Sitapur News: पति के सामने पांच लोगों ने गर्भवती पत्नी से कर डाला गैंगरेप, और फिर दोनों के साथ...

Sitapur News: उत्तर प्रदेश के सीतापुर में इंसानियत को शर्मसार करने वाला सनसनीखेज मामला सामने आया है।

सीतापुर. Sitapur News: उत्तर प्रदेश के सीतापुर में इंसानियत को शर्मसार करने वाला सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां खेत में पति के साथ काम कर रही गर्भवती पत्नी के साथ पांच दबंगों ने गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया, जब उसके पति ने विरोध किया तो धारदार हथियार से ताबड़तोड़ प्रहार कर उसे लहूलुहान कर दिया। दबंगों का कहर यहीं पर नहीं रुका बल्कि उन्होंने महिला पर भी चाकुओं से वारकर उसे जख्मी कर दिया और मौके से फरार हो गए। खेतों में काम कर रहे स्थानीय लोगों ने पति-पत्नी को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां डाक्टरों ने पति की हालत गंभीर देखते हुए उसे लखनऊ रेफर कर दिया है। पुलिस का कहना है कि वारदात में शामिल पांचों आरोपियों की तलाश की जा रही है। पति के सामने पत्नी के साथ गैंगरेप की वारदात ने पुलिस महकमे की नींद उड़ा रखी है। वहीं पुलिस मामले को पुरानी रंजिश में होना बता रही है।

पति के सामने पत्नी से गैंगरेप

घटना सीतापुर के सदरपुर थाना क्षेत्र की है। यहां के ग्राम लोनियनपुरवा निवासी संजय अपनी 6 माह की गर्भवती पत्नी संगीता के साथ खेतों में काम कर रहा था। मिली जानकारी के मुताबिक गांव के ही निवासी दबंग संजय, धीरज,और रामबहादुर सहित पांच लोग खेत पर पहुंच गए और खेत में काम कर रही संजय की पत्नी संगीता के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। घायल पति का आरोप है कि उसकी आंखों के सामने ही दबंगों ने इस घिनौनी वारदात को अंजाम दिया और विरोध करने पर बांके से प्रहार पर घायल कर दिया। महिला की चीख पर पति ने विरोध किया तो दबंगों ने पति पर बांके से ताबड़तोड़ प्रहार कर उसे लहूलुहान कर दिया और महिला और चाकुओं से कई प्रहार पर उसे जख्मी हालत में छोड़कर फरार हो गए। स्थानीय लोगों ने मामले की सूचना पुलिस को देकर घायल पति पत्नी को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया। डाक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद महिला को भर्ती करा लिया जबकि पति की हालत गंभीर देखते हुए उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया है। डाक्टरों का कहना है कि पति की हालत बेहद गंभीर है और महिला की हालत स्थिर है लेकिन 6 माह की वह गर्भवती भी है और उसका उपचार जारी है।

जांच में जुटी पुलिस

घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का मौका मुआयना किया और स्थानीय लोगों ने बयान दर्ज किए। पुलिस का कहना है कि घायल पति पत्नी के भी बयानों को दर्ज किया गया है और तहरीर के आधार पर आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर कार्यवाई की जाएगी। सीओ महमूदाबाद रवि शंकर का कहना है कि इस वारदात में गांव के 5 लोग शामिल थे और इन्ही लोगों ने पुरानी रंजिश के चलते इस वारदात को अंजाम दिया हैं। पुलिस का कहना है कि वारदात में शामिल अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की 4 टीमों का गठन कर दबिश के लिए अलग अलग ठिकानों पर रवाना कर दिया गया है। पुलिस ने पूरे मामले में लीपापोती करते हुए सभी आरोपों को खारिज कर दिया है लेकिन खून से लथपथ पति के बयानों ने पुलिस की थ्योरी पर ही सवाल खड़े कर दिए हैं।

यह भी पढ़ें: योगी सरकार ने पुलिस महकमे में किया बड़ा उलटफेर, सीबीएसई से पहले आ जाएगा UP Board का रिजल्ट

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned