इस मंदिर में भोलेनाथ पीते हैं सिगरेट, अर्पित करते ही अपने आप सुलगने लगती है

इस मंदिर में भोलेनाथ पीते हैं सिगरेट, अर्पित करते ही अपने आप सुलगने लगती है

Tanvi Sharma | Publish: Nov, 25 2018 06:14:45 PM (IST) मंदिर

इस मंदिर में भोलेनाथ पीते हैं सिगरेट, अर्पित करते ही अपने आप सुलगने लगती है

भगवान शिव को भांग, धतुरा अर्पित किया जाता है। शिव जी को भांग बहुत प्रिय होती है। कई जगहों पर भांग से भगवान शिव जी का श्रृंगार किया जाता है और प्रसाद के रुप में भांग चढ़ाई जाती है। यह बात तो सब ही जानते हैं, लेकिन आश्चर्य की बात तो यह है की भगवान शिव का एक ऐसा अनोखा मंदिर भी है जहां शिव जी को सिगरेट अर्पित की जाती है। जी हां, यहां शिव जी ना सिर्फ सिगरेट पीते हैं। बल्कि धुंआ भी उड़ाते हैं। जानकर आपको हैरानी जरुर होगी लेकिन हिमाचल प्रदेश के उर्की सोलन जिले में भगवान शिव का अनोखा मंदिर है। यह अनोखा मंदिर लुटरु महादेव मंदिर के नाम से प्रसिद्ध है।

luturu mahadev mandir

इस मंदिर में आने वाले भक्त फूल, प्रसाद के साथ सिगरेट भी साथ में लेकर आते हैं और भोले बाबा को अर्पित करते हैं। इतना ही नहीं शिव जी को सिगरेट चढ़ाते ही वे इसे बड़े चाव के साथ पीते हैं। इसलिए उनकी पूजा में यहां विशेष तौर पर सिगरेट चढ़ाई जाती है। लुटरू महादेव मंदिर में आज से नहीं बल्कि सदियों से शिवलिंग को सिगरेट पिलाई जाती है। कुछ लोग इसे चमत्कार कहते हैं तो कुछ इसे अंधविश्वास का नाम दे देते हैं, लेकिन इसे देखने दूर-दूर से लोग आते हैं।

luturu mahadev mandir

अपने आप सुलग जाती है सिगरेट

इस शिवलिंग पर सिगरेट अर्पित करने के बाद उसे कोई सुलगाता नहीं है, बल्कि वो अपने आप ही सुलगती है। इसमें से धुंआ भी कुछ इसी तरह से निकलता है जिसे देखकर ऐसा लगता है जैसे कि स्वयं भोलेनाथ सिगरेट पी रहे हों। भगवान शिव के इस दृश्य को देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते है और इस चमत्कार को देखते हैं। महादेव के इस मंदिर में भगवान शिव के शिवलिंग में कई जगहों पर गड्ढे बने हुए है, जिसमें भक्त सिगरेट फंसा देते है। इस दृश्य को देखते ही लोग खुद को अपने केमरे में विडियो बनाने से रोक नहीं पाते हैं। मंदिर का निर्माण सन् 1621 में बाघल रियासत के राजा द्वारा किया गया था। कहा जाता है की बाघल रियासत के राजा को एक दिन भगवान शिव ने सपने में दर्शन दिए व उन्हें इस मंदिर का निर्माण करने को कहा, तब राजा ने इस मंदिर का निर्माण करवाया था।

Ad Block is Banned