बढ़ाने के लिए:
ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद-प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्म्यै नम:

चंद्रग्रहण मंत्र गर्भवती स्त्रियों के लिए:
ऊं क्लीं देवकीसुत गोविंद वासुदेव जगत्पते
देहि मे तनयं कृष्णं त्वामहं शरणं गतः क्लीं ऊं
कुछ अन्य मंत्र:
-ॐ श्रां श्रीं श्रौं सः चन्द्रमसे नमः।
-ॐ सों सोमाय नमः
-ॐ चं चंद्रमस्यै नम:
-ॐ ऐं क्लीं सौमाय नामाय नमः।
-ॐ शीतांशु, विभांशु अमृतांशु नम:
यह भी पढ़ें

दो शुभ योगों में लगेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, जानें किन राशियों की किस्मत का खुलेगा ताला!

(डिस्क्लेमर: इस लेख में दी गई सूचनाएं सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। patrika.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ की सलाह लें।)

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Presidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस के निवास पहुंचे एकनाथ शिंदेMaharashtra Political Crisis: उद्धव के इस्तीफे पर नरोत्तम मिश्रा ने दिया बड़ा बयान, कहा- महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा का दिखा प्रभावप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने MSME के लिए लांच की नई स्कीम, कहा- 18 हजार छोटे करोबारियों को ट्रांसफर किए 500 करोड़ रुपएDelhi MLA Salary Hike: दिल्ली के 70 विधायकों को जल्द मिलेगी 90 हजार रुपए सैलरी, जानिए अभी कितना और कैसे मिलता है वेतनKangana Ranaut ने Uddhav Thackeray पर कसा तंज, कहा- 'हनुमान चालीसा बैन किया था, इन्हें तो शिव भी नहीं बचा पाएंगे'उदयपुर हत्याकांड: आरोपियों के कराची कनेक्शन पर पाकिस्तान की बेशर्मी, जानिए क्या बोलाUdaipur Murder: उदयपुर में हिंदू संगठनों का जोरदार प्रदर्शन, हत्यारों को फांसी दो के लगे नारे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.