scriptShani Transit 2022: Shani Sade Sati On Makar, Dhanu, Meen And Kumbh | 30 साल बाद घर वापसी कर रहे हैं शनि देव, जानें किन राशियों पर रहेगा शनि साढ़े साती का प्रभाव | Patrika News

30 साल बाद घर वापसी कर रहे हैं शनि देव, जानें किन राशियों पर रहेगा शनि साढ़े साती का प्रभाव

Shani Sade Sati 2022: शनि मकर और कुंभ राशि के स्वामी ग्रह माने जाते हैं। ये 24 जनवरी 2020 से ही मकर राशि में गोचर हैं। अब 29 अप्रैल 2022 में ये कुंभ राशि में प्रवेश करने जा रहे हैं।

नई दिल्ली

Updated: April 26, 2022 10:52:49 am

Shani Transit April 2022: शनि 29 अप्रैल को अपनी स्वराशि कुंभ में प्रवेश कर जायेंगे। जहां ये 29 मार्च 2025 तक विराजमान रहेंगे। इस अवधि में शनि कुछ राशि को बेहद शुभ परिणाम देंगे तो कुछ को अशुभ। ज्योतिष में शनि को न्याय प्रिय ग्रह माना जाता है जो कर्म और सेवा के कारक होने के साथ-साथ हर राशि के लोगों के कार्यक्षेत्र यानी नौकरी और व्यापार को प्रभावित करने का कार्य करते हैं। कुंडली में शनि की मजबूत स्थिति व्यक्ति को धनवान और समृद्धशाली बनाती है वहीं कमजोर स्थिति जीवन तमाम परेशानियों से भर देती है।

shani dev, shani sade sati 2022, shani transit 2022, shani transit april 2022, shani dhaiya 2022, shani gochar 2022,
30 साल बाद घर वापसी कर रहे हैं शनि देव, जानें किन राशियों पर रहेगा शनि साढ़े साती का प्रभाव

30 साल बाद हो रही है शनि की घर वापसी (Shani Transit 2022)

शनि मकर और कुंभ राशि के स्वामी ग्रह माने जाते हैं। ये 24 जनवरी 2020 से ही मकर राशि में गोचर हैं। अब 29 अप्रैल 2022 में ये कुंभ राशि में प्रवेश करने जा रहे हैं। ऐसा बताया जा रहा है कि शनि का इस राशि में गोचर करीब 30 सालों बाद हो रहा है।
शनि 29 अप्रैल 2022 को राशि बदलेंगे। फिर 5 जून को शनि वक्री हो जाएंगे। इसी दौरान 12 जुलाई को शनि पुन: मकर राशि में गोचर शुरू कर देंगे। जहां ये 17 जनवरी 2023 तक रहेंगे। फिर कुंभ में फिर प्रवेश कर जायेंगे।

29 अप्रैल 2022 में इस राशि वालों को शनि साढ़े साती से मिलेगा छुटकारा (Shani Sade Sati On Dhanu Rashi)

शनि के गोचर का वैसे तो सभी राशि वालों पर प्रभाव पड़ेगा। लेकिन इससे मुख्य रूप से वो राशियां प्रभावित होंगी जिन पर शनि साढ़े साती या शनि ढैय्या चल रही होगी। जानिए किस राशि वालों को इस दौरान शनि साढ़े साती से मिलेगी मुक्ति?
-29 अप्रैल को शनि के राशि परिवर्तन से धनु राशि के जातक कुछ समय के लिए शनि साढ़े साती से मुक्त हो जायेंगे। 29 अप्रैल से लेकर 12 जुलाई 2022 तक का समय धनु राशि वालों के लिए किसी वरदान से कम साबित नहीं होता। इस दौरान करियर में वृद्धि देखने को मिलेगी। लेकिन 12 जुलाई से धनु वाले फिर से शनि साढ़े साती की चपेट में आ जायेंगे।
-धनु राशि के लोग 12 जुलाई से लेकर 17 जनवरी 2023 तक शनि साढ़े साती की चपेट में रहेंगे। यानी इस राशि वालों को शनि साढ़े साती से पूर्ण रूप से मुक्ति साल 2023 में ही मिलेगी।
-12 जुलाई 2022 से लेकर 17 जनवरी 2023 तक धनु वालों को खास सावधानी बरतनी होगी। कार्यक्षेत्र में कष्टों से दो-चार होना पड़ सकता है।

