scriptNever Do These 6 Things In Navratri Which Are Considered Inauspicious | Chaitra Navratri 2022: मनोवांछित फल की इच्छा रखने वाले नवरात्रि में गलती से भी ना करें ये 6 काम | Patrika News

Chaitra Navratri 2022: मनोवांछित फल की इच्छा रखने वाले नवरात्रि में गलती से भी ना करें ये 6 काम

Chaitra Navratri 2022: ज्योतिष शास्त्र और धार्मिक मान्यताओं के अनुसार जिस घर में माता की चौकी रखी जाती है और जो भक्त 9 दिनों तक व्रत करते हैं, उन्हें नवरात्रि में कुछ नियमों का पालन करना भी जरूरी होता है। अन्यथा मां अम्बे नाराज हो सकती हैं।

नई दिल्ली

Updated: April 02, 2022 08:08:01 am

कहा जाता है कि नवरात्रि के पवित्र दिनों में जो भक्त संपूर्ण श्रद्धा और नियमों से पूजा-पाठ करता है, मां भगवती उसे सौभाग्य और आरोग्य का आशीर्वाद देती हैं। 9 दिनों में शक्ति के नौ अलग-अलग रूपों की उपासना से सभी मानसिक और शारीरिक कष्टों से मुक्ति मिलती है। साथ ही ज्योतिष शास्त्र और धार्मिक मान्यताओं के अनुसार जिस घर में माता की चौकी रखी जाती है और जो भक्त 9 दिनों तक व्रत करते हैं, उन्हें नवरात्रि में कुछ नियमों का पालन करना भी जरूरी होता है। अन्यथा मां अम्बे नाराज हो सकती हैं। तो आइए जानते हैं माता रानी की कृपा अपने ऊपर बनाए रखने के लिए आपको नवरात्रि में कौन से काम नहीं करनी चाहिएं...

Happy Chaitra Navratri 2022, chaitra navratri 2022 april, navratri puja, maa durga puja, चैत्र नवरात्रि 2022, ज्योतिष शास्त्र, नवरात्रि में क्या न करें, नवरात्रि पूजा नियम, विधि, चैत्र नवरात्रि के नियम,
Chaitra Navratri 2022: मनोवांछित फल की इच्छा रखने वाले नवरात्रि में गलती से भी ना करें ये 6 काम

1. नवरात्रि के पवित्र दिनों में व्रत करने वाले व्यक्ति के अलावा अन्य लोगों को भी बिना स्नान किए कुछ भी खाना-पीना नहीं चाहिए। स्नान आदि से निवृत होने और मां दुर्गा की पूजा करने के बाद ही कुछ भी खाएं पिएं।

2. शास्त्रों के अनुसार नवरात्रि में सिलाई-कढ़ाई का काम करना भी शुभ नहीं माना जाता है क्योंकि इस कार्य में नुकीली चीजों का इस्तेमाल होता है। और 9 दिनों तक धारदार या नुकीली चीजों का उपयोग वर्जित होता है।

3. जो व्यक्ति दुर्गा सप्तशती, दुर्गा चालीसा पढ़ता है या मंत्रों का जाप करता है उसे इस दौरान कोई दूसरी बात बिल्कुल नहीं बोलनी चाहिए और ना ही अपना ध्यान कहीं और भटकने देना चाहिए। क्योंकि मान्यता है कि ऐसा करने से आपके पाठ का फल नकारात्मक शक्तियां ले जाती हैं।

4. नवरात्रि की समय व्यक्ति को तन और मन दोनों से संयम बनाए रखना बहुत जरूरी होता है। इसलिए इन नौ दिनों में व्यक्ति को अपनी काम भावना पर नियंत्रण रखते हुए महिला और पुरुष दोनों को ही ब्रह्मचर्य का पालन करना आवश्यक होता है।

5. कहा जाता है कि मां दुर्गा का वास उसी घर में होता है जहां सुख-शांति और परिवारीजनों में प्रेम होता है। इसलिए मां दुर्गा को प्रसन्न करने के लिए नवरात्रि के दिनों में परिवार के सदस्यों को किसी भी लड़ाई-झगड़े या ग्रह-कलेश से बचना चाहिए।

6. जो लोग नवरात्र व्रत रखते हैं उन्हें 9 दिनों तक बिल्कुल भी नमक और अनाज का सेवन नहीं करना चाहिए। नवरात्र में व्रत खोलते समय आप खाने में सिंघाड़े और कुट्टू का आटा, साबूदाने की खिचड़ी, फल, दही, सेंधा नमक, आलू, सूखे मेवे, मूंगफली आदि खा सकते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मामले के बीच गोवा के सीएम का बड़ा बयान, प्रमोद सावंत बोले- 'जहां भी मंदिर तोड़े गए फिर से बनाए जाएं'BJP को सरकार बनाने के लिए क्यों जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारीआक्रांताओं द्वारा तोड़े गए मंदिरों के बारे में बात करना बेकार है: सद्गुरुबेल्जियम, पहला देश जिसने मंकीपॉक्स वायरस के लिए अनिवार्य किया क्वारंटाइनएशिया कप हॉकी: पहले ही मैच में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान, ऐसा है दोनों टीमों का रिकॉर्डआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट की बात कर रहे हैं, जानें क्या है यह एक्टकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थितिअफगानिस्तान के काबुल में भीषण धमाका, तालिबान के पूर्व नेता की बरसी पर शोक मना रहे लोगों को बनाया गया निशाना
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.