नाेएडा में बाल सुधार गृह के आइसोलेशन वार्ड का दरवाजा तोड़कर तीन बाल अपचारी फरार

राजकीय बाल संप्रेक्षण गृह से लोहे का दरवाजा मोड़कर तीन बाल अपचारी फरार हो गए। इनमें से दाे काे पुलिस ने पकड़ लिया लेकिन एक का पता नहीं चल सका।

By: shivmani tyagi

Updated: 02 Aug 2020, 11:08 PM IST

नोएडा। थाना फेज-2 क्षेत्र की पुरानी कचहरी के पास स्थित राजकीय बाल संप्रेक्षण गृह से लोहे का दरवाजा मोड़कर तीन बाल अपचारी फरार हो गए। पुलिस ( Noida Police) ने दाे को ताे पकड़ लिया लेकिन एक का पता नहीं चल रहा है।

यह भी पढ़ें: चिकित्सीय सेवा के लिए निजी चिकित्सालय व नर्सिंग होम को किसी अनुमति की जरूरत नहीं: CMO

एडिशनल डीसीपी सेंट्रल ने इसकी पुष्टि की है। उन्हाेंने बताया कि फेज-2 स्थित राजकीय बाल संप्रेक्षण गृह में कोरोना के मद्देनजर आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। यहां आने वाले बाल अपचारियों को कोविड-19 सुरक्षा के मद्देनजर पहले वहां रखा जाता है। सुरक्षा के लिहाज से उसमें लोहे की चादर का दरवाजा लगाया गया था।

यह भी पढ़ें: Dial 112 PRV पर बैठकर खिचवाया फोटो और कर दिया वायरल, पुलिस ने देखा तो कर दिया बुरा हाल

एक अगस्त की सुबह करीब चार बजे छह बाल अपचारी आइसोलेशन वार्ड के लोहे की चादर का दरवाजा मोड़कर वहां से फरार हो गए थे। समय रहते पुलिस ने तीन बाल अपचारियों को कुछ देर बाद ही पकड़ लिया लेकिन तीन बाल अपचारी फरार होने में कामयाब हो गए। इस बाबत संप्रेक्षण गृह के अधीक्षक की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर फरार बाल अपचारियों की तलाश शुरू की गई।

यह भी पढ़ें: Noida: बाल सुधार गृह से गेट तोड़कर फरार हुए तीन किशोर बंदी, दो को पुलिस ने फिर पकड़ा

एडिशनल डीसीपी सेंट्रल अंकुर अग्रवाल ने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने एक अगस्त की रात को NISZ मेट्रो स्टेशन के पास से एक बाल अपचारी को पकड़कर संरक्षण में ले लिया है। इस बाल अपचारी को 29 जुलाई को थाना बादलपुर थाने में दर्ज एक मामले में संरक्षण गृह में भेजा गया था। दो अगस्त को पुलिस ने भंगेल से दूसरे बाल अपचारी को भी संरक्षण में ले लिया। यह बाल अपचारी भी 29 जुलाई को दादरी थाने में दर्ज मुकदमे में संरक्षण गृह भेजा गया था, तीसरे की तलाश की जा ही है।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned