बसपा MLC महमूद अली ने योगी सरकार पर लगाए गंभीर आरोप, बोले मेरे परिवार के खिलाफ की जा रही साजिश

इस बसपा नेता ने कहा कि मेरे पूरे परिवार के खिलाफ राजनीतिक साजिश रच रही योगी सरकार।

By:

Published: 19 Mar 2018, 08:42 PM IST

सहारनपुर। जिले के पूर्व विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) एवं बसपा नेता हाजी इक़बाल व उनके बेटों समेत 7 लोगों पर जमीन पर कब्‍जा करने पर दर्ज मुकदमे में एक नया मोड़ आ गया है। दरअशल मामला दर्ज होने के बाद पहली बार पूर्व एमएलसी के भाई व वर्तमान एमएलसी महमूद अली मीडिया से मुखातिब हुए। महमूद अली ने कहा कि जिस दिन की घटना दिखाकर केस दर्ज कराया गया है उस दिन पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल दुबई में और उनके बेटे देहरादून में थे।

यह भी पढ़ें-योगी सरकार का एक साल पूरा: इन महिलाओं की उम्मीदें नहीं हुईं पूरी, लगाए ये आरोप

इस बात के सबूत महमूद अली ने पुलिस अधिकारियों को देकर मामले की निष्पक्ष जांच कराने की गुहार लगाई है। मामले में मिर्ज़ापुर थाने में हथियारों के बल पर जमीन कब्जाने का मुकदमा दर्ज किया गया है। इतना ही नहीं महमूद अली ने भाजपा नेताओं पर राजनीतिक विद्वेष के चलते फंसाने का आरोप लगाया है। दरअसल थाना मिर्जापुर इलाके के गांव फतेहपुर निवासी पल्ला पुत्र साधूराम ने पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल उर्फ बाला, उनके पुत्र जावेद, वाजिद, अलीशान, अफजाल सहित नसीम और राव लईक के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट सहित जमीन कब्‍जाने को लेकर तमाम धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया था।

यह भी पढ़ें-गठबंधन से पहले खुद बिखरी कांग्रेस, नाराज नेता पार्टी के खिलाफ जाएंगे अदालत

पीड़ित पल्ला ने पुलिस को तहरीर देकर बताया था कि पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल उर्फ बाला ने भूमाफियाओं के साथ फर्जी कंपनियां बनाकर उसकी जमीन पर कब्जा कर लिया। पल्ला और परिवार के लोग चार मार्च को जब खेत पर गए तो हाजी इकबाल के परिवार ने हमला बोल दिया। पीड़ित ने आरोप लगाया है कि उन्‍हें जान से मारने की धमकी भी दी गई। पल्ला ने परिवार के साथ जैसे-तैसे से भागकर जान बचाई।

यह भी पढ़ें-पूर्व विधायिका ने सीएम योगी से की मुलाकात, अब इन युवाओं के लिए आ सकती है बड़ी खबर

इस पुराने मामले को लेकर अब एमएलसी का परिवार सामने आया है। पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल के भाई एवं बसपा के वर्तमान एमएलसी महमूद अली ने मीडिया के सामने अपना पक्ष रखा है। एमएलसी महमूद अली का कहना है कि उनको षड्यंत्र के तहत फंसाया जा रहा है। उन्‍होंने प्रदेश की भाजपा सरकार पर अपने परिवार के उत्‍पीड़न का भी आरोप लगाया।

आरोप लगाते हुए बसपा नेता ने कहा कि हमारा परिवार राजनीतिक परिवार है। बड़े भाई हाजी इकबाल बसपा के एमएलसी रहे हैं। भतीजा ग्लोकल यूनिवर्सिटी का वॉइस चांसलर (कुलपति) है, जबकि एक भाई ग्राम प्रधान है। वह खुद जिला पंचायत का चुनाव भी लड़ चुके हैं। उनके खिलाफ साजिश की जा रही है। उन्हें बेवजह परेशान किया जा रहा है। हालांकि पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल अभी भी अंडरग्राउंड ही है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned