रीवा के चिकित्सक ने सीधी के चुरहट में की आत्महत्या, जानिए क्यों था परेशान

चुरहट अस्पताल में पदस्थ था रीवा निवासी डॉक्टर, फांसी लगाकर की गई खुदकुशी के बाद चर्चाओं का बाजार गर्म, विगत माह नर्स के साथ छेड़छाड़ की शिकायत पर पुलिस ने किया था मामला दर्ज

By: Balmukund Dwivedi

Updated: 27 Jan 2019, 11:46 PM IST

रीवा. सीधी जिले के चुरहट सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ डॉ. शिवम मिश्रा ने अपने सरकारी बंगले में खुद की तौलिया से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। रविवार सुबह दूसरे डॉक्टर की सूचना पर डायल 100 टीम बंगले पर पहुंची तो खुदकुशी का खुलासा हुआ। इसके बाद परिजनों की सूचना भेजी गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए रवाना कर पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस की मानें तो शनिवार रात 10-12 के बीच आत्महत्या की गई है।

रीवा के द्वारिका नगर का निवासी
डॉ. शिवम मिश्रा पिता एलएम मिश्रा (२९) मूल रूप से रीवा के द्वारिका नगर के रहने वाले थे। करीब एक साल से चुरहट में पदस्थ थे। रविवार को निर्धारित समय पर अस्पताल नहीं पहुंचे तो प्रभारी डॉक्टर डॉ. एसके वर्मा ने किसी काम को लेकर एक कर्मचारी को उनके बंगले पर भेजा। कर्मचारी ने दरवाजा खुलवाने का काफी प्रयास किया पर नहीं खुला। कोई चहल-पहल नहीं होने पर वह वापस लौटा और डॉक्टर वर्मा को बताया। इसके बाद डॉॅ. वर्मा ने मोबाइल पर कॉल कर संपर्क करने का प्रयास किया। लंबे समय तक कॉल रिसीव नहीं हुआ तो उन्होंने डायल १०० को सूचना दी। चुरहट पुलिस मौके पर पहुंची। वस्तु स्थिति को देखते हुए बंगले के पीछे की ओर से पुलिस अंदर पहुंची, तो डॉ. शिवम पंखे पर तौलिया का फंदा लगाकर आत्महत्या कर चुके थे। खुदकुशी की जानकारी लगते ही जिले के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। एसडीओपी चुरहट शैलेंद्र श्रीवास्तव, टीआइ रामबाबू चौधरी, सीएमएचओ डॉ. आरएल वर्मा, बीएमओ रामपुर तेजभान सिंह परिहार सहित अन्य पहुंचे और घटना की जानकारी परिजनों को दी। कुछ घंटे बाद परिजन पहुंचे और रीवा मेडिकल कॉलेज में पीएम कराने की बात रखी। इसे प्रशासन ने स्वीकार कर लिया। शव को मेडिकल कॉलेज के लिए भेज दिया गया।

नर्स ने लगाए थे गंभीर आरोप
चार माह पूर्व एक नर्स ने डॉ. शिवम पर छेड़छाड़ के गंभीर आरोप लगाए थे। मामले में पुलिस ने जांच के बाद एफआइआर भी दर्ज कर ली थी। चुरहट पुलिस के अनुसार डॉ. शिवम मिश्रा के ऊपर अपराध क्रमांक 02/2019 में धारा 354,323 आईपीसी, 3(2)(व्हीए) एससीएसटी एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया गया था। पुलिस जांच के दौरान चुरहट में पदस्थ नेत्र सहायक व एक कर्मचारी ने नर्स के पक्ष में बयान दिया था, जो उनके खिलाफ एफआइआर का बड़ा कारण बना था।मामले में कई बार समझौते का प्रयास भी किया गया, लेकिन समझौता नहीं हुआ।

दिनभर चर्चा, बंगले पर मजमा
डॉक्टर द्वारा आत्महत्या की बात सामने आने के बाद दिनभर चुरहट सहित पूरे क्षेत्र में चर्चा होती रही। लोग तरह-तरह की बातें भी करते रहे। इस दौरान उनके सरकारी बंगले में लोगों का मजमा भी लगा रहा। बड़ी संख्या में लोग मौके पर पहुंचते रहे।

आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं
डॉ. आरएल वर्मा, सीएमएचओ सीधी ने बताया कि डॉ. शिवम मिश्रा द्वारा आत्महत्या करने की जानकारी मिलने के बाद मौके पर गया था। आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। वास्तविक जानकारी पीएम रिपोर्ट मिलने के बाद ही सामने आएगी।

वास्तविक खुलासा पीएम रिपोर्ट के बाद
शैलेंद्र श्रीवास्तव, एसडीओपी चुरहट ने बताया कि डॉ. मिश्रा द्वारा सुबह 9 बजे के बाद आत्महत्या करने की सूचना मिली। शव को पोस्टमार्टम के लिए रीवा भेजा गया है। मौत के कारणों का वास्तविक खुलासा पीएम रिपोर्ट मिलने के बाद होगा। उनके विरुद्ध छेडख़ानी समेत एससीएसटी का मामला चुरहट थाना में दर्ज था।

Balmukund Dwivedi Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned