scriptpanchak august 2022 date and time: never do these work during panchak kaal | August Panchak 2022: रक्षाबंधन के अगले दिन से लगेगा पंचक, पांच दिनों तक ना करें इन कार्यों को करने की गलती | Patrika News

August Panchak 2022: रक्षाबंधन के अगले दिन से लगेगा पंचक, पांच दिनों तक ना करें इन कार्यों को करने की गलती

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार पंचक के दौरान कुछ खास कामों को करने की मनाही है। इस साल अगस्त महीने में राखी के अगले दिन से पंचक की शुरूआत होगी।

नई दिल्ली

Updated: August 04, 2022 02:46:31 pm

अगस्त पंचक 2022: हिंदू धार्मिक मान्यताओं के अनुसार किसी भी मांगलिक काम को करने से पहले शुभ मुहूर्त, वार, तिथि आदि का ध्यान रखा जाता है ताकि काम बिना किसी विघ्न के पूरा हो सके। ज्योतिष शास्त्र में पंचांग के आधार पर शुभ मुहूर्त की गणना की जाती है। वहीं कुछ ऐसी तिथियां और समय हैं जिस दौरान कोई भी शुभ काम करने की मनाही है।

ज्योतिष के जानकारों के मुताबिक पंचक भी इसमें शामिल है। पंचांग के अनुसार नक्षत्रों के मेल से बनने वाले खास योग को पंचक कहा जाता है। अर्थात पंचक उस समय को कहते हैं जब चंद्रमा कुंभ और मीन राशि में होता है। मान्यता है कि इस दौरान अशुभ प्रभावों से बचने के लिए कुछ ऐसे विशेष काम हैं जिन्हें नहीं करना चाहिए। तो आइए जानते हैं इस साल अगस्त के महीने में कब से कब तक पंचक लग रहा है और इस दौरान किन कार्यों को करने से बचें...

panchak august 2022, august me panchak kab hai 2022, 12 august 2022 panchang, panchak me kya kya kaam nahi karna chahiye, things prohibited in panchak, what not to do in panchak,
August Panchak 2022: रक्षाबंधन के अगले दिन से लगेगा पंचक, पांच दिनों तक ना करें इन कार्यों को करने की गलती

अगस्त पंचक 2022
पंचांग के अनुसार, अगस्त महीने में पंचक की शुरुआत रक्षाबंधन के अगले दिन 12 अगस्त, शुक्रवार को दोपहर 2:49 बजे से होगी जो 16 अगस्त, मंगलवार को रात्रि 9:07 बजे तक रहेगा।

पंचक में ये काम न करें
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार पंचक काल में दक्षिण दिशा की तरफ यात्रा करना, घास या लकड़ी का सामान घर में लाना और बनवाना, घर की छत डलवाना, खाट बुनना तथा घर को पेंट करवाने की सख्त मनाही है।

कैसे लगता है पंचक?
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जब चन्द्र ग्रह का धनिष्ठा नक्षत्र के तृतीय चरण और शतभिषा, पूर्वाभाद्रपद, उत्तराभाद्रपद तथा रेवती नक्षत्र के चारों चरणों में भ्रमण होता है तब उस समय को पंचक काल कहा जाता है। यानि कि चंद्र का कुम्भ तथा मीन राशि में भ्रमण पंचकों को जन्म देता है।

यह भी पढ़ें

Hastrekha Shastra: जीवन में पद-प्रतिष्ठा और धन सब मिलने का संकेत देता है हथेली का ये निशान

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon : राजस्थान में 3 अगस्त से बारिश का नया सिस्टम, पूरे प्रदेश में होगी झमाझमNSA डोभाल की मौजूदगी में बोले मुस्लिम धर्मगुरु- 'सर तन से जुदा' हमारा नारा नहीं, PFI पर प्रतिबंध की बनी सहमतिकीमत 4.63 लाख रुपये से शुरू और देती हैं 26Km का माइलेज! बड़ी फैमिली के परफेक्ट हैं ये सस्ती 7-सीटर MPV कारेंराजस्थान में भारी बारिश का दौर जारी, स्कूलों की तीन दिन की छुट्टी, आज इन जिलों में झमाझम की चेतावनीWeather Update: राजस्थान में झमाझम बारिश को लेकर अब आई ये खबरराजस्थान में आज यहां होगी बारिश, एक सप्ताह तक के लिए बदलेगा मौसमएमपी में 220 करोड़ से बनेगा 62 किमी लंबा बायपास, कम हो जाएगी कई शहरों की दूरी, जारी हो गए टेंडरसरकारी नौकरी लगवा देंगे कहकर 10 युवाओं को लगाई 75 लाख रुपए की चपत, 2 गिरफ्तार

बड़ी खबरें

ED के एक्शन को लेकर संसद में हंगामा, मल्लिकार्जुन खड़गे और पीयूष गोयल के बीच हुई बहसMaharashtra Politics: उद्धव ठाकरे को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत, EC से कहा-'असली शिवसेना' के दावे पर न लें कोई फैसलाPLA War Drill: चीनी सेना ने पेलोसी के निकलते ही शुरू की लाइव फायरिंग, युद्धपोतों ने ताइवान को छह तरफ से घेराट्विन टावर्स में दस हजार जगह लगाया जाएगा 3700 किग्रा विस्फोटक, दक्षिण अफ्रीका के पहुंचे इंजीनियरDrug Racket Busted: मुंबई में बड़े ड्रग्स रैकेट का भंडाफोड़, 1400 करोड़ रुपये की MD ड्रग्स जब्त; पांच गिरफ्तारपत्नी रेणुका संग बीजेपी में शामिल हुए कुलदीप बिश्नोई, दूसरी बार छोड़ा कांग्रेस का साथजस्टिस यूयू ललित हो सकते हैं देश के अगले मुख्य न्यायाधीश, CJI रमना ने केंद्र से की सिफारिश'जो करना है कर लें, हम PM मोदी से डरने वाले नहीं', बीजेपी पर राहुल गांधी ने साधा निशाना
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.