scriptनियमित कक्षा अध्यापन एवं नवाचारों से मिलेगा श्रेष्ठ परीक्षा परिणाम | Patrika News
खास खबर

नियमित कक्षा अध्यापन एवं नवाचारों से मिलेगा श्रेष्ठ परीक्षा परिणाम

जिले में श्रेष्ठ परीक्षा परिणाम देने एवं न्यूनतम परीक्षा परिणाम वाले विद्यालयों के संस्था प्रधानों की समीक्षा कार्यशाला यहां डाइट बूंदी में आयोजित की गई। जिसमें प्रत्येक ब्लॉक से अपेक्षाकृत न्यून परीक्षा परिणाम वाले संस्थाप्रधानों तथा प्रत्येक ब्लॉक में एक श्रेष्ठ परीक्षा परिणाम देने वाले संस्था प्रधान पहुंचे।

बूंदीJul 05, 2024 / 08:23 pm

पंकज जोशी

नियमित कक्षा अध्यापन एवं नवाचारों से मिलेगा श्रेष्ठ परीक्षा परिणाम

बूंदी. डाइट में आयोजित कार्यशाला को सम्बोधित करते जिला शिक्षा अधिकारी राजेंद्र कुमार व्यास।

बूंदी. जिले में श्रेष्ठ परीक्षा परिणाम देने एवं न्यूनतम परीक्षा परिणाम वाले विद्यालयों के संस्था प्रधानों की समीक्षा कार्यशाला यहां डाइट बूंदी में आयोजित की गई। जिसमें प्रत्येक ब्लॉक से अपेक्षाकृत न्यून परीक्षा परिणाम वाले संस्थाप्रधानों तथा प्रत्येक ब्लॉक में एक श्रेष्ठ परीक्षा परिणाम देने वाले संस्था प्रधान पहुंचे।
मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी डॉ.महावीर कुमार शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित हुई कार्यशाला में बोलते हुए उन्होंने बताया कि नियमित कक्षा अध्यापन, गृह कार्य जांच, कक्षा पर्यवेक्षण एवं नवाचारों के माध्यम से विद्यालय के परीक्षा परिणाम को श्रेष्ठ बनाया जा सकता है। जिला शिक्षा अधिकारी मुख्यालय माध्यमिक राजेंद्र कुमार व्यास ने बताया कि इस वर्ष जिले के बोर्ड परीक्षा परिणाम में 6 फीसदी वृद्धि हुई है एवं आगे भी परिणाम और श्रेष्ठ रहे इसके लिए कार्य योजना बनाकर ही कार्य किया जाए।
संस्थाप्रधान समय विभाग चक्र बनाकर नियमित रूप से कक्षाओं का संचालन,बच्चों को पर्याप्त गृह कार्य एवं उसकी समय पर जांच हो यह सुनिश्चित किया जाए। कार्यशाला में अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी ओमप्रकाश गोस्वामी व शैक्षिक प्रकोष्ठ अधिकारी चंद्रप्रकाश राठौर ने भी अपने विचार रखे। कार्यशाला में बूंदी ब्लॉक के श्रेष्ठ विद्यालय में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, जावटीकलां, हिंडोली ब्लॉक से राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बड़ानयागांव,के.पाटन ब्लॉक से राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय चडी, नैनवां ब्लॉक से राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय जरखोदा व तालेड़ा ब्लॉक से राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय खडीपुर संस्था प्रधान उपस्थित रहे।
अधिकारियों ने लिए सुझाव
कार्यशाला में अधिकारियों ने सभी न्यून परीक्षा परिणाम रहने वाले संस्था प्रधानों से उनके अनुभव तथा परीक्षा परिणाम न्यून रहने के कारण प्राप्त किए गए। इसके पश्चात अपने-अपने ब्लॉक में श्रेष्ठ परीक्षा परिणाम देने वाले संस्था प्रधानों के द्वारा सभी संभागियों को यह बताया गया कि उनके विद्यालयों का परीक्षा परिणाम किस प्रकार से श्रेष्ठ रहा। इस अवसर पर अधिकारी चंद्रप्रकाश राठौर ने श्रेष्ठ परीक्षा परिणाम रहने वाले विद्यालयों से प्रेरणा लेते हुए न्यून परीक्षा परिणाम वाले संस्था प्रधानों को मार्गदर्शन प्रदान किया।
संस्थाप्रधानों ने यह किया नवाचार
राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय जावंटीकला के संस्था प्रधान नवनीत जैन ने विद्यालय का परीक्षा परिणाम श्रेष्ठ रखने एवं विद्यार्थियों में प्रतिस्पर्धा उत्पन्न के लिए कक्षा 12 वीं में 80 फीसदी से अधिक अंक प्राप्त करने वाले प्रत्येक विद्यार्थी को 1 हजार रुपए पुरस्कार स्वरूप प्रदान किए जाते हैं।राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय जरखोदा के संस्था प्रधान जयदयाल ने नवाचार के रूप में विद्यालय से जिला स्तर पर प्रथम स्थान पर रहने वाले विद्यार्थी को हवाई यात्रा कराई जाने की घोषणा की।
इससे विद्यार्थी प्रेरित होंगे। राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय चडी के संस्था प्रधान रमेश सिंह गुर्जर ने यदि विद्यार्थी दो-तीन दिन तक विद्यालय से अनुपस्थित रहता है तो स्वयं उसके घर पर जाकर बच्चों एवं माता-पिता से संपर्क कर विद्यालय में आने के लिए प्रेरित किया जाता है। इससे अध्यापक अभिभावक से सीधे सम्पर्क में रहते है तथा अभिभावकों का भी लगाव बढ़ता है।

Hindi News/ Special / नियमित कक्षा अध्यापन एवं नवाचारों से मिलेगा श्रेष्ठ परीक्षा परिणाम

ट्रेंडिंग वीडियो