scriptShiva Puja: Always Remember These Things While Worshiping Lord Shiva | शास्त्रों में शिव पूजन का है खास महत्व, लेकिन भोलेनाथ की पूजा में इन बातों का रखें विशेष ध्यान | Patrika News

शास्त्रों में शिव पूजन का है खास महत्व, लेकिन भोलेनाथ की पूजा में इन बातों का रखें विशेष ध्यान

Shiva Puja Rules: शास्त्रों के अनुसार भोलेनाथ अपने भक्तों पर प्रसन्न होकर उनकी सभी इच्छाएं शीघ्र पूरी करते हैं और जीवन के कष्टों से मुक्ति दिलाते हैं। आइए जानते हैं भोलेनाथ की कृपा पाने के लिए उनकी पूजा में किन बातों का विशेष ध्यान रखना जरूरी है...

नई दिल्ली

Updated: May 10, 2022 01:13:42 pm

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार सभी देवों में भगवान शिव को प्रसन्न करना सबसे आसान होता है। मान्यता है कि भगवान भोलेनाथ अपने भक्तों पर प्रसन्न होकर उनकी सभी इच्छाएं शीघ्र पूरी करते हैं और जीवन के कष्टों से मुक्ति दिलाते हैं। वहीं शास्त्रों में शिव पूजा को बहुत खास माना गया है। शिव पुराण में भी भगवान भोलेनाथ की प्रिय वस्तुओं के बारे में बताया गया है। तो आइए जानते हैं भोलेनाथ की कृपा पाने के लिए उनकी पूजा में किन बातों का विशेष ध्यान रखना जरूरी है...

1. नारियल पानी न चढ़ाएं
यूं तो पूजा-पाठ, हवन और प्रसाद के रूप में नारियल का इस्तेमाल किया जाता है। परंतु शास्त्रों के अनुसार नारियल को लक्ष्मी मां का स्वरूप माना जाने के कारण भगवान शिव के अभिषेक में नारियल पानी का उपयोग उचित नहीं माना गया है।

SHIV PUJA RULES, ASTROLOGY, shiv puja rituals, bholenath ki puja kaise karen, shiv puja procedure, शिव पूजन विधि, शिव पूजा में क्या-क्या चढ़ाना चाहिए, शिव पूजन सामग्री, शिवलिंग पर क्या नहीं चढ़ाना चाहिए, shiv ji ki parikrama kaise karni chahie, शिव पूजा से लाभ, shankh in shiv puja, nariyal pani on shivling,
शास्त्रों में शिव पूजन का है खास महत्व, लेकिन भोलेनाथ की पूजा में इन बातों का रखें विशेष ध्यान

2. केतकी और केवड़े के फूल
भगवान शिव को पूजा में केवड़े और केतकी के फूल अर्पित करना भी निषेध माना गया है। बता दें कि भगवान शिव को कनेर और कमल के फूल बहुत प्रिय हैं।

3. पूरी परिक्रमा न लगाएं
शास्त्रों के अनुसार भगवान शिव की कभी भी पूरी परिक्रमा नहीं की जाती। शिवलिंग के बाएं तरफ से परिक्रमा शुरू करके जहां से चढ़ाया हुआ जल बाहर निकलता है वहां तक खत्म करके वापस लौट आना चाहिए। माना जाता है कि शिवलिंग पर चढ़ाए हुए जल को कभी भी मांगना नहीं चाहिए।

4 शंख न बजाएं
पौराणिक मान्यता के अनुसार शंख को शंखचूड़ असुर का अंश माना जाता है जिसका वध भगवान शिव ने किया था। इसलिए शिव पूजा में शंख बजाने की भी मनाही है।

5. साबुत अक्षत चढ़ाएं
भगवान भोलेनाथ पर अक्षत अर्पित करना बहुत शुभ माना गया है परंतु इस बात का विशेष ध्यान रखें कि अक्षत के दाने टूटे हुए नहीं होने चाहिएं। शास्त्रों के अनुसार टूटा हुआ चावल अपवित्र और अपूर्ण माना जाता है जिसका पूजा में इस्तेमाल करना सही नहीं होता।

यह भी पढ़ें

हस्तरेखा शास्त्र: भाग्यशाली व्यक्ति की पहचान होती है हाथ की उंगलियों पर तिल होना, जानें हथेली के ये तिल किन बातों की ओर करते हैं इशारा

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल'इज ऑफ डूइंग बिजनेस' के मामले में 7 राज्यों ने किया बढ़िया प्रदर्शन, जानें किस राज्य ने हासिल किया पहला रैंक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.