महाराष्ट्र से पैदल चले थे उत्तर प्रदेश के 3 मजदूर, घर पहुंचने से पहले रास्ते में हुई मौत, हड़कप

बीते दिनों ओरंगाबाद ट्रेन हादसे के बाद अब महाराष्ट्र से उत्तर प्रदेश के लिए पैदल निकले तीन मजदूरों की भी मौत हो गई।

By: Faiz

Published: 10 May 2020, 11:37 AM IST

सेंधवा/ कोरोना संक्रमण के चलते सरकार द्वारा किये गए लॉकडाउन के कारण मज़दूरों को खासा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। एक तरफ जहां इन्हें किसी भी बड़ बंद शहर में रहकर भूख-प्यास का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि, सरकार ने अलग अलग राज्यों में फंसे मजदूरों को घर पहुंचाने के लिए स्पेशल ट्रेनें भी चला दी है। बावजूद इसके ये मज़दूर अपने घरों के लिए पैदल निकलने को मजहूर हैं। इस दौरान ये हादसे का शिकार भी हो रहे हैं। बीते दिनों ओरंगाबाद ट्रेन हादसे के बाद अब महाराष्ट्र से उत्तर प्रदेश के लिए पैदल निकले तीन मजदूरों की भी मौत हो गई।

 

पढ़ें ये खास खबर- सलमान खान की बॉडी भी है इनके सामने फैल, राजधानी आया भारत का सबसे फिट IPS



एमपी में अलग अलग इलाकों में 3 ने गवाई जान

सरकार द्वारा मजदूरों को उनके घर पहुंचाने के भले ही लाख दावे किये जाएं, लेकिन बावजूद इसके इनपर बीतने वाले संकट या इनकी मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी कड़ी में एक बार फिर शनिवार रात को मध्य प्रदेश के तीन अलग-अलग क्षेत्रों में पैदल चलने वाले मजदूरों की मौत के बाद हड़कंप मच गया। आइये जानते हैं क्या था घटनाक्रम।


-केस 1

सिविल अस्पताल द्वारा प्राप्त जानकारी के मुताबिक, राष्ट्रीय राजमार्ग पर नारायण दास अस्पताल के सामने बेहोश होने से उत्तर प्रदेश निवासी वीरेंद्र बहादुर पिता गोमती सिंह की मौत हो गई। परिजन ने बताया कि वे महाराष्ट्र में रायगढ़ जिले लोहे की फैक्ट्री में काम करते थे। राजेश पिता बजरंग बहादुर सिंह जो मृतक के भतीजे ने बताया। बेहोश हुए वीरेंद्र बहादुर को सिविल अस्पताल ले जाया गया जहां पर डॉ तनवीर शेख ने जांच कर मृत घोषित कर दिया। परिजन के मुताबिक, हम 1 दिन पहले रायगढ़ से निकले थे वहां बाद में पैदल चल रहे थे।


-केस 2

वहीं, दूसरे मामले में लालूराम पिता शाहदेव छुड़िया जिला प्रयागराज का रहने वाला है। वो मुंबई में मजदूरी कर फुटपाथ पर रहता था अपने तीन साथियों के साथ अपने घर जाने के लिए शुक्रवार को मुंबई से निकला था। रास्ते में कहीं इन्हें भी लिफ्ट मिली कभी पैदल चलना पड़ा। खाने-पीने की काफी समस्या का सामना करना पड़ा। शनिवार को राष्ट्रीय राज्य मार्ग नंबर 3 पर बिजासन के पास लालूराम की तबीयत खराब हुई। नारायणदास अस्पताल लाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें भी मृत घोषित कर दिया।


-केस 3

इसी तरह रात करीब 10 बजे अनीस पिता अहमद निवासी फतेहपुर की जामली टोल प्लाजा के समीप मौत हो गई। मृतक के भाई शकील ने बताया कि मनीष को बुखार आया था हमने उसे दवाई दी और गीले कपड़े से उसके शरीर को पौंछ रहे थे इस मृतक मुंबई में पान दुकान संचालित करता था।

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned