scriptग्राम पंचायतों को मॉडल ओडीएफ प्लस बनाकर बेहतर ग्राम पंचायत बनाएं | Patrika News
खास खबर

ग्राम पंचायतों को मॉडल ओडीएफ प्लस बनाकर बेहतर ग्राम पंचायत बनाएं

स्वच्छ भारत मिशन योजना की जिला स्तरीय बैठक जिला कलक्टर अक्षय गोदारा की अध्यक्षता में आयोजित हुई। इसमें जिले के समस्त ग्रामों में ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन के तहत कार्य करवाकर समस्त ग्रामों को मॉडल ऑडीएफ प्लस के रूप में विकसित करने के लिए किए जा रहे कार्यों की समीक्षा कर विकास अधिकारियों को निर्देश दिए गए।

बूंदीJul 06, 2024 / 09:05 pm

पंकज जोशी

ग्राम पंचायतों को मॉडल ओडीएफ प्लस बनाकर बेहतर ग्राम पंचायत बनाएं

बूंदी. स्वच्छ भारत मिशन योजना की बैठक लेते जिला कलक्टर अक्षय गोदारा।

बूंदी. स्वच्छ भारत मिशन योजना की जिला स्तरीय बैठक जिला कलक्टर अक्षय गोदारा की अध्यक्षता में आयोजित हुई। इसमें जिले के समस्त ग्रामों में ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन के तहत कार्य करवाकर समस्त ग्रामों को मॉडल ऑडीएफ प्लस के रूप में विकसित करने के लिए किए जा रहे कार्यों की समीक्षा कर विकास अधिकारियों को निर्देश दिए गए। जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि जिले की सभी ग्राम पंचायतों के प्रत्येक ग्रामों को 15 अगस्त तक मॉडल ओडीएफ प्लस घोषित करवाया जाए। इस संबध में कम प्रगति वाली ग्राम पंचायतो में विशेष प्रयास किए जाए। इसके अलावा ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन की अनुमोदित डीपीआर में शामिल कार्यो को शीघ्र पूर्ण कराएं और आवश्यकतानुसार ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन की डीपीआर में संशोधन किया जाए।
उन्होंने निर्देश दिए कि जिन गांवों में शमशान के लिए भूमि आवंटित नहीं है,उन स्थानों के लिए प्रस्ताव बनाकर भिजवाए जाएं। मनरेगा के तहत अधिक से अधिक कार्य स्वीकृत किए जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि विकास अधिकारी उनके क्षेत्र की ग्राम पंचायतों में 20-20 कार्य कैटल शेड और मेडबंदी के मनरेगा में स्वीकृत कराएं। गोपाल गोशाला डाबी में निर्माणाधीन गोवर्धन बायोगैस प्लान्ट का विकास अधिकारी एवं सहायक अभियंता नियमित निरीक्षण करें एवं साप्ताहिक प्रगति रिर्पोट भेजें।
उन्होंने विकास अधिकारी एवं सहायक अभियंता को निर्देश दिए कि निर्माण कार्य गुणवतापूर्ण करवाया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत निर्माणाधीन भवनों के कार्य शीघ्र पूर्ण करवाए जाएं। सांसद एवं विधायक कोष से स्वीकृत कार्यो की प्रगति बढाई जाएं। बैठक में जिला परिषद के मुय कार्यकारी अधिकारी दुर्गाशंकर मीना नेे सभी ग्राम पंचायतो के प्रत्येक ग्रामों में तरल एवं ठोस कचरा प्रबंधन के लिए अनुमोदित डीपीआर के कार्यो को 31 जुलाई तक पूरा करवाकर ग्रामों को ओडीएफ प्लस घोषित करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिन ग्रामों में ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन के कार्य पूर्ण हो गया है उनको मॉडल ओडीएफ प्लस घोषित करवाया जाएं। इस दौरान बैठक में पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ.रामलाल मीणा,संयुक्त निदेशक कृषि महेश कुमार शर्मा, नगर परिषद आयुक्त अरूणेश शर्मा, स्वच्छ भारत मिशन जिला परियोजना समन्वयक निजामुद्दीन, विकास अधिकारी आदि मौजूद रहे।

Hindi News/ Special / ग्राम पंचायतों को मॉडल ओडीएफ प्लस बनाकर बेहतर ग्राम पंचायत बनाएं

ट्रेंडिंग वीडियो