scriptमाउंट आबू में सीजन में पहली बार माइनस में पहुंचा तापमान, खुले मैदानों में जमी बर्फ की चादर | Temperature in minus for the first time in the season in Mount Abu | Patrika News
सिरोही

माउंट आबू में सीजन में पहली बार माइनस में पहुंचा तापमान, खुले मैदानों में जमी बर्फ की चादर

माउंट आबू में तापमान -0.5 रहा, शीतलहर का कहर जारी

सिरोहीDec 25, 2022 / 04:21 pm

Satya

माउंट आबू में सीजन में पहली बार माइनस में पहुंचा तापमान, खुले मैदानों में जमी बर्फ की चादर

माउंट आबू में सीजन में पहली बार माइनस में पहुंचा तापमान, खुले मैदानों में जमी बर्फ की चादर

Cold wave continues, temperature in minus for the first time in the season in Mount Abuसिरोही/ माउंट आबू । उत्तर-पश्चिमी हवाओं के प्रभाव से प्रदेश में शीतलहर का असर जारी है। जिससे रात के साथ ही दिन में भी ठिठुरन बढ़ गई है। प्रदेश के हिल स्टेशन माउंट आबू में शनिवार की रात सीजन की सबसे सर्द रात रही। माउंट आबू में लगातार इस सर्दी के सीजन में पहली बार तापमान माइनस में गया है। माउंट आबू में रविवार सुबह तापमान -0.5 रहा। इससे पहले लगातार तीन दिन तक तापमान जमाव बिंदु पर स्थिर रहा था।

शून्य डिग्री सेल्सियस से शुरू हुए दिसम्बर महीने में तापमान में उतार चढ़ाव व जमाव बिन्दू के आसपास रहने से खुले मैदानों, पेड़-पौधों की पत्तियों, वाहनों की छतों व नक्की लेक पर खडी नावों पर सुबह बर्फ की परत देखने को मिल रही है।
ठंड से बचाव को लेकर लोगों को भारी भरकम ऊनी लबादों का सहारा लेने को विवश होना पड़ा। सर्द मौसम का आनंद लेने आए सैलानियों ने सवेरे सडक़ों व बाजारों में चहलकदमी कर प्राकृतिक सौंदर्य को निहारने का लुत्फ उठाया। सवेरे हाडकंपाऊ सर्दी से बचने को लोगों ने उगते सूरज की धूप सेंकने, चाय की थडियों पर अदरक की चाय का स्वाद लेने, जगह-जगह अलाव तापने के उपाय किए। आवासीय भवनों की छतों पर लगी सोलर प्लेटों, जलाशयों के किनारे, रात को खुले में खड़े किए गए वाहनों की छतों, खेतों में खड़ी फसलों, खुले मैदानों, बाग-बगीचों में खिले फूलों, पेड़-पौधों के पत्तों पर बर्फ की परत जम गई। सैर-सपाटे को आए पर्यटकों ने दिन में आसमान के साफ रहने से गुलाबी ठंडक के बीच क्षेत्र के विभिन्न दर्शनीयस्थलों का अवलोकन किया।
भ्रमण के दौरान प्राकृतिक सौंदर्य के मनभावन दृश्यों का अवलोकन करते हुए फोटोग्राफी कर यादगार पलों को अपने कैमरों में संजोया। सैलानियों ने नक्की झील में नौकाविहार का लुत्फ उठाते हुए मौसम का आनंद लिया। हल्के बादलों के बीच से अस्तांचल को जाते सूरज को निहारने का भी पर्यटकों ने आनंद लिया। तापमान में बार-बार हो रहे उतार चढ़ाव के चलते कई लोग सर्दी, जुकाम, खांसी जैसी मौसमी व्याधियों से भी परेशान है।
जिला मुख्यालय भी शीत लहर की चपेट में
इधर, सिरोही जिला मुख्यालय पर भी तीन दिन से चल रही शीतलहर के कारण सर्दी का असर तेज रहा। जिले में कड़ाके की सर्दी का दौर का तीसरा दिन था। गुरुवार शाम से चल रही सर्द हवाओं से रविवार को न्यूनतम तापमान 6 डिग्री दर्ज किया गया। जयपुर मौसम विभाग के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि उत्तर-पश्चिमी हवाओं के प्रभाव से प्रदेश में शीतलहर का असर जारी है।
जिला मुख्यालय पर शनिवार की रात शीत लहर के चलते ठंड का असर तेज रहा। दिन उगने के साथ धूप निकली लेकिन ठंडी हवा चलने से धूप का कोई असर नहीं रहा। दिन भर कड़ाके की ठंड पड़ती रही, जिसके चलते लोगों की दिनचर्या प्रभावित रही। लोगों ने गर्म कपड़ों का सहारा लेकर व अलाव पर हाथ सेंककर सर्दी से बचाव किया, लेकिन सर्दी तेज होने से दिनभर कंपकंपी लगी रही। शाम 4 बजे के बाद सर्दी ने अपने तेवर फिर तीखे कर लिए।

माउंट आबू में छह दिन रहा तापमान शून्य डिग्री पर
1 दिसम्बर
4 दिसम्बर
5 दिसम्बर
22 दिसम्बर
23 दिसम्बर
24 दिसम्बर को तापमान शून्य डिग्री सेल्सियस
25 दिसम्बर को (-0.5) डिग्री रहा तापमान

Hindi News/ Sirohi / माउंट आबू में सीजन में पहली बार माइनस में पहुंचा तापमान, खुले मैदानों में जमी बर्फ की चादर

ट्रेंडिंग वीडियो