scriptSambhal News: आवारा पशुओं को भगाने के लिए बना रहा था गंधक पोटाश, विस्फोट में चली गई मासूम की जान | Innocent person lost his life in explosion in Sambhal | Patrika News
सम्भल

Sambhal News: आवारा पशुओं को भगाने के लिए बना रहा था गंधक पोटाश, विस्फोट में चली गई मासूम की जान

Sambhal News: यूपी के संभल जिले में मिक्सी में गंधक पोटाश पीसते समय धमाका हो गया। इस हादसे में एक मासूम बच्चे की मौत हो गई, जबकि दो लोग बुरी तरह घायल हो गए।

सम्भलJun 12, 2024 / 03:12 pm

Mohd Danish

Innocent person lost his life in explosion in Sambhal

Innocent person lost his life in explosion in Sambhal

Sambhal News Today: संभल में मिक्सी में गंधक पोटाश पीसते समय धमाका हो गया। धमाके की आवाज सुनकर आसपास के लोग इकट्ठे हो गए, इन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दी। मौके पर पुलिस फोर्स के साथ सीओ और एसडीएम भी पहुंच गए। उन्होंने परिवार से घटना की जानकारी ली और घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया।
जानकारी के अनुसार गंधक पोटाश से धमाका कर खेत से आवारा पशुओं को भगाने का काम किया जा रहा था। लेकिन जब घर में इसे पीसा जा रहा था तभी इसमें धमाका हो गया। धमाका इतनी तेज था कि पंखे तक क्षतिग्रस्त हो गए। चपेट में आने से एक बच्चे की जान चली गई और दो लोग घायल हो गए।
दरअसल, धनारी थाना इलाके के खजरा इनायतगंज गांव के निवासी साहब सिंह खेत से आवारा पशुओं को भगाने के लिए लोहे की नाल में भरकर गंधक पोटाश के धमाके का तरीका अपनाते थे। लेकिन गंधक पोटाश खत्म हो जाने के कारण साहब सिंह अपने घर में लोहे के तवे पर गंधक पोटाश पीस रहे थे। बाद में उन्होंने गंधक पोटाश को घर में रखी हुई मिक्सी में पीसना शुरू कर दिया। उनकी बेटी कविता अपने भाई के डेढ़ वर्षीय बच्चे गुरुवचन को गोदी में लेकर पोटाश को पिसता हुआ देख रही थी। साथ में भाई की बेटी एकता भी मौजूद थी।
इसी बीच मिक्सी में गंधक पोटाश पीसते समय धमाका हो गया। जिससे कमरे के अंदर धुआं भर गया। पंखे के परखच्चे उड़ गए। मौके पर चीख-पुकार मच गई। पास में मौजूद मासूम बच्चे की मां रजनी तेज धमाके की आवाज सुनकर कमरे की तरफ दौड़ी तो कमरे में धुएं का गुबार छाया हुआ था और बच्चे घायल हालत में जमीन पर पड़े हुए थे। साहब सिंह, डेढ़ वर्षीय गुरुवचन, कविता और एकता बुरी तरह घायल हो गए थे।
यह भी पढ़ें

लोकसभा चुनाव के बाद चली तबादला एक्सप्रेस, रामपुर में बड़ा फेरबदल

चीख-पुकार की आवाज सुन आसपास के ग्रामीण भी इकट्ठा हो गए। पुलिस को सूचना दी गई। घायलों को तुरंत ही इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां से उनको उपचार के लिए बुलंदशहर रेफ़र कर दिया गया। लेकिन इलाज के दौरान डेढ़ वर्षीय घायल बच्चे गुरुवचन की मौत हो गई।
घर के अंदर धमाके की सूचना मिलने पर धनारी थाना प्रभारी नरेश सिंह, सीओ दीपक तिवारी और एसडीएम गुन्नौर रमेश कुमार भी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए और परिवार से हादसे की जानकारी ली। एसपी कुलदीप सिंह गुनावत ने हादसे का संज्ञान लिया। एसपी के निर्देश पर फॉरेंसिक टीम ने घटनास्थल पर पहुंचकर साक्ष्य जुटाए हैं। पुलिस धमाके का असल कारण जानने में भी लगी हुई है कि धमाके के पीछे की वजह कहीं कुछ और तो नहीं है। फिलहाल, घायलों का अस्पताल में इलाज जारी है।

Hindi News/ Sambhal / Sambhal News: आवारा पशुओं को भगाने के लिए बना रहा था गंधक पोटाश, विस्फोट में चली गई मासूम की जान

ट्रेंडिंग वीडियो