scriptMost Special yog this time on karva chauth 2021, know what is it | Karwa Chauth 2021 : मनचाहे जीवनसाथी के लिए इस करवा चौथ पर बन रहा है चंद्र और शुक्र का विशेष योग | Patrika News

Karwa Chauth 2021 : मनचाहे जीवनसाथी के लिए इस करवा चौथ पर बन रहा है चंद्र और शुक्र का विशेष योग

प्रेम जीवन और साथी का चुनाव करने में ये महत्वपूर्ण भूमिका

भोपाल

Updated: October 23, 2021 11:27:06 am

हिंदू कैलेंडर के अनुसार कार्तिक महीने में करवा चौथ का चंद्रमा आता है। इस चंद्रमा को भगवान शिव और उनके पुत्र भगवान गणेश का रूप कहा जाता है।

दरअसल करवा चौथ का त्योहार भारत के अधिकांश हिस्सों में विवाहित महिलाओं द्वारा अपने पति के अच्छे स्वास्थ्य और लंबी उम्र के साथ वैवाहिक सुख के लिए मनाया जाता है।

karwa chouth why its so special
karwa chouth 2021

पंडित सुनील शर्मा के अनुसार वहीं कुछ युवतियां भी मनचाहा जीवनसाथी पाने के लिए यह व्रत रखती हैं। इस दिन मुख्य रूप से चंद्रमा और भगवान कार्तिकेय के साथ भगवान शिव और देवी पार्वती की भी पूजा की जाती है। विवाहित महिलाओं के साथ-साथ अविवाहित लड़कियों द्वारा मनाया जाने वाला गौरी पूजन इस दिन बहुत महत्व रखता है।

karwa chouth 2021 Special

कहा जाता है कि करवा चौथ क़े दिन चंद्रमा की पूजा करने का अर्थ है देवताओं की पूजा करना। ज्योतिष में भी चंद्र को मन का कारक मन गया है, ऐसे में चंद्रमा का विचारों पर सीधा नियंत्रण होता है और प्रेम जीवन और साथी का चुनाव करने में ये महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

इसी तरह शुक्र प्रेम और रोमांस का ग्रह माना जाता है। यह विवाह को भी दर्शाता है। मान्यता है कि जब शुक्र और चंद्रमा किसी भी रूप में जुड़े होते हैं, तो यह हमें एक प्यारा और आकर्षक जीवन साथी का आशीर्वाद देता है।

Must Read- Mars Effects- मंगल के राशि परिवर्तन के साथ देश का ये रूप देख चौंक जाएंगे सभी

इस बार करवा चौथ क्यों है खास
ऐसे में इस वर्ष यानि 2021 में करवा चौथ रविवार, 24 अक्टूबर को मनाया जाएगा। इस दिन चंद्रमा की स्थिति अत्यधिक शुभ है क्योंकि यह वृषभ राशि (शुक्र के स्वामित्व की राशि ) में अपनी उच्च राशि में स्थित है। इस दिन एक-दूसरे पर परस्पर दृष्टि के कारण चंद्रमा और शुक्र का संबंध मजबूत होगा, जो प्रेम और सौंदर्य के लिए अत्यधिक अनुकूल योग है।

Must Read- Karwa Chauth Moon Rise 2021 - आपके शहर में करवा का चांद कितने बजे दिखेगा

Karwa Chauth 2021
IMAGE CREDIT: Health Tips

करवा चौथ के दिन चंद्रमा रोहिणी नक्षत्र में रहेगा। वहीं शाम को चंद्रोदय के समय चंद्रमा शुक्र के उपनक्षत्र में होगा। रोहिणी नक्षत्र प्रजनन क्षमता और विचारों को ले जाने की क्षमता को दर्शाता है। मान्यता है कि ब्रह्मा जी रोहिणी को एक रचनात्मक प्रकृति प्रदान करते हैं। जिसके कारण रोहिणी नक्षत्र के प्रभाव में आने वाले लोगों में खास परिवर्तन होता है और वे अपने आकर्षण का उपयोग दूसरों का ध्यान आकर्षित करने के लिए करते हैं।

Must read- karwa chauth 2021 : करवा चौथ पर ये काम हैं वर्जित

इस तारे की प्रकृति हमारे विचारों और रचनात्मकता को व्यक्त करके लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करती है। चंद्रमा और शुक्र का ग्रह प्रभाव इस नक्षत्र को ग्रहणशीलता और पोषण के स्त्री गुण प्रदान करता है।

ऐसे में मन जा रहा है कि इस साल 2021 में करवा चौथ मनाने से उन लोगों के जीवन में प्यार और खुशी आएगी जो पहले से ही एक रोमांटिक रिश्ते में हैं, जो शादीशुदा हैं और साथ ही साथ अपने प्रेमी जीवन में समस्याओं का सामना कर रहे हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Health Tips: रोजाना बादाम खाने के कई फायदे , जानिए इसे खाने का सही तरीकातत्काल पैसों की जरुरत है? तो जानिए वो 25 बैंक जो दे रहे हैं सबसे सस्ता Personal LoanPriyanka Chopra Surrogacy baby: तस्लीमा ने वेश्यावृत्ति, बुरका से की सरोगेसी की तुलनाराजस्थान में आज भी बरसात के आसार, शीतलहर के साथ फिर लौटेगी कड़ाके की ठंडJhalawar News : ऐसा क्या हुआ कि गुस्से में प्रधानाचार्य ने चबाया व्याख्याता का पंजामां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतAaj Ka Rashifal - 23 January 2022: सिंह राशि वालों के मन में प्रसन्नता रहेगीMaruti की इस सस्ती 7-सीटर कार के दीवाने हुएं लोग, कंपनी ने बेच दी 1 लाख से ज्यादा यूनिट्स, कीमत 4.53 लाख रुपये

बड़ी खबरें

राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार के विजेताओं से पीएम मोदी ने किया संवाद, 'वोकल फॉर लोकल' के लिए मांगी बच्चों की मददब्रेंडन टेलर का खुलासा, इंडियन बिजनेसमैन ने किया ब्लैकमेल; लेनी पड़ी ड्रग्ससंसद में फिर फूटा कोरोना बम, बजट सत्र से पहले सभापति नायडू समेत अब तक 875 कर्मचारी संक्रमितकर्नाटक में कोविड के 50 हजार नए मामले आने के बाद भी सरकार ने हटाया वीकेंड कर्फ्यू, जानिए क्या बोले सीएमRepublic Day 2022 parade guidelines: बिना टीकाकरण और 15 साल से छोटे बच्चों को परेड में नहीं मिलेगी इजाजतभारत दुनिया को खिला रहा ककड़ी-खीरा, बना सबसे बड़ा निर्यातक, किया इतने करोड़ का निर्याततीसरी लहर का सबसे डरावना ट्रेंड, बर्बाद कर रही फेफड़े, 40 फीसदी तक संक्रमणइलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय 28 तक बंद, UG , PG क्लास को लेकर नया सर्कुलर जारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.