scriptमिस्त्री ने नहर में छलांग लगाकर दी जान, ढाई महीने पहले हुई थी शादी | mechanic committed suicide by jumping into a canal | Patrika News
श्री गंगानगर

मिस्त्री ने नहर में छलांग लगाकर दी जान, ढाई महीने पहले हुई थी शादी

सूरतगढ़ क्षेत्र गांव ढाबां झल्लार के एक युवक ने साधुवाली के पास बारहमासी नहर में कूदकर अपनी जान दे दी। खुदकुशी के कारणों का पता नहीं चल पाया है।

श्री गंगानगरJun 28, 2024 / 02:37 pm

Kamlesh Sharma

श्रीगंगानगर। सूरतगढ़ क्षेत्र गांव ढाबां झल्लार के एक युवक ने साधुवाली के पास बारहमासी नहर में कूदकर अपनी जान दे दी। खुदकुशी के कारणों का पता नहीं चल पाया है। पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से शव को नहर से बाहर निकालकर परिजनों को सुपुर्द किया। गांव में गमगीन माहौल में उसका अंतिम संस्कार किया गया।
जवाहरनगर थाने के एएसआई राजकुमार ने बताया कि गांव ढाबां झल्लार निवासी 25 वर्षीय श्रवण पुत्र नंदराम कुहार ने बुधवार को साधुवाली गांव में बारहमासी नहर में छलांग लगा दी। नहर के पास युवक श्रवण ने अपना मोबाइल और पर्स बाहर रख दिया था। उसको नहर में छलांग लगाते को वहां होटल पर बैठे दुकानदार ने देख लिया और उसके आवाज लगाने के बाद साधुवाली के गोताखोरों ने इसे बचाने के लिए काफी मशक्कत की लेकिन तब तक डेढ़ घंटे का समय बीत चुका था। जब तक उसे नहर से बाहर निकाला तो उसकी मौत हो गई।
जांच अधिकारी ने बताया कि युवक की शादी करीब ढाई महीने पहले हुई थी। वह अपने माता पिता का इकलौता बेटा था। यह युवक पहले अपने गांव में मोटरसाइकिल मिस्त्री के रूप में दुकान चलाता था लेकिन शादी के बाद वह यहां श्रीगंगानगर में मोटरसाइकिल मिस्त्री की दुकान पर काम करने लगा। श्रवण के चाचा गांव ढाबां झल्लार निवासी इन्द्रपाल पुत्र भागीरथ की सूचना पर जवाहरनगर पुलिस ने मर्ग दर्ज की है।
यह भी पढ़ें

बीएसटीसी के पेपर खराब होने पर युवती ने दी जान, 9 दिन पहले परीक्षा देकर लौटी थी

परिजनों की कॉल आई तब तक लगा चुका था छलांग

मिस्त्री के परिजनों ने उससे संपर्क करने के लिए कॉल की तो उसने कॉल रिसीव नहीं की। जब परिजनों ने मिस्त्री की दुकान पर कॉल किया तो बताया गया कि वह तो दुकान पर काम करने के लिए आया नहीं है। ऐसे में परिजनों में चिंता बढ़ गई। इसके मोबाइल पर फिर कॉल की तो नहर के किनारे पड़े फोन को साधुवाली के गोताखोरों ने रिसीव कर पूरे घटनाक्रम के बारे में बताया। कॉल तब आई जब गोताखोर उसके शव को बाहर निकालने की तैयारी कर रहे थे। मृतक के परिचित ने बताया कि जब पर्स की जांच की तो उसमें ढाबां झल्लार से श्रीगंगानगर की बस टिकट मिली। वह बस से श्रीगंगानगर आया और फिर मरने के इरादे को लेकर साधुवाली नहर के पास पहुंचा।

Hindi News/ Sri Ganganagar / मिस्त्री ने नहर में छलांग लगाकर दी जान, ढाई महीने पहले हुई थी शादी

ट्रेंडिंग वीडियो