शनि गोचर से इस राशि पर शुरू होगी शनि साढ़े साती (Shani Sade Sati 2022)

वैदिक ज्योतिष में शनि को सबसे धीमी गति से चलने वाला ग्रह माना जाता है। शनि एक राशि में लगभग ढाई साल तक रहते हैं। ज्योतिष में शनि की साढ़े साती के तीन चरणों का उल्लेख किया गया है। जिसमें हर चरण की अवधि ढाई साल की होती है। जानिए कुंभ राशि में शनि के गोचर से किन राशि के लोगों पर शनि साढ़े साती का कौन सा चरण शुरू हो जाएगा।
मकर राशि: 29 अप्रैल 2022 से 11 जुलाई 2022 तक इस राशि वालों पर शनि साढ़े साती का आखिरी चरण रहेगा। 12 जुलाई से 17 जनवरी 2023 तक आप पर शनि साढ़े साती का दूसरा चरण रहेगा। फिर 17 जनवरी 2023 से मकर वालों पर फिर से शनि साढ़े साती का आखिरी चरण शुरू हो जाएगा।
कुंभ राशि: शनि इसी राशि में प्रवेश करने जा रहे हैं। इसलिए इस राशि वालों पर शनि साढ़े साती का सबसे ज्यादा प्रभाव देखने को मिलेगा। आपको विशेष सावधानी बरतनी होगी। 29 अप्रैल 2022 से 11 जुलाई 2022 तक आप पर शनि साढ़े साती का दूसरा चरण रहेगा। फिर 12 जुलाई 2022 से लेकर 17 जनवरी 2023 तक आप फिर से शनि साढ़े साती के पहले चरण में चले जायेंगे।
मीन राशि: इस राशि वालों पर 29 अप्रैल 2022 से शनि साढ़े साती शुरू हो जाएगी। 11 जुलाई तक आप पर शनि साढ़े साती का पहला चरण रहेगा। लेकिन 12 जुलाई से लेकर 17 जनवरी 2023 तक की अवधि में आप शनि साढ़े साती से मुक्त रहेंगे।
यह भी पढ़ें

Astrology: ज्योतिष अनुसार अच्छे बेटे और दामाद साबित होते हैं इन राशियों के लड़के

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान में 26 से फिर होगी झमाझम बारिश, यहां बरसेगी मेहरबुध ने रोहिणी नक्षत्र में किया प्रवेश, 4 राशि वालों के लिए धन और उन्नति मिलने के बने योगबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयपनीर, चिकन और मटन से भी महंगी बिक रही प्रोटीन से भरपूर ये सब्जी, बढ़ाती है इम्यूनिटीबेहद शार्प माइंड के होते हैं इन राशियों के बच्चे, सीखने की होती है अद्भुत क्षमतानोएडा में पूर्व IPS के घर इनकम टैक्स की छापेमारी, बेसमेंट में मिले 600 लॉकर से इतनी रकम बरामदझगड़ते हुए नहर पर पहुंचा परिवार, पहले पिता और उसके बाद बेटा नहर में कूदा3 हजार करोड़ रुपए से जबलपुर बनेगा महानगर, ये हो रही तैयारी

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: 24 घंटे के अंदर ही अपने बयान से पलट गए एकनाथ शिंदे, बोले- हमारे संपर्क में नहीं है कोई नेशनल पार्टीकांग्रेस नेता ने शिवसेना के बागी विधायकों से असम छोड़ने का किया अनुरोध, कहा- आपकी उपस्थिति राज्य को कर रही बदनामMaharashtra Political Crisis: उद्धव ठाकरे ने शिंदे खेमे को फटकारा, बोले- मेरे गर्दन और सिर में दर्द था, मैं अपनी आंखें नहीं खोल पा रहा था...Bharat NCAP: कार में यात्रियों की सेफ़्टी को लेकर नितिन गडकरी ने कर दिया ये बड़ा काम, जानिए क्या होगा इससे फायदा2-3 जुलाई को हैदराबाद में BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक, पास वालों को ही मिलेगी इंट्री, सुरक्षा के कड़े इंतजामMumbai News Live Updates: शिवसेना ने कल पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़ेंगे उद्धव ठाकरेनीति आयोग के नए CEO होंगे परमेश्वरन अय्यर, 30 जून को अमिताभ कांत का खत्म हो रहा है कार्यकालCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.