ई-नाम का दायरा बढ़ाने की कवायद, 50 और मंडियों में शुरू करने की तैयारी

ई-नाम का दायरा बढ़ाने की कवायद, 50 और मंडियों में शुरू करने की तैयारी

vikas meel | Publish: Apr, 17 2018 09:46:25 PM (IST) Sri Ganganagar, Rajasthan, India

कृषि विपणन विभाग की राष्ट्रीय कृषि बाजार (ई-नाम) का दायरा बढ़ाने की कवायद जारी है।

श्रीगंगानगर

कृषि विपणन विभाग की राष्ट्रीय कृषि बाजार (ई-नाम) का दायरा बढ़ाने की कवायद जारी है। अभी राज्य की 25 कृषि उपज मंडियां इस योजना से जुड़ी हुई है, अब इससे दोगुनी, 50 और मंडियों में ई-नाम प्रारम्भ करने पर विचार किया जा रहा है। इस क्रम में गत सप्ताह ई-नाम के प्रांतीय समन्वयक रवि कुमार चन्द्रा यहां आए थे। जिले में श्रीगंगानगर की कृषि उपज मंडी समिति अनाज एवं पदमपुर मंडी में ई-नाम पहले से चल रहा है।


सब कुछ सामान्य रहा तो चालू वित्तीय वर्ष में अनूपगढ़, घड़साना, जैतसर, रायसिंहनगर, श्रीकरणपुर एवं श्रीबिजयनगर तथा हनुमानगढ़ जिले में नोहर, रावतसर एवं हनुमानगढ़ में योजना को शुरू कर दिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि दो साल पहले पायलट बेसिस पर देश के 8 राज्यों की 21 मंडियों में इस योजना को शुरू किया गया था। मार्च, 2018 तक देश की 585 मंडियों को ई-नाम से जोडऩे का लक्ष्य था और यह पूरा कर लिया गया।

 

'सरकारें मौन, बेटियां नहीं सुरक्षित'

श्रीगंगानगर. महिला कांग्रेस कमेटी की प्रदेशाध्यक्ष रेहाना रियाज चिश्ती ने कहा कि कठुआ और उन्नाव दुष्कर्म मामले में देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं। लोगों में गुस्सा है लेकिन राज्य और देश के मुखिया ने एक शब्द ही नहीं बोला। यह बेहद शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि इन जघन्य अपराधों के विरोध में महिला कांग्रेस देशभर में काला दिवस मना रही है। प्रधानमंत्री और भाजपा से जुड़ी महिला नेत्रियां कुछ नहीं बोल रही है जबकि आज देश में बेटियां सुरक्षित नहीं है।

 

चिश्ती ने मंगलवार को पंचायती धर्मशाला में मीडिया से बातचीत में कहा कि कैंडल मार्च शाम को निकाली जाती है लेकिन महिला कांग्रेस लालटैन और चिमनी लेकर दुपहरी में राज्य व केंद्र की सरकार को जगा रही है। उन्होंने कठुआ और उन्नाव प्रकरण में तुंरत कार्रवाई की मांग की। उन्होंने कहा कि श्रीगंगानगर जिले सहित राज्य में महिलाएं जागृति के रूप में पार्टी में अच्छा काम कर रही हैं। महिलाओं से जुड़े हर मुद्दे पर महिला कांग्रेस काम कर रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned