मेर मण्डवाड़ा में न ढोल न डीजे, मास्क बांध कर मंदिर शिखर पर चढ़ाई ध्वजा, जानिए कैसे...

मेर मण्डवाड़ा में न ढोल न डीजे, मास्क बांध कर मंदिर शिखर पर चढ़ाई ध्वजा

By: Bharat kumar prajapat

Published: 05 May 2020, 08:30 PM IST

सिरोही. पिछले डेढ़ महीने से कोरोना संक्रमण को लेकर इस बार कोई धार्मिक कार्यक्रम नहीं हुए। मेर माण्डवाड़ा स्थित आशापुरा माता का वार्षिक मेला हर साल धूमधाम से मनाया मनाया जाता है लेकिन इस बार लॉक डाउन नियमों का पालन करते हुए कुछ श्रद्धालुओं ने मिलकर माता को प्रसाद का भोग लगाकर मंदिर शिखर पर ध्वजा चढ़ाई।
मेर मण्डवाड़ा के गुरु गोविंद राजपुरोहित ने बताया कि इस बार न ढोल था और न डीजे बजा, सिर्फ मुंह पर मास्क बांध कर शिखर पर ध्वजा चढ़ा गई। इस दौरान लॉक डाउन के नियमों का पालन किया गया। रायगुर परिवार ने इस संकट काल में देश की रक्षा करने की माता से मन्नत भी मांगी। इस दौरान दिनेश रायगुर, कन्हैयालाल, भूराराम, विक्की रायगुर, रमेश डी, नवाजी, जोगाराम आदि मौजूद थे।

बीमार महिला की मौत, पहुंचा प्रशासन
नया सानवाड़ा. यहां एक महिला की मंगलवार को बीमारी से मौत हो गई। इसकी जानकारी मिलते ही प्रशासन और चिकित्सक मौके पर पहुंचे। परिजनों ने उसका दाह संस्कार कर दिया।
उपखण्ड अधिकारी दूदाराम, उप अधीक्षक किशोरसिंह चौहान, थाना प्रभारी सुमेरसिंह एवं चिकित्सा अधिकारी मौके पर पहुंचे। परिजनों ने बताया कि ब्लड पे्रशर की शिकायत पर महिला को वीरवाड़ा अस्पताल ले गए थे। प्रशासन ने मामले की जांच की। मौके पर मेडिकल टीम को बुलाकर परिजनों के सैम्पल लिए। उधर, प्रशासन ने गांव में आए प्रवासियों को क्वॉरंटीन में रहने की अपील की। चिकित्सा अधिकारी डॉ. जयसिंह, भू-अभिलेख निरीक्षक रूपाराम, ग्राम विकास अधिकारी महेन्द्रसिंह परिहार, पटवारी मेघराज चौधरी, रोजगार सहायक ताराराम गर्ग, निगरानी समिति प्रभारी छत्तरसिंह राणावत एवं महेश कुमार बैरवा मौजूद थे।

Bharat kumar prajapat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned