सन्यास लेने के बाद Yuvraj Singh करना चाहते हैं भारतीय क्रिकेट में वापसी, चिट्‌ठी लिखकर मांगी इजाजत

  • Yuvraj Singhने बीते साल इंटरनेशनल और डोमेस्टिक क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की थी।
  • Yuvraj Singh एक बार फिर भारतीय क्रिकेट में वापसी करने के लिए तैयार हैं

By: Pratibha Tripathi

Updated: 10 Sep 2020, 11:23 AM IST

नई दिल्ली। टीम इंडिया के पूर्व ऑलराउंडर Yuvraj Singh बीते साल इंटरनेशनल और डोमेस्टिक क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की थी। लेकिन क्रिकेट से उनका मोह भंग नहीं हुआ, वे बाद में विदेशी टी20 और टी10 लीग में अपना हुनर दिखाते रहे। इसके लिए उन्होंने बाकायदा बीसीसीआइ यानी भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड से अनुमति मांगी, तो उन्हें इसकी परमिशन भी मिल गई। लेकिन इस क्रिकेट स्टार का दिल एक बार फिर अपेन सूबे के लिए खेलने का हो रहा है, विशेष रूप से घरेलू क्रिकेट में।

जानकारों का मानना है कि हो सकता है कि Yuvraj Singh के चाहने वालों को एक बार फिर से उन्हे लंबे शॉट्स लगाते युवराज देखने को मिलें। सूत्रों का मानना है कि हो सकता है कि युवराज सिंह पंजाब के लिए टी20 क्रिकेट खेलते नज़र आएं। पर कोरोना वायरस महामारी की वजह से डोमेस्टिक क्रेकेट नहीं खेला जा सका है। आपको बतादें जून 2019 में क्रिकेट से पूरी तरह सन्यास की घोषणा करने वाले युवराज को इस खेल ने फिर से बेचैन कर दिया है, और वे फिर मैदान में उतरना चाहते हैं।

2011 के क्रिकेट वर्ल्ड कप में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का खिताब हथियाने वाले युवराज सिंह ने बीते दिनों मोहाली के पीसीए स्टेडियम में पंजाब की टीम के युवा खिलाड़ियों शुभमन गिल, अभिषेक शर्मा, प्रभसिमरन सिंह और अनमोल प्रीत सिंह के साथ अच्छा खासा समय बिताया, और युवाओं को ट्रेनिंग भी दी ।

युवराज सिंह ने एक इंटरव्यू में कहा कि, "मुझे क्रिकेट की बारीकियों को नये खिलाड़ियों को सिखाने के लिए नेट्स में उतरना पड़ा और मुझे इस बात पर हैरानी हुई कि मैं गेंद को कितनी अच्छी तरह से मार रहा था। भले ही मैनें वास्तव में लंबे समय तक बल्ला नहीं छूआ था, लेकिन नेट्स में अच्छे शॉट लगा रहा था। मैंने उनको दो महीने तक ट्रेन किया, और फिर मैंने ऑफ सीजन कैंप में बल्लेबाजी शुरू की। मैंने प्रैक्टिस मैचों में रन बनाए। पुनीत बाली जो पंजाब क्रिकेट संघ के सचिव हैं, उन्होंने मुझसे रिटायरमेंट के फैसले को वापस लेने के लिए कहा।"

युवराज ने आगे कहा कि, "शुरू में मुझे यकीन हो रहा था कि मैं ये ऑफर स्वीकार कर सकता हूं। मैंने घरेलू क्रिकेट काफी खेली है, लेकिन मैं BCCI से अनुमति मिलने के बाद दुनिया भर में अन्य घरेलू फ्रेंचाइजी आधारित लीगों में खेलना जारी रखना चाहता हूं,।"

युवराज सिंह ने कहा कि उनको पंजाब के चैंपियनशिप जीतने से प्रेरणा मिली है, मैं उनके विकास में और पंजाब क्रिकेट संघ के विकास में कोई मदद कर सकता हूं तो यह अच्छा होगा। आखिरकार पंजाब के लिए ही खेलकर मैंने इंटरनेशनल क्रिकेट खेली है।"

आपको बदातादें युवराज सिंह ने अपने रिटायरमेंट के बाद एक बार फिर मैदान में उतरने को लेकर बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह को ईमेल के जरिए अगले कुछ सीजन पंजाब के लिए खेलने की इच्छा जताई है। इस मेल में युवराज सिंह ने यह इसपष्ट कर दिया है कि अगर उनको अनुमति दी जाती है तो वे फिर विदेशी लीग्स में खेलना पसंद नहीं करेंगे। हालांकि अभी तक युवराज सिंह को बीसीसीआइ से जवाब नहीं मिला है। युवराज का कहना है कि अगर अनुमति मिली तो वे सिर्फ टी20 क्रिकेट खेलेगे, लेकिन समय कब क्या कर सकता है कोई नहीं जानता है।

Pratibha Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned