script'Remote working' attracting tech companies | टेक दिग्गजों के गढ़ सिएटल में लुभा रही 'रिमोट वर्किंग' | Patrika News

टेक दिग्गजों के गढ़ सिएटल में लुभा रही 'रिमोट वर्किंग'

पिछले 16 महीने में जो सामाजिक बदलाव आया है, जाहिर है कि वह किसी भी कम्पनी या कर्मचारियों के समूह से कहीं बड़ा है।

नई दिल्ली

Published: July 02, 2021 09:30:40 am

जॉनी बाल्टर, स्तम्भकार

मार्च में जब अमेजन ने घोषणा की कि सिएटल में इसके 60,000 कर्मचारियों में से अधिकतर लोग ऑफिस में आकर काम करने लगेंगे। इस पर कुछ कर्मचारियों का गुस्सा भड़क उठा। कुछ ने नौकरी छोडऩे की धमकी दे डाली। एक कर्मचारी ने कारण बताया कि महामारी के बाद के नियम उसके रोजमर्रा के कामकाज के तरीके को प्रभावित करेंगे। ठीक उसी वक्त माइक्रोसॉफ्ट, जिसका मुख्यालय पास ही रेडमंड में है, ने कहा -कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम, ऑफिस या हाइब्रिड व्यवस्था से कार्य का विकल्प चुन सकते हैं। सिएटल जैसी जगह पर, जहां हाईटैक कंपनियों के मुख्यालय हैं, कई बार तुलना से बचना मुश्किल होता है।

टेक दिग्गजों के गढ़ सिएटल में लुभा रही 'रिमोट वर्किंग'
टेक दिग्गजों के गढ़ सिएटल में लुभा रही 'रिमोट वर्किंग'

कोविड-19 से इस धारणा को बल मिला है कि माइक्रोसॉफ्ट अधिक प्रबुद्ध कम्पनी है, जबकि अमेजन पुराने ढर्रे पर चलने वाली कम्पनी है। चूंकि कम्पनियां अच्छे कर्मचारियों को रखने के लिए प्रतिस्पद्र्धा करती ही हैं, ऐसे में रिमोट या हाइब्रिड वर्क की मांग तेजी से बढऩे लगी है। नौकरी में मिलने वाला पैकेज बातचीत का बड़ा हिस्सा बन चुका है। सिएटल स्थित टैक रिक्रूटिंग स्टार्टअप 'टैलेंट माइन' के सह संस्थापक क्रिस ब्लूमक्विस्ट ने कहा, 'लगता है जॉब मार्केट सदा के लिए बदल गया है।'

सालों पहले उन्होंने कहा था कि रिमोट वर्क चाहने वाले लोग चुनिंदा हैं। अब हर 10 में से 7 लोग ऐसे हैं, जो रिमोट वर्किंग चाहते हैं और बहुत से नियोक्ताओं का मानना है कि यह संख्या 100 प्रतिशत है। कुछ हफ्तों पहले अमेजन ने अपने नियम स्पष्ट किए थे, जिन पर व्यापार प्रतिस्पद्र्धा का दबाव साफ दिखाई देता था, जैसे कि माइक्रोसॉफ्ट का। अमेजन अब सप्ताह में दो दिन रिमोट वर्क की इजाजत देने को राजी हो गई है। गोपनीयता की शर्त पर अमेजन में कार्यरत एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने कहा - 'मुझे लगता है कि ऑफिस में मेरी उत्पादकता कम हो जाती है जबकि घर पर रह कर बढ़ जाती है क्योंकि दोपहर की नींद से वह पुन: ऊर्जावान महसूस करती हैं।'

माइक्रोसॉफ्ट ने कहा है कि जब सितम्बर में ऑफिस पूरी तरह खुल जाएंगे, तब कर्मचारी आधे समय घर से काम कर सकते हैं। अतिरिक्त समय का समायोजन मैनेजर के साथ किया जा सकता है।

अमेजन में भी ऐसा ही है। फिर भी एक बड़ा फर्क है। माइक्रोसॉफ्ट में रिमोट वर्क के दिन कर्मचारी तय करते हैं, जबकि अमेजन में प्रबंधन। इन कम्पनियों में कार्य विकल्प कुछ ही तरह के कर्मचारियों के लिए उपलब्ध हैं, जैसे सॉफ्टवेयर इंजीनियर, सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट, डेटा साइंटिस्ट, आर्टिफिशल इंटेलीजेंस से जुड़े लोग और सेल्स व कस्टमर सर्विस से जुड़े कर्मचारी। ये लोग कोविड-19 से पहले भी रिमोट वर्किंग करते थे। साइट पर काम करने वालों में हार्डवेयर इंजीनियर, जैसे कम्प्यूटर हार्डवेयर व अन्य, फ्रंटलाइन वर्कर और रिसेप्शनिस्ट शामिल थे। अमेजन ऑफिस की इमारतों को देखकर समझा जा सकता है कि कम्पनी ऑफिस वर्क की पक्षधर क्यों है? कम्पनी ने रियल एस्टेट में अच्छा खासा निवेश कर रखा है।

माइक्रोसॉफ्ट के एक अध्ययन के अनुसार, 31 देशों के 30,000 लोगों में से 73त्न कर्मचारी लचीलेपन या रिमोट वर्किंग के पक्षधर हैं। विरोधाभासी बात यह है कि 67% लोग अधिक व्यक्तिगत समय भी चाहते हैं। कम्पनियों को प्रतिभाशाली कर्मचारी चाहिए, इसलिए वे मिश्रित कार्यप्रणालियां ऑफर करेंगी। अब ऐसी बातें भी सुनने में आती हैं - 'मैं करियर में पहली बार बच्चों के साथ नाश्ता कर रहा हूं। मुझे पता ही नहीं था कि मैं क्या मिस कर रहा हूं।' माइक्रोसॉफ्ट और अमेजन के बीच प्रतिस्पद्र्धा पुरानी है। कार्यस्थल की दृष्टि से दोनों स्वयं को अग्रणी मानती हैं। पिछले 16 महीने में जो सामाजिक बदलाव आया है, जाहिर है कि वह किसी भी कम्पनी या कर्मचारियों के समूह से कहीं बड़ा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.