श्रीगंगानगर के इस क्षेत्र में पानी का भण्डारण खत्म हो जाने से गहराया पेयजल संकट

vikas meel

Publish: Apr, 17 2018 08:49:48 PM (IST)

Sri Ganganagar, Rajasthan, India
श्रीगंगानगर के इस क्षेत्र में पानी का भण्डारण खत्म हो जाने से गहराया पेयजल संकट

सीमावर्ती घड़साना क्षेत्र में 17 जलप्रदाय योजनाओं में पानी का भण्डारण खत्म हो जाने के कारण पेयजल संकट गहरा गया है।

- कलक्टर ने जल संसाधन विभाग को दिए निर्देश
श्रीगंगानगर.

सीमावर्ती घड़साना क्षेत्र में 17 जलप्रदाय योजनाओं में पानी का भण्डारण खत्म हो जाने के कारण पेयजल संकट गहरा गया है। इसका सीधा असर लगभग 50 गांवों पर पड़ा है। इन गांवों के ग्रामीणों एवं मवेशियों के लिए अब पानी की व्यवस्था करना काफी मुश्किल हो गया है। जिला कलक्टर ज्ञानाराम के निर्देश पर जल संसाधन विभाग के मुख्य अभियंता ने भी स्थिति गंभीर मानते हुए विभाग के कमिश्नर से दिशा निर्देश मांगे हैं।

श्रीगंगानगर के इस अस्पताल में एक माह से बंद पड़ी है निशुल्क जांच सुविधा, मरीजों को हो रही परेशानी

घड़साना के उपखण्ड अधिकारी की ओर से कलक्टर को भेजी गई रिपोर्ट में बताया गया है कि आरजेडी नहर की 13 और एसएलडी नहर की चार जलप्रदाय योजनाओं में दो दिन का पेयजल शेष है। इन योजनाओं पर पानी के भण्डारण की अविलम्ब व्यवस्था की जानी जरूरी है। इस पर कलक्टर ने जल संसाधन विभाग के मुख्य अभियंता को तत्काल आवश्यक व्यवस्था करने के निर्देश दिए। इन्दिरा गांधी नहर परियोजना में दो मई तक नहर बंदी है। इसी के दृष्टिगत जलप्रदाय योजना के लिए पानी का भण्डारण किया गया था। इन जलप्रदाय योजनाओं में दस से बीस दिनों के लिए पानी का भण्डारण संभव है। जलदाय विभाग ने दो दिन बाद पानी की सप्लाई की, लेकिन अब स्थिति विकट हो गई है। इन जलप्रदाय योजनाओं के लिए कोई विकल्पिक व्यवस्था नहीं की गई है। ये सभी गांव नहरी पानी पर ही निर्भर है।

धान मण्डी में कृषि जिन्सों की आवक बढ़ी

अनूपगढ़ क्षेत्र में आईजीएनपी की मैन कैनाल में पानी भंडारण के लिए पौंड बनाया हुआ है। इस पानी को ही आरजेडी और एसएलडी नहर में छोड़कर प्रभावित जलप्रदाय योजनाओं को राहत दी जा सकती है। इस संबंध में विभाग के कमिश्नर से भी दिशा-निर्देश मांगे गए हैं।

- केएल जाखड़, मुख्य अभियंता, जल संसाधन उत्तर खंड, हनुमानगढ़

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned