Video: जदों ए औउंदी है लोहड़ी, खुशियां ल्योउंदी है लोहड़ी

pawan uppal | Publish: Jan, 14 2018 06:48:25 AM (IST) | Updated: Jan, 14 2018 08:53:19 AM (IST) Sri Ganganagar, Rajasthan, India

शनिवार को दिन में शिक्षण संस्थाओं में भी अलाव जलाकर मूंगफली और रेवडिय़ां बांटने का कार्यक्रम चला।

श्रीगंगानगर.

पंजाब से सटे जिला मुख्यालय पर लोहड़ी पर्व की धूम शनिवार देर रात जारी रही। हर गली और मोहल्ले में घरों के आगे अलाव जलाकर काले और सफेद तिल को डालकर दुखों का अंत कर इलाके की स्मृद्धि की कामना की गई। इसके बाद युवाओं ने डीजे साउण्ड और ढोल की थाप पर नाचने का दौर शुरू किया। कई जगह पंजाबी पोप गीतों के माध्यम से लोहड़ी की खुशी का इजहार किया जा रहा है। गली-मोहल्ले से रौनक शहर के मुख्य बाजार तक देखी जा सकती थी, मंूगफली और रेवडिय़ां बांटने के लिए वितरित करने और खाने में व्यस्त था। पंजाबी बाहुल्य क्षेत्र होने के कारण लोहड़ी का पर्व का प्रभाव अधिक रहता है, ऐसे में शनिवार को दिन में शिक्षण संस्थाओं में भी अलाव जलाकर मूंगफली और रेवडिय़ां बांटने का कार्यक्रम चला।

 

अविवाहित युवती ने जन्मा 7 माह का मृत बच्चा

 


और एकाएक जुट गई भीड़
मुख्य बाजार की प्रत्येक गली में मूंगफली, गजक, रेवडियां, खजूर, घेवर आदि खाने की वस्तुओं के लिए दुकानदारों ने विशेष सजावट की थी, यहां तक कि दुकानों के आगे अतिरिक्त टैंट लगाकर ऐसे सामान बेचने के लिए बकायदा छूट भी दे रखी थी। शनिवार दोपहर से लेकर शाम तक ग्राहकों की भीड़ एकाएक बढ़ गई। देखते देखते सैंकड़ों क्विंटल मूंगफली की बिक्री हो गई। वहीं यूपी और राजस्थान के दूर दराज से आए कई लोगों ने शहर के मुख्य मार्गो के किनारे गर्मागम मूंगफली के अस्थायी दुकानें लगा रखी थी, वहां भी शनिवार रात तक मूंगफली की बिक्री अधिक देखने को मिली।


बांटी मूंगफली-रेवडिय़ां
श्रीगंगानगर. भाजयुमो के कार्यकर्ताओं ने नगर मण्डल अध्यक्ष रजत स्वामी के नेतृत्व में यूआईटी के नजदीक मॉडल टाउन में झुग्गी-झोपडिय़ों में जाकर जरूरतमंद बच्चों को मूंगफली-रेवडिय़ां बांटकर लोहड़ी पर्व मनाया। भाजयुमो के नगर मण्डल अध्यक्ष रजत स्वामी ने बताया कि इस दौरान झुग्गी-झोपडिय़ों में रहने वाले बच्चो और उनके परिजनों को शिक्षा का संकल्प दिलाया गया। इस कार्यक्रम में वैभव भारती, भाजयुमो उपाध्यक्ष मोहित सिडाना, साहिल भाटिया, नगर मंत्री अभिषेक शमा आदि मौजूद थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned