1505 कराेड़ की लागत से बनेगा सहारनपुर-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग, शिलान्यास काे पहुंच रहे सीएम याेगी आैर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी

shivmani tyagi | Publish: Sep, 09 2018 10:34:02 AM (IST) Saharanpur, Uttar Pradesh, India

1505 कराेड़ की लागत से बनेगा 124.18 किलाेमीटर लंबा (NH-709B) राष्ट्रीय राज मार्ग 18 माह में हाेगा निर्माण कार्य पूरा

सहारनपुर।

चुनाव 2019 की तैयारी में जुटी भाजपा ने यूपी आैर दिल्ली के लाेगाें का लुभाने के लिए सहारनपुर-दिल्ली हाईवे का रास्ता साफ कर दिया है। 1505 करोड़ की लागत से यह हाईवे 18 महीने में तैयार होगा। इस हाईवे के निर्णाण कार्य का शिलान्यास करने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री याेगी आदित्यनाथ आैर सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी 11 सितंबर काे सहारनपुर पहुंच रहे हैं। भाजपा के इन दाे दिग्गजाें के सहारनपुर पहुंचने के प्राेग्राम से पहले प्रदेश आैर केंद्र स्तर के भाजपाईयाें ने सहारनपुर में डेरा डाल लिया है।

 

सहारनपुर उत्तर प्रदेश के अंतिम जिले सहारनपुर और देश की राजधानी दिल्ली का सफर अब महज 2 घंटे का रह जाएगा। सहारनपुर से दिल्ली के बीच नेशनल हाईवे का काम शुरू होने जा रहा है। 1505 करोड रुपए की लागत से तैयार होने वाले इस हाईवे का शिलान्यास करने के लिए खुद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी सहारनपुर पहुंच रहे हैं। 11 सितंबर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के सहारनपुर पहुंचने काे लेकर तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। मुख्यमंत्री की सुरक्षा वाली टीम ने भी सहारनपुर में डेरा डाल लिया है। चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम किए जा रहे हैं। सहारनपुर के सांसद राघव लखन पाल समेत विधायकों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके इस प्राेग्राम की जानकारी दी। बताया कि, शिलान्यास कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और कैबिनेट मंत्री सूर्य प्रताप शाही भी मौजूद रहेंगे। सांसद राघव लखनपाल शर्मा ने प्रेस कांफ्रेंस के दाैराना बताया कि 1505 करोड रुपए की लागत से बनने वाले सहारनपुर दिल्ली हाईवे का काम महज 18 महीने में पूरा कर लिया जाएगा। बाेले कि, हाईवे के बनने के बाद बहुत ही कम टोल टैक्स लोगों से लिया जाएगा और इस टोल टैक्स की अवधि भी बेहद कम होगी । यह टोल टैक्स कुछ ही समय के लिए वसूला जाएगा। इस हाईवे के बनने के बाद सहारनपुर यानी उत्तर प्रदेश के अंतिम जिले की दूरी देश की राजधानी दिल्ली से महज 2 घंटे रह जाएगी। सांसद ने कहा कि किस हाई वे के बनने के बाद सहारनपुर में रोजगार और निवेश के नए रास्ते खुलेंगे और सहारनपुर का विकास होगा। प्रेस कांफ्रेस में सांसद के अलावा प्रदेश उपाध्यक्ष जसवंत सैनी, जिलाध्यक्ष बिजेंद्र कश्यप, मेयर संजीव वालिया, रामपुर मनिहारान क्षेत्र से विधायक देवेंद्र निम, देवबंद क्षेत्र से विधायक कुंवर ब्रिजेश, गंगाेह विधान सभा क्षेत्र से विधायक प्रदीप चाैधरी मुख्य रूप से माैजूद रहे।

Ad Block is Banned