मार्च में चोरी की शिकायत, अप्रैल में प्रकरण दर्ज, सितंबर में झूठी रिपोर्ट का खुलासा

मार्च में चोरी की शिकायत, अप्रैल में प्रकरण दर्ज, सितंबर में झूठी रिपोर्ट का खुलासा

Akhilesh Kumar | Updated: 13 Sep 2019, 12:14:02 PM (IST) Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

डूंडासिवनी पुलिस का दांवा नागपुर के कबाड़ में मिला आरोपी द्वारा बेचे गए ट्रक का पाट्र्स

सिवनी. डूंडासिवनी पुलिस ने ट्रक चोरी की झूठी रिपोर्ट लिखाने के एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस का दांवा है कि आरोपी ने जिस ट्रक के चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई है। उस ट्रक के पाट्र्स को नागपुर के एक कबाड़ी के यहां से बरामद किया गया है। यह दांवा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमलेश खरपुसे ने गुरुवार को पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित एक प्रेस कान्फें्रस में किया है। खास है कि ट्रक चोरी की शिकायत मार्च में हुई। अप्रैल में पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया। सितंबर माह में झूठी रिपोर्ट दर्ज होने की पुलिस को जानकारी हुई।


अतिरिक्त पुलिस खरपुसे के अनुसार आरोपी फाइनेंस कम्पनी की किश्त न चुकाने और फर्जी नंबर से ट्रक का संचालन करने के उद्देश्य से इस कृत्य को अंजाम दिया था। आरोपी गुरूनानक वार्ड निवासी अनीस खान है। 29 मार्च 2019 को उसने शिकायत किया था कि ट्रक क्रमांक एमपी 20 एचबी 2952 को 28 मार्च की रात को चोरी हो गई। पुलिस ने आठ अप्रैल को अपराध क्रमांक 135/19 धारा 379 के तहत मामला दर्ज कर विवेचना शुरू किया।


थाना प्रभारी अमित विलास दाणी और उनकी टीम ने अनीस पर संदेह जाहिर कर ट्रक चोरी को लेकर पूछताछ किया, लेकिन सफलता नहीं मिली। पुलिस का दांवा है कि आरोपी ने डूंडासिवनी पुलिस की शिकायत उच्चाधिकारियों से कर जांच प्रभावित करने का प्रयास किया। इसबीच पुलिस को मुखबिर से अनीस द्वारा चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराए गए ट्रक में कलर कर हुलिया एवं नंबर प्लेट बदलकर दूसरे जिले में संचालन की जानकारी मिली। पुलिस ने सिवनी, छिंदवाड़ा, बालाघाट, नरसिंहपुर, नागपुर, अमरवती सहित अन्य जिलों में ट्रक की पतासाजी किया।

डूंडासिवनी पुलिस को इसबीच पता चला कि जिस ट्रक को अनीस द्वारा चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई है, वह छिंदवाड़ा से महाराष्ट्र चलवाया जा रहा है। पुलिस ने छिंदवाड़ा से पता लगाया तो चालक रहीम खान द्वारा 24 अगस्त को हिन्दुस्तान लीवर से साबून भरकर ट्रक खामगांव महाराष्ट्र ले जाने की जानकारी हुई। पुलिस ने चार सितंबर को चालक रहीम को थाने बुलाया। उसने अनीस खान का एमपी 20 एचबी 1086 नंबर प्लेट लगा हुआ ट्रक चलाना स्वीकार किया। पुलिस को बताया कि चार सितंबर को अनीस उसे छोड़कर वरूण मोरसी जिला अमरावती ट्रक ले गया है। डूंडासिवनी पुलिस ने आरोपी अनीस को पूछताछ के लिए थाने बुलाया। इस बार उसने ट्रक फर्जी नंबर प्लेट एमपी 20 एचबी 1086 के नंबर से संचालित किए जा रहे ट्रक क्रमांक एमपी 20 एचबी 2952 को पीली नदी नागपुर के पास समीर कबाड़ी के यहां ट्रक कटवाए जाने की बात कबूल की।

पुलिस ने दांवा किया है कि कबाडख़ाना की तलाशी करने के बाद ट्रक का चेचिस सहित अन्य पार्टस बरामद कर लिया गया है। पुलिस की पूछताछ में अनीस ने बताया कि उसने ट्रक क्रमांक एमपी 20 एचबी 2952 नंबर के ट्रक को जबलपुर के संदीप राजपूत से 2011 में डेढ़ लाख रुपए नकद राशि देकर फायनेंस की बकाया राशि नौ लाख 50 हजार रुपए को प्रतिमाह जमा करने की बातचीत पर खरीदा था। फायनेंस कम्पनी की किश्त से बचने और बीमा की राशि का लाभ लेने के लिए उसने चोरी की झूठी शिकायत कर ट्रक कबाड़ में बेचने की बात कुबूल किया है।

एक वर्ष पूर्व आरोपी ने ससुर से खरीदा था ट्रक
अनीस द्वारा दर्ज कराई गई ट्रक चोरी की रिपोर्ट के दौरान डूंडासिवनी पुलिस को अनीस के बारे में चौकाने वाली जानकारी हाथ लगी। पुलिस को पता चला कि अनीस खान ने एक साल पहले ससुर अज्जु खान निवासी कुंजड़ी मोहल्ला सिवनी से एमपी 20 एचबी 1086 नंबर का एक 10 चका ट्रक खरीदा था। ट्रक पुराना होने के कारण अनीस खान ने कुछ दिनों तक संचालन करने के बाद उसे शहर के तन्नु खान नामक कबाड़ी के यहां कटवा दिया। ट्रक के कागजात आरटीओ में जमा करने के नाम पर गुमराह करते हुए उसे अपने पास रख लिया। अनीस दिसंबर 2018 में बोरीकला बरघाट के अफसर खान से मिला। पुलिस ने बताया कि अफसर खान के पास भी एक 10 चका ट्रक क्रमांक सीजी 04 जेए 5008 था। इसे एक फायनेंस कम्पनी से फायनेंस कराकर खरीदा गया था। फायनेंस की किश्त नहीं पटा पाने के कारण अफसर द्वारा छुपाकर रख दिया गया था। इस मामले की शिकायत कम्पनी के कर्मचारी द्वारा बरघाट थाने में दर्ज कराई गई थी। बताया जाता है कि आरोपी अनीस ने अफसर के साथ मिलकर ट्रक क्रमांक सीजी 04 जेए 5008 को छिपाने के लिए उसका चेचिस बदलकर कबाड़ में बेचे गए ट्रक क्रमांक एमपी 20 एचबी 1086 का चेचिस नंबर और नेम प्लेट बदल दिया था। इसका मामला सामने आने के बाद पुलिस ने अफसर खान को गिरफ्तार कर लिया था और ट्रक जब्त कर लिया था।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned