लॉक डाउन : मस्जिद में पढ़ी जा रही थी नमाज, पहुंच गई पुलिस

लॉक डाउन के बाद भी मस्जिद में नमाज का आयोजन, पुलिस ने दबिश देकर करीब आधा सैकड़ा लोगों को पकड़ा है। कार्रवाई से मचा हड़कंप।

 

By: Mahesh Singh

Published: 01 Apr 2020, 09:24 PM IST

रीवा. कोरोना संक्रमण के बाद सभी धार्मिक स्थानों को प्रशासन द्वारा बंद किये जाने के बाद शहर की विभिन्न मस्जिदों में नमाज पढ़ी जा रही थी। सूचना पर पुलिस ने दबिश देकर करीब आधा सैकड़ा लोगों को पकड़ा है। पुलिस ने शहर की दो अलग-अलग मस्जिदों में कार्रवाई की जिससे हड़कंप मच गया।

बताया गया है कि सांयकाल पुलिस अधीक्षक आबिद खान आबिद खान के नेतृत्व में फ्लैग मार्च निकाला जा रहा था जिसमें सीएसपी शिवेन्द्र सिंह, डीएसपी यातायात मनोज वर्मा सहित पूरे शहर के थानों का बल मौजूद रहा। भ्रमण के दौरान पुलिस को मस्जिदों में नमाज पढऩे की सूचना मिली थी जिस पर एसपी के नेतृत्व में पुलिस ने बिछिया मस्जिद में दबिश दी तो वहां से दस लोग पकड़े गए।

इसके बाद पुलिस ने सिटी कोतवाली थाने के घोघर तकिया मस्जिद में दबिश दी तो वहां करीब 36 लोग नमाज पढ़ते मिले। पुलिस सभी लोगों को पकड़कर सिटी कोतवाली व बिछिया थाने ले आई।उनके खिलाफ अब आदेश के उल्लंघन का मामला दर्ज किया जा रहा है। प्रशासन ने सभी धर्म प्रमुखों की बैठक लेकर कोरोना संक्रमण को देखते हुए सभी धार्मिक स्थानों में पूजा, नमाज रोकने की अपील की थी। इसके बाद भी इन मस्जिदों में नमाज पढ़ी जा रही थी।

लॉक डाऊन के बीच घूमने वाले 32 को पकड़ा
लॉक डाउन के बीच शहर में घूमने वाले दो दर्जन से अधिक लोगों को पुलिस ने पकड़ा है। बाइक में तफरी करने वाले करीब 32 लोगों को पकड़ा है जिनकी 6 0 मोटर साइकिलें जब्त की गई है। ये सभी युवक अनावश्यक शहर में घूमकर लॉक डाऊन का उल्लंघन कर रहे थे। पुलिस लॉक डाऊन का पालन कराने के लिए सख्ती से कार्रवाई कर रही है।
-----------------------
मस्जिदों में प्रतिबंध के बाद भी लोग नमाज पढ़ रहे थे। फ्लैग मार्च के दौरान सूचना मिलने पर आधा सैकड़ा के लगभग लोगों को पकड़ा गया है जिनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। अग्रिम आदेश तक भविष्य में मस्जिद में नमाज अदा नहीं करने की हिदायत दी जा रही है।
आबिद खान, एसपी रीवा

Corona virus
Mahesh Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned