लॉकडाउन में दवाई लेकर जा रहे युवक की पुलिस की पिटाई से हुई मौत, जीरों नंबर एफआईआर हुई दर्ज

लॉकडाउन के दौरान पुलिस की पिटाई से एक युवक की मौत हो गई है। युवक सीकर के त्रिलोकपुरा का रहने वाला था और दवाई लेकर कुचामन जा रहा था। परिजन गंभीर अवस्था में एंबुलेंस से रविवार रात को घर लेकर पहुंचे थे।

By: kamlesh

Published: 30 Mar 2020, 09:05 PM IST

पलसाना। लॉकडाउन के दौरान पुलिस की पिटाई से एक युवक की मौत हो गई है। युवक सीकर के त्रिलोकपुरा का रहने वाला था और दवाई लेकर कुचामन जा रहा था। परिजन गंभीर अवस्था में एंबुलेंस से रविवार रात को घर लेकर पहुंचे थे। सोमवार सुबह उसकी अस्पताल ले जाने से पहले ही मौत हो गई थी। परिजनों ने रानोली थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है। रानोली पुलिस ने जीरो नम्बरी एफआईआर दर्ज कर शव का पोस्टमार्टम करवा दिया है।

जानकारी के अनुसार रानोली इलाके के त्रिलोकपुरा निवासी रामसिंह शेखावत कुचामन की एक डिफेंस एकेडमी में पिछले डेढ़ साल से काम कर रहा था। इस दौरान लॉकडाउन के दौरान वह गांव त्रिलोकपुरा दवाईयां लेने के लिए आया था। दवाई लेकर वह वापस बाइक से कुचामन जा रहा था। परिजनों ने आरोप लगाया है कि रामसिंह के साथ अलग-अलग जगह पर दो बार पुलिसकर्मियों ने पिटाई की।

उसे पहले तो पांचवां में और फिर कुचामन में पुलिसकर्मियों ने बेहरमी से मारा। उसके शरीर पर गहरी चोंटें लगी है और वो घायल हो गया। उसने कुचामन पहुंच कर फोन पर परिजनों को बताया। फोन आने के बाद परिजन रविवार देर रात रामसिंह को घायलावस्था में एंबुलेंस से त्रिलोकपुरा घर लाए।

इस दौरान सोमवार सुबह उसकी मौत हो गई। परिजनों ने रानोली थाने में पुलिस पिटाई का आरोप लगाकर रिपोर्ट दर्ज करवाई है। पुलिस ने जीरो नम्बरी एफआईआर दर्ज कर सीकर के कल्याण अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया है।

coronavirus

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned