scriptMehendipur balaji hanuman mandir in rajasthan dosa | भूलकर भी घर लेकर ना आएं इस मंदिर का प्रसाद, वरना साथ आ जाएगी मुसीबत | Patrika News

भूलकर भी घर लेकर ना आएं इस मंदिर का प्रसाद, वरना साथ आ जाएगी मुसीबत

भूलकर भी घर लेकर ना आएं इस मंदिर का प्रसाद, वरना साथ आ जाएगी मुसीबत

भोपाल

Published: January 19, 2019 12:45:44 pm

भारत देश में वैसे तो कई अनोखे मंदिर हैं जिनमें होने वाले चमत्कारों के बारे में विज्ञान भी नहीं जान पाया है। वहीं हनुमान जी के मंदिरों की बात की जाए तो उनके मंदिरों में कई रहस्य और चमत्कार छिपे हुए हैं। भगवान हनुमान जी के इन्हीं मंदिरों में से एक प्रमुख मंदिर राजस्थान के दौसा जिले में स्थित है। यह मंदिर मेहंदीपुर बालाजी के नाम से प्रसिद्ध है। मंदिर में स्थापित मेहंदीपुर बालाजी की बायीं छाती में एक छोटा सा छेद है, जिससे लगातार जल निकलता है। लोगों की मान्यताओं के अनुसार कहा जाता है की यह बालाजी का पसीना है। यहां बालाजी के साथ-साथ प्रेतराज और भैरों महाराज भी विराजमान है। भैरों जी को कप्तान कहा जाता है। मंदिर का नज़ारा पहली बार जाने वाले व्यक्ति के लिए बहुत ही भयानक होता है, क्योंकि यहां लोगों के ऊपर काली छाया और प्रेत बाधा का साया दूर करने के लिए लाया जाता है। मंदिर में प्रांगण में पहुंचते ही व्यक्ति के अंदर की बुरी शक्तियां जैसे भूत, प्रेत, पिशाच कांपने लगते हैं। यहां प्रेतात्मा को शरीर से मुक्त करने के लिए उसे कठोर से कठोर दंड दिया जाता है।

mehendipur balaji
mehendipur balaji

मंदिर का प्रसाद नहीं ले जा सकते घऱ

बालाजी मंदिर की खासियत है कि यहां बालाजी को लड्डू, प्रेतराज को चावल और भैरों को उड़द का प्रसाद चढ़ाया जाता है। कहते हैं कि बालाजी के प्रसाद के दो लड्डू खाते ही भूत-प्रेत से पीड़ित व्यक्ति के अंदर मौजूद भूत प्रेत छटपटाने लगता है और अजब-गजब हरकतें करने लगता है। यहां पर चढ़ने वाले प्रसाद को दर्खावस्त और अर्जी कहते हैं। मंदिर में दर्खावस्त का प्रसाद लगने के बाद वहां से तुरंत निकलना होता है। जबकि अर्जी का प्रसाद लेते समय उसे पीछे की ओर फेंकना होता है। इस प्रक्रिया में प्रसाद फेंकते समय पीछे की ओर नहीं देखना चाहिए। आमतौर पर मंदिर में भगवान के दर्शन करने के बाद लोग प्रसाद लेकर घर आते हैं लेकिन मेंहदीपुर बालाजी मंदिर से मेहंदीपुर में चढ़ाया गया प्रसाद यहीं पूर्ण कर जाएं। इसे घर पर ले जाने का निषेध है। खासतौर से जो लोग प्रेतबाधा से परेशान हैं, उन्हें और उनके परिजनों को कोई भी मीठी चीज और प्रसाद आदि साथ लेकर नहीं जाना चाहिए। शास्त्रों के अनुसार सुगंधित वस्तुएं और मिठाई आदि नकारात्मक शक्तियों को अधिक आकर्षित करती हैं। इसलिए इनके संबंध में स्थान और समय आदि का निर्देश दिया गया है।

mehendipur balaji

मेहंदीपुर बालाजी जाने से पहले जरुर रखें इन बातों का ध्यान

मेंहदीपुर बाला जी के दर्शन करने वालों के लिए कुछ कड़े नियम होते हैं। यहां आने से कम से कम एक सप्ताह पहले लहसुन, प्याज, अण्डा, मांस, शराब का सेवन बंद करना होता है। इसके अलावा जब भी बालाजी धाम जाएं तो सुबह और शाम की आरती में शामिल होकर आरती के छीटें लेने चाहिए। यह रोग मुक्ति एवं ऊपरी चक्कर से रक्षा करने वाला होता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

यूपी में प्रशासनिक फेरबदल, 4 IAS और 3 PCS किए गए इधर से उधरएंकर रोहित रंजन को रायपुर पुलिस नहीं कर पाई गिरफ्तार, अपने ही दो कर्मचारी के खिलाफ जी न्यूज़ ने दर्ज कराई FIRTwitter ने केंद्र के आदेश को दी कर्नाटक हाई कोर्ट में चुनौती, लगाया ये आरोपबिहार में लैंड नहीं हो सकी फ्लाइट, वापस दिल्ली एयरपोर्ट लौटीगुजरात में भारी बारिश की चेतावनी, एनडीआरएफ की नौ टीम तैनातIndian Air Force:पहली बार पिता-पुत्री की जोड़ी ने साथ उड़ाया विमानमहाराष्ट्र में शिवसेना के टूटने से डरे अरविंद केजरीवाल, अपने विधायकों से की ये अपीलपश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था को लेकर चिंतित BJP नेता सुवेंदु अधिकारी, गृह मंत्री अमित शाह लिखा पत्र
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.