script प्रदेश में आधार ऑपरेटर्स की सेवाएं अब यूसीएल मोड पर, नहीं कर सकेंगे हर तरह का बदलाव | Services of Aadhaar operators in the state are now on UCL mode | Patrika News

प्रदेश में आधार ऑपरेटर्स की सेवाएं अब यूसीएल मोड पर, नहीं कर सकेंगे हर तरह का बदलाव

locationसीकरPublished: Dec 09, 2023 12:08:39 pm

Submitted by:

Ajay Sharma

बायोमैटि्रक के जरिए बदलाव व फोटो के लिए अब जाना होगा आधार सेंटरों पर ही
पेंशनरों के साथ आमजन की बढ़ी मुसीबत, ऑपरेटर्स ने भी पहले की तरह अधिकार देने की मांग

बायोमैटि्रक के जरिए बदलाव व फोटो के लिए अब जाना होगा आधार सेंटरों पर ही
बायोमैटि्रक के जरिए बदलाव व फोटो के लिए अब जाना होगा आधार सेंटरों पर ही

प्रदेशभर में सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग की ओर से संचालित आधार ऑपरेटर्स की सेवाओं में अचानक बड़ा बदलाव कर दिया है। अब आधार ऑपरेटर्स आधार कार्ड में हर तरह का बदलाव नहीं कर सकेंगे। दो दिन पहले यूआईडीएआई की ओर से आधार ऑपरेटर्स को ई-मेल भेजा गया। इसके बाद से आधार कार्ड ऑपरेटर्स आधार से संबंधित कोई काम नहीं कर पा रहे थे। शुक्रवार दोपहर तक प्रदेश के ज्यादातर आधार ऑपरेटर्स की सेवाएं बाधित रही। इस कारण आमजन को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। इधर, विभाग का दावा है कि आधार ऑपरेटर्स की सेवाओं को बंद नहीं किया गया है। इनकी सेवाओं को यूसीएल मोड पर कर दिया गया है। इसके तहत आधार ऑपरेटर्स की सेवाओं को थोड़ा सीमित किया गया है। इसके तहत अब फोटो व बायोमैटि्रक के जरिए बदलाव नहीं कर सकेंगे। जबकि नया आधार कार्ड बनाने का अधिकार पहले ही इनसे छीना जा चुका है। हालांकि शिक्षा विभाग, डाकघर व बैंकों में संचालित आधार केन्द्रों की सुविधाएं पहले की तरह जारी रहेगी।

आमजन की ऐसे बढ़ी परेशानी...

विभाग का दावा: नए सिरे से समीक्षा करेंगे, कहां क्या जरूरत
सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग की ओर से दावा किया गया है कि आमजन को नए बदलाव से कोई परेशानी नहीं होगी। विभाग के
अधिकारियों का कहना है कि नए बदलाव के बाद जल्द समीक्षा की जाएगी कि किस क्षेत्र के लोगों की ओर से आधार में किस तरह के करेक्शन की डिमांड आ रही है और वहां कितने सेंटर है। यदि कही डिमांड आती है तो चुनिदा सेंटरों के अधिकारों में बढ़ोतरी की जा सकती है।

केस एक: पेंशन सत्यापन के लिए लगा रहे चक्कर
पेंशनर दीनदयाल सैनी का कहना है कि हर साल पेंशनरों को सत्यापन करना होता है। दो दिन से जनाआधार व आधार की गलती को ठीक कराने के लिए आधार ऑपरेटर के यहां चक्कर लगा रहे है, लेकिन केन्द्र पर सर्वर नहीं आने की बात कही जा रही है। इससे परेशानी बढ़ गई है।

केस दो: नहीं हो पा रहा बायोमैटि्रक बदलाव
आकाश शर्मा ने बताया कि उसको आधार में बायोमैटि्रक के जरिए फोटो चेंज करानी है। तीन दिन से चक्कर लगाने के बाद भी राहत नहीं मिल रही है। उन्होंने बताया कि बैंक के एक सेंटर पर गया लेकिन सर्वर नहीं आने की वजह से निराश होकर लौटना पड़ा।

सेंटर्स के अधिकारों में बदलाव
इन सेंटर को मिले अधिकारों में थोड़ा बदलाव किया गया है। इस वजह सेंटरों को मैसेज भेजा गया था। अब नाम व मोबाइल नंबरों में परिवर्तन सहित अन्य कार्य इन सेंटरों पर हो सकेंगे। जबकि पोस्ट ऑफिस, शिक्षा विभाग व बैंकों में संचालित आधार केन्द्र पहले की तरह ही संचालित रहेंगे।
विवेक अरोड़ा, ओएसडी, यूआईडीएआई राजस्थान

अपडेटशन की वजह से हुई दिक्कत
सिस्टम अपडेशन की वजह से दिक्कत हुई है। केन्द्रों की ओर से दी जाने वाली सुविधाओं में बदलाव किया गया है।
सत्यनारायण चौहान, संयुक्त निदेशक, सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग, सीकर

ट्रेंडिंग वीडियो