scriptचारागाह भूमि से हटाया अतिक्रमण | Patrika News
खास खबर

चारागाह भूमि से हटाया अतिक्रमण

पंचायत के भंवरदा गांव में राजस्व रिकॉर्ड की 60.38 हेक्येयर चारागाह भूमि से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू की गई। जानकारी अनुसार राजस्थान उच्च न्यायालय के आदेश की पालना में उपखंड अधिकारी के निर्देश पर तहसीलदार की मौजूदगी में चारागाह भूमि का अतिक्रमण हटाने की शुरुआत की गई।

बूंदीJun 12, 2024 / 06:42 pm

पंकज जोशी

चारागाह भूमि से हटाया अतिक्रमण

रामगंजबालाजी क्षेत्र के भंवरदा गांव में चारागाह भूमि से अतिक्रमण हटाने के दौरान उपस्थित अधिकारी व कर्मचारी।

रामगंजबालाजी. पंचायत के भंवरदा गांव में राजस्व रिकॉर्ड की 60.38 हेक्येयर चारागाह भूमि से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू की गई। जानकारी अनुसार राजस्थान उच्च न्यायालय के आदेश की पालना में उपखंड अधिकारी के निर्देश पर तहसीलदार की मौजूदगी में चारागाह भूमि का अतिक्रमण हटाने की शुरुआत की गई। राजस्व गांव भवरदा की 60 हेक्टेयर से अधिक चरागाह भूमि का जेसीबी की मदद से दिनभर अतिक्रमण हटाया गया।
अतिक्रमण हटाने के दौरान बूंदी तहसीलदार अर्जुन लाल मीणा, कानूनगो राजेंद्र कछोटिया, लक्ष्मण सिंह गुर्जर, हल्का पटवारी रमेश सोमाणी,दोलाडा पटवारी राजेश मीणा, माटुंदा पटवारी बंटी कुमार मीणा, रामगंज बालाजी सरपंच रामलाल सैनी, ग्राम विकास अधिकारी फूंदी लाल सैनी सहित लाइन पुलिस से लगभग एक दर्जन अधिक से महिला पुरूष पुलिसकर्मियों की मौजूदगी में यहां पर दिनभर अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई जारी रही। गांव की राजस्व चारागाह भूमि पर दर्जनों अतिकर्मी पिछले कई वर्षों से खेती करते चले आ रहे थे। खेती करने के साथ-साथ कई अतिक्रमण करने वालों ने भूमि से लाखों रुपए की मिट्टी खोदकर बेचने के बाद में उच्च न्यायालय के आदेश के बाद में यहां पर प्रशासन का पीला पंजा चला। जिससे अतिकर्मियों में दशहथ का माहौल बना रहा।
चारागाह में लगा दिया ईंट भट्टा
रामगंजबालाजी की चरागाह भूमि की सीमा में एक अतिकर्मी ने मागली नदी के किनारे ईंट भट्टा शुरू कर दिया।कुछ दिनों पूर्व यहां पर ईट भट्टा शुरू होने की शिकायत पंचायत के द्वारा जिला प्रशासन को दी थी, लेकिन प्रशासन ने इसे को हटाना मुनासिब नहीं समझा

Hindi News/ Special / चारागाह भूमि से हटाया अतिक्रमण

ट्रेंडिंग वीडियो