Video: शामली में रेहड़ी पर अस्‍पताल ले जाना पड़ा बीमार पत्‍नी को, प्रशासन ने दी यह सफाई

  • पीड़ि‍त के रिश्‍तेदार ने लगाया था एंबुलेंस नहीं पहुंचने का आरोप
  • अस्‍पताल में डॉक्‍टरों पर भी लगाया था टालमटोल करने का आरोप
  • एडीएम ने कहा- किसी ने नहीं किया एंबुलेंस को फोन

By: sharad asthana

Updated: 22 Jun 2019, 04:07 PM IST

शामली। जनपद में स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं में गंभीर लापरवाही का आरोप लगा है। जनपद के मोहल्ले पंसारियान नई बस्ती में रहने वाले एक शख्‍स की पत्‍नी की हालत गंभीर हुई तो वह अपनी पत्‍नी को रेहड़ी पर लिटाकर अस्‍पताल पहुंचा। आरोप था क‍ि फोन करने के बाद भी एंबुलेंस नहीं पहुंची। वहीं, शनिवार को एडीएम ने सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया। पीड़ि‍त ने भी शनिवार को इन आरोपों से इंकार किया।

दिव्‍यांग हैं 35 साल की अंजु

मोहल्ले पंसारियान नई बस्ती में रहने वाला पप्‍पू रेहड़ी लगाता है। उसकी पत्‍नी का नाम अंजु है। 35 साल की अंजु दिव्‍यांग हैं। वह कई दिन से बीमार चल रही हैं। जानकारी के अनुसार, शुक्रवार दोपहर को उनकी तबीयत ज्‍यादा खराब हो गई। इसके बाद पप्पू ने रेहड़ी पर चारपाई डाली और उस पर अंजु को लिटाया। उसके बाद वह अंजु को करीब तीन किलोमीटर दूर स्थित हनुमान चौक स्थित सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र (सीएचसी) ले गया।

यह भी पढ़ें: युवती ने इस शर्त पर माफ किया रेप के आरोपी डांस टीचर को, पुलिस भी रह गई हैरान

शुक्रवार को लगाए थे ये आरोप

शुक्रवार को पप्‍पू के रिश्‍तेदार राहुल कुमार ने आराेप लगाया था कि फोन करने के बावजूद एंबुलेंस मौके पर नहीं पहुंची थी। इसके बाद पप्‍पू अपनी पत्‍नी को रेहड़ी पर अस्‍पताल ले गया था। राहुल ने आरोप लगाया था कि पीड़ि‍त को अस्‍पताल में डॉक्‍टर इधर से उधर भगाते रहे।

एसडीएम सदर ने की है जांच

इस मामले में शनिवार को एडीएम आनंद कुमार शुक्‍ला ने कहा कि एसडीएम सदर ने इसकी जांच की है। जांच में पाया गया है कि पप्‍पू ने एंबुलेंस के लिए कोई भी फोन नहीं किया है। इस वजह से एंबुलेंस वहां नहीं पहुंची। इसके बाद वह अपने वाहन से अंजु को अस्‍पताल ले गया है। उसको पैरालिसिस की समस्‍या है। सीएचसी में डॉक्‍टरों ने उसका इलाज किया है और पांच दिन की दवा भी दी है। यहां से मेरठ के लिए उसको रिकमेंड करने के लिए भी कहा गया है। मरीज को स्‍ट्रेचर न मिलने के सवाल पर उन्‍होंने कहा कि मीडिया वीडियो दे तो वह इसकी जांच कराएंगे। अगर कोई लापरवाही पाई जाती है तो कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें: Chamki Fever: इस तरह बच्‍चों को बचाएं चमकी बुखार से

पति को भी मीडिया के सामने किया पेश

अंजु के पति पप्‍पू को भी एडीएम ने मीडिया के सामने पेश किया। पप्‍पू ने कहा कि उन्‍होंने एंबुलेंस का फोन नहीं किया था। बाद में उन्‍होंने कहा कि उनको इस बारे में नहीं पता है क‍ि किसी ने एंबुलेंस को फोन किया था या नहीं। उन्‍होंने अस्‍पताल में इलाज को लेकर कहा कि डॉक्‍टरों ने उनकी पत्‍नी को फौरन उपचार दिया था।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर

sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned