चेन सिस्टम बनाकर लोगों को जोड़कर ज्यादा मुनाफे का लालच देते, कंपनी ने 700 लोगों से ठगे 2 करोड़

डेली डायमंड चिटफंड कंपनी ( Daily Diamond Chitfund Company ) के 300 करोड़ रुपए ठगी ( 300 Crore Thagi ) के बाद हरियाणा की रेटीकट फैशन कंपनी ( Reticat Fashion Company ) ने शेखावाटी में जाल बिछा लिया।

By: Naveen

Published: 24 Aug 2019, 01:55 PM IST

सीकर.

डेली डायमंड चिटफंड कंपनी ( Daily Diamond Chitfund Company ) के 300 करोड़ रुपए ठगी ( 300 Crore Thagi ) के बाद हरियाणा की रेटीकट फैशन कंपनी ( Reticat Fashion Company ) ने शेखावाटी में जाल बिछा लिया। कंपनी से जुडे लोगों ने 700 लोगों से 10 महीने में दो करोड़ रुपए ( Two Crore Thagi in Chain System ) से ज्यादा ठग लिए। कंपनी ने मल्टीलेवल मार्केटिंग ( Multi-Level Marketing ) के जरिए 8 हजार रुपए प्रति सदस्य जोड़ कर लोगों को चेन सिस्टम बनाकर ज्यादा मुनाफा कमाने का लालच देकर कपड़े बेचने को कहा। कंपनी ने जयपुर, चौमूं, सीकर, अलवर, झुंझुनूं व चूरु, नागौर के अलावा पंजाब व हरियाणा में भी नेटवर्क बना लिए। सीकर पुलिस ने कंपनी निदेशक सहित चार जनों को गिरफ्तार किया है। डीएसपी सिटी सौरभ तिवाड़ी ने बताया कि रेटीकट फैशन मार्केटिंग कंपनी के निदेशक अंकुश कुमार पुत्र सोमनाथ सिंह निवासी गंगाराम बस्ती संगरुर, मैनेजर अवतार सिंह पुत्र चरण सिंह निवासी लुधियाना पंजाब, मीका सिंह पुत्र यूसुफ निवासी एलनाबाद सिरसा हरियाणा व विक्रम सिंह पुत्र हरफूल सिंह निवासी किशनपुरा गोविंदगढ़, जयपुर को गिरफ्तार किया है।


उन्होंने बताया कि रेटीकट फैशन कंपनी का डायरेक्टर अंकुश कुमार है और संगरुर पंजाब की कंपनी है। सीकर शहर में सम्राट सिनेमा के पास कंपनी ने आफिस खोला। उन्होंने बताया कि आनंद कुमार पुत्र रविंद्र कुमार निवासी नौरंगाबाद, चरखीदादरी हरियाणा ने रिपोर्ट दर्ज कराई है। आनंद कुमार को उसके दोस्त ने कंपनी में विभिन्न स्कीमों में निवेश करने पर कमाने का लालच दिया। उन्होंने उसे चेन सिस्टम बनाकर लोगों को जोडऩे पर ज्यादा मुनाफा कमाने की बात कहीं। उसने बताया कि कंपनी में निवेश के नाम पर उससे 1.64 लाख रुपए ले लिए। रुपए मांगने पर उन्होंने उसे वापस नहीं दिए।


उन्होंने बताया कि उसने 40 हजार रुपए में कंपनी में मेंबरशिप दिला दी। उसके बदले में उसे रेटीकट कंपनी के ही जींस, टी-शर्ट व अन्य कपड़ों का सेट दिया गया। कंपनी के सदस्यों ने जल्द लाभ कमाने के लिए उसे मल्टीलेवल मार्केटिंग के तहत टे्रनिंग देकर अपने नीचे 4 सदस्यों को जोडकऱ जल्द डिस्ट्रीब्यूटरशिप देने का लालच दिया। तब उसने कंपनी में मां-पिता व बहन को भी सदस्य बना दिया।


बेरोजगार युवकों से दो-दो हजार रुपए हड़पे
जांच में सामने आया कि कंपनी ने बेरोजगार युवकों को झांसा देकर सीकर आफिस में बुलाया। उन्होंने बताया कि शेखावाटी में चिटफंड कंपनी के नाम ज्यादा भरोसा कर निवेश करते है। कंपनी ने शेखावाटी में नेटवर्क बनाने के लिए 150 से ज्यादा बेरोजगार युवकों को ट्रेनिंग दी। युवकों एक बैच बनाकर चार दिनों तक ट्रेनिंग दिलाई गई। प्रत्येक युवक से ट्रेनिंग के लिए दो हजार वसूल किए गए। उन्होंने बताया कि चार दिनों के ट्रेनिंग के दौरान बेरोजगार युवकों को चेन सिस्टम बनाकर रेटीकट कंपनी के कपड़े बेचने का झांसा देकर अधिक मुनाफा कमाने का लालच दिया गया। कंपनी से कम्प्यूटर, स्कीम के ब्राशर, ग्राहकों की रसीदों सहित अन्य दस्तावेज जब्त कर लिए है। कंपनी से जुड़े अन्य सदस्यों के बारे में भी पूछताछ कर रही है।


हर माह कंपनी के खाते में 3 से 4 लाख रुपए जमा कराते, 5 स्टेप पर काम कराते
जांच के दौरान पता लगा कि अवतार सिंह कंपनी में मैनेजर के पद पर काम कर रहा है। उसे कंपनी की ओर 15 हजार रुपए महीने दिए जाते है। उसके साथ में कमीशन पर मीका सिंह, विक्रम सिंह को जोड़ा गया। उन्होंने बताया कि वे कंपनी के खाते में हर माह 3 से 4 लाख रुपए जमा करवाते है। एजेंटों को भी अलग से कमीशन दिया जाता है। कंपनी से जुडऩे के लिए पहले स्टेप पर 8 हजार रुपए, दूसरे स्टेप पर 40 हजार रुपए, तीसरे स्टेप पर डेढ़ लाख रुपए, तीसरे स्टेप पर आने पर एक स्मार्ट फोन का गिफ्ट देने का लालच दिया जाता है। चौथे स्टेप पर तीन महीने में 15 लाख रुपए का काम करने व पाचवें स्टेप पर तीन महीने में 1 करोड़ रुपए काम करने पर वरना, अमेज कार सहित अन्य गिफ्ट देने का झांसा दिया जाता है।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned