टोक्यो ओलंपिक में जाने वाले भारतीय खिलाड़ियों की मदद के लिए बीसीसीआई देगा 10 करोड़ रुपए

भारत की तरफ से अब तक 100 से अधिक खिलाड़ी टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं। इनमें से कई खिलाड़ी देश और विदेश में ट्रेनिंग कर रहे हैं।

By: Mahendra Yadav

Updated: 21 Jun 2021, 08:26 AM IST

भरतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने ओलंपिक में भाग लेने वाले भारतीय खिलाड़ियों की मदद का ऐलान किया है। बीसीसीआई की शीर्ष परिषद बैठक में यह फैसला लिया गया। बैठक के दौरान घोषणा की गई कि जो खिलाड़ी भारत की तरफ से ओलंपिक में भाग लेंगे, बीसीसीआई उनकी हरसंभव मदद करेगा। टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके भारतीय खिलाड़ियों की तैयारियों और प्रशिक्षण के लिए बीसीसीआई ने 10 करोड़ रुपए देने का ऐलान किया है। बोर्ड ने यह कदम इसलिए उठाया है ताकि ओलंपिक में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियो को किसी तरह की परेशानी न हो।

तय किया जाएगा भुगतान का तरीका
बीसीसीआई की शीर्ष परिषद बैठक में अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह भी मौजूद रहे। बीसीसीआई के एक सीनियर पदाधिकारी ने कहा कि ओलंपिक दल की मदद के लिए बीसीसीआई की शीर्ष परिषद ने 10 करोड़ रुपये की मंजूरी दी है। इस कोष का उपयोग टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाले खिलाडि़यों की तैयारियों और अन्य उद्देश्यों के लिए किया जाएगा। वहीं भुगतान का तरीका खेल मंत्रालय और भारतीय ओलंपिक संघ (आइओए) से बात करने के बाद तय होगा।

यह भी पढ़ें— टोक्यो ओलंपिक: जापान ने भारतीय खिलाड़ियों के लिए बनाए कड़े नियम, आईओए ने जताई नाराजगी

olympics.png

पहले भी की है मदद
चीनी कंपनी लिनिंग के किट प्रायोजक के तौर पर हटने के बाद बीसीसीआई ने यह कदम उठाया है। बीसीसीआई की इस राशि से भारत के ओलंपिक दल की कई तरीकों से मदद होगी, जिसमें ट्रेनिंग और तैयारियां शामिल हैं। बीसीसीआई अधिकारी ने कहा कि बोर्ड ओलंपिक खेलों के विकास में मदद करने में यकीन रखता है और यह पहली बार नहीं है जब इतनी बड़ी रकम सहायता के लिए दी गई हो। इससे पहले भी बोर्ड ने कई मौकों पर ऐसी मदद की है।

यह भी पढ़ें— किसी भारतीय एथलीट को ओलंपिक में मेडल जीतते देखना चाहते थे मिल्खा सिंह

एथलीट्स की तैयारियों पर पड़ रहा था असर
टोक्यो ओलंपिक 23 जुलाई से शुरू होंगे। वहीं भारत की तरफ से अब तक 100 से अधिक खिलाड़ी टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं। इनमें से कई खिलाड़ी देश और विदेश में ट्रेनिंग कर रहे हैं। वहीं बीसीसीआई के इस फैसले से निश्चित रूप से ओलंपिक में हिस्सा लेने वाले भारतीय खिलाड़ियों का आर्थिक संकट दूर होगा। दरअसल, चीनी कंपनी ली निंग के साथ कॉन्ट्रैक्ट रद्द करने का असर भारतीय एथलीट्स की तैयारियों पर भी पड़ रहा था।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned