थम गए ट्रकों के पहिए, ट्रांसपोर्ट कंपनियां बंद

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

By: vikas meel

Published: 20 Jul 2018, 09:30 PM IST

श्रीगंगानगर.

आल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस के आह्वान पर शुक्रवार दोपहर जिले भर में ट्रकों के पहिये थम गए। इसके साथ ही ट्रांसपोर्ट कंपनियों ने बाहर से आने वाले माल की बुकिंग और सप्लाई बंद कर दी। जिला मुख्यालय पर लगभग दो दर्जन ट्रांसपोर्ट कंपनियां हैं। इन पर शुक्रवार को माल लदे ट्र्रक पहुंचे। दोपहर तक ट्रकों की आवाजाही सामान्य रही, लेकिन बाद में ट्रक जहां थे, उन्हें वहीं रोक दिया गया। ट्रांसपोर्ट कंपनियों की यूनियन न होने के कारण दोपहर तक हड़ताल को लेकर असमंजस की स्थिति रही। सुबह पहुंचे ट्रकों से माल उतारा गया, लेकिन बाद में बुकिंग और सप्लाई का काम रोक दिया गया। शाम को मंडियों में भेजे जाने वाला सामान भी ट्रकों पर नहीं लदवाया गया।

 

रोजमर्रा के सामान पर असर

श्रीगंगानगर-हनुमानगढ़ क्षेत्र में लगभग 700 ट्रक हैं। ट्रकों की इस हड़ताल से रोजमर्रा की जरूरत की चीजों की सप्लाई पर असर पड़ा है। ट्रांसपोर्ट यूनियन के पूर्व प्रधान बलदेव सैनी ने बताया कि डीजल की कीमतों में त्रैमासिक संशोधन ट्रकों को टोल मुक्त करने, थर्ड पार्टी बीमा प्रीमियम पर जीएसटी की छूट, ट्रांसपोर्ट पर टीडीएस खत्म करने आदि की मांग को लेकर ट्रांसपोर्टर्स की यह अनिश्चितकालीन हड़ताल मांगे न माने जाने तक जारी रहेगी।

 

कम पेट्रोल दिए जाने की शिकायत सही निकली

श्रीगंगानगर. बाट एवं माप तौल विभाग ने गोशाला रोड पर स्थित मैसर्स गुरचरण लाल भाटिया एंड संस पेट्रोल पंप पर शुक्रवार को अचानक जांच कर शॉर्ट डिलीवरी पाए जाने के कारण पंप की चार नोजल से पेट्रोल की सप्लाई (बिक्री) बंद करवा दी गई। यह कार्रवाई कलक्टर के निर्देश पर बाट माप अधिकारी नीरज शर्मा ने एक शिकायत की जांच के बाद की। अधिकारिक सूत्रों के अनुसार भाटिया पेट्रोल पंप पर लगी एमपीडी (मशीन) के जरिए कई दिनों से उपभोक्ताओं के वाहनों में कम पेट्रोल डालने की शिकायतें मिल रही थी। इस संबंध में राहुल कुमार नरूला ने अधिकारियों को शिकायत की।

 

लगाई जाएगी पैनल्टी

कलक्टर ज्ञानाराम ने जांच के लिए बाट माप अधिकारी नीरज शर्मा को मौके पर जाने के निर्देश दिए। शिकायतकर्ता को मौके पर बुलवा लिया गया। पेट्रोल पंप पर एक मशीन (एमपीडी) पर लगी चार नोजल के जरिए कम पेट्रोल दिए जाने की शिकायत को सही पाया गया। इस पर बाट माप अधिकारी ने इन चारों नोजल के जरिए पेट्रोल की बिक्री बंद करवा दी। शर्मा ने बताया कि आगामी आदेश तक उक्त पेट्रोल पंप पर संबंधित मशीन के जरिए पेट्रोल की बिक्री बंद रहेगी। पंप संचालक पर पैनल्टी लगाकर उक्त मशीन का पुन: सत्यापन किया जाएगा।

Show More
vikas meel
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned