प्रेमी से युगल के शादी करने पर पंचायत का तुगलकी फरमान

प्रेमी युगल को परिजनों की मर्जी के खिलाफ शादी करने पर गांव छोड़ने की सजा सुना दी।

By: अमित शर्मा

Published: 07 Jun 2018, 06:57 PM IST

शाहजहांपुर। यूपी के शाहजहांपुर में पंचायत के तुगलकी फरमान का मामला सामने आया है। जहांं प्रेमी युगल को परिजनों की मर्जी के खिलाफ शादी करने पर गांव छोड़ने की सजा सुना दी। प्रेमी प्रेमिका ने डायल 100 पर पुलिस को सूचना दी इसके बाद पुलिस दोनों को थाने लाई लेकिन परिजन जबरन प्रेमिका को वापस घर ले गए। उसके बाद मौका पाते ही प्रेमी प्रेमिका घर छोड़कर भाग गए। फिलहाल प्रेमिका के परिजनों की तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।


क्या है पूरा मामला

दरअसल मामला थाना खुटार के एक गांव का है। यहां के रहने वाले एक युवक का घर के सामने की रहने वाली एक युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों एक ही बिरादरी के हैं। प्रेमी प्रेमिका ने सोचा कि दोनों के परिजन शादी के लिए राजी हो जाएंगे। दो साल से दोनों का प्रेम प्रसंग चलता रहा लेकिन कुछ माह पहले प्रेमिका के परिजनों को प्रेम प्रसंग के बारे में पता चल गया। जिसके बाद परिजनों ने प्रेमिका पर पाबंदियां लगाकर घर के अंदर रहने की हिदायत दी। इसी बीच प्रेमिका के परिजनों ने उसकी शादी पड़ोसी जिले में तय कर दी। शादी की सूचना प्रेमिका ने अपने प्रेमी को दी तो प्रेमी ने अपनी शादी का प्रस्ताव प्रेमिका के घर भेजा लेकिन परिजन शादी के लिए राजी नही थे।


प्रेमिका के परिजनों ने गांव से बाहर एक घर में पंचायत बुलाई। जिसमें पंचायत ने एक तालिबानी फरमान सुना दिया। जानकारी के मुताबिक पंचायत ने कहा कि जब लड़का और लड़की के परिजन शादी के लिए राजी नहीं है तो फिर ये शादी नहीं हो सकती। अगर फिर भी दोनों अपनी मर्जी से शादी करते हैं तो उन्हें इस गांव में रहने का कोई हक नहीं है। इनको तत्काल गांव छोड़कर जाना होगा। ये तालिबानी फरमान सुनकर प्रेमी युगल मौका पाते ही घर छोड़कर भाग गए। अब प्रेमी के खिलाफ थाने में तहरीर दे कर मुकदमा लिखा दिया गया है।

Show More
अमित शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned