MP में फिर निकला लव जिहाद का जिन्न, सियासत तेज

-कोलगांवा थाना क्षेत्र की घटना

By: Ajay Chaturvedi

Updated: 14 Jun 2021, 11:01 AM IST

सतना. जिले में फिर से लव जिहाद का जिन्न बोतल से बाहर निकल आया है। जिन्न के बोतल से निकलते ही सियासत भी तेज हो गई है। हिंदू संगठनों ने किया विरोध प्रदर्शन का प्रायस। पुलिस ने चतुराई से हालात को किया काबू में।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि कोलगांवा थाना क्षेत्र में एक वर्ग विशेष का युवक दूसरे समुदाय की युवती को लेकर भाग गया। बताया जाता है कि दोनों के बीच प्रेम संबंध रहा। घटना बीती रात की है। युवती के घरवलों को भी घटना की सूचना सुबह ही लगी। साथ ही देखते ही देखते यह खबर पूरे शहर में फैल गई। घटना की सूचना लगते ही पुलिस मौके पर पहुंची और उच्चाधिकारियों को सूचना दी।

साथ ही पूछताछ में जुट गई। पुलिस युवक के घर वालों को लेकर थाने पहुंची और वहीं पूछताछ शुरू की। साथ ही दोनों युवक-युवतियों की तलाश भी शुरू कर दी है।

कोलगांवा थाना

इस बीच घटना की जानकारी होते ही हिंदू संगठन बजरंग दल, विश्व हिन्दू परिषद के कार्यकर्ता भी पहुंच गए और विरोध जताना शुरू किया। हालांकि पुलिस प्रशासन ने चतुराई से मौके को नियंत्रित किया। पुलिस ने हिंदू संगठन के नेताओं को आश्वस्त किया कि जल्द से जल्द दोनों को खोज लिया जाएगा। इसके बाद दोनों संगठनों ने विरोध प्रदर्शन का कार्यक्रम फिलहाल स्थगित कर दिया।

हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ताओं का आरोप है कि कोलगांवा थाना क्षेत्र में जहां सिगरेट, गुटखा, पानी के पाउच, डिस्पोजल एवं खाने पीने के सामान बिकते हैं। वहीं शाम से ही बाहरी असामाजिक तत्वों का जुटान शुरू हो जाता है। वे रातभर मजमा लगाए रहते हैं। यहीं खड़े रहकर बीड़ी-सिगरेट पान गुटखा का सेवन ही नहीं करते हैं बल्कि शराबखोरी भी करते हैं। इससे यहां रहने वाले नागरिकों की महिलाओं और लड़कियों का घर से निकलना दूभर हो जाता है।

बताया जा रहा है कि बीती रात जिस वर्ग विशेष के युवक ने दूसरे समुदाय की नाबालिग लड़की को प्रेमजाल में फंसाकर भागा वह भी यहीं पास खड़ा होता था। कहने को तो यहां बाहरी असामाजिक तत्वों, युवकों का आना जाना अर्से से जारी है। कई दफा वाद-विवाद व आपराधिक वारदातें भी हो चुकी है।

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned