Sambhal: मस्जिद से अजान की आवाज आते ही रोक दिया गया आरएसएस का कार्यक्रम

Highlights

  • चंदौसी में आयोजित हुई थी विचार गोष्‍ठी
  • अजान के बाद दोबारा शुरू किया गया कार्यक्रम
  • भाईचारे का संदेश देकर वक्‍ताओं ने जीता दिल

संभल। उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के संभल (Sambhal) के चंदौसी (Chandausi) में बुधवार को आरएसएस (RSS) के तत्वावधान में विचार गोष्ठी का अयोजन किया गया। इसमें वक्‍ताओं ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) का विरोध करने वाले लोगों पर जमकर निशाना साधा। कार्यक्रम में खास बात यह रही कि अजान के समय कार्यक्रम को रोक दिया गया। उस दौरान वक्‍ता चुप हो गए और कार्यक्रम स्‍थल पर सन्‍नाटा छा गया। अजान पूरी होने के बाद कार्यक्रम फिर शुरू हो गया। कार्यक्रम में इस तरह के व्‍यवहार की जमकर तारीफ हो रही है।

यह भी पढ़ें: Muzaffarnagar: युवक ने मनाई कुत्‍ते की तेरहवीं

एसएम कॉलेज में हुआ कार्यक्रम

बुधवार को चंदौसी के एसएम कॉलेज में विचार गोष्‍ठी आयोजित हुई। कार्यक्रम आरएसएस के तत्वावधान में हुआ। इसमें मुख्‍य वक्‍ता पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ ने कहा कि वे किसी सरकार को बचाने के लिए नहीं लड़ रहे हैं। जो राष्ट्र का विरोध करेंगे, उसे छोड़ा नहीं जाएगा। जो लोग पुलिस पर हथियार उठा रहे हैं। उनसे आतंकी जैसा बर्ताव करना चाहिए। दिल्ली में जो लोग जिन्ना, बुरहान और अफजल गुरु वाली आजादी की मांग कर रहे हैं, उनको अफजल गुरु के पास ही भेज देना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि आजाद भारत में कई औरंगजेब जिंदा हैं। पहले इनसे निपट लें।

यह भी पढ़ें: वेस्ट यूपी के कई जिलों में भारी बारिश का कहर, DM ने 19 जनवरी तक स्कूल बंद करने के जारी किये आदेश

अजान शुरू होते ही छा गया सन्‍नाटा

वहीं, कार्यक्रम के दौरान एक वक्‍त ऐसा भी आया, जिसने भाईचारे का संदेश दिया। कार्यक्रम स्‍थल के पास में मस्जिद है। शाम करीब सवा चार बजे मस्जिद के लाउड स्‍पीकर से अजान शुरू हुई। अजान की आवाज आते ही वक्‍ता चुप हो गए। पंडाल में भी सन्‍नाटा छा गया। अजान होने के बाद कार्यक्रम को दोबारा शुरू किया गया।

sharad asthana
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned