विदेश जाने की इच्छा हो जाती है पूरी, यहां प्रसाद के रूप में चढ़ता है हवाई जहाज

विदेश जाने की इच्छा हो जाती है पूरी, यहां प्रसाद के रूप में चढ़ता है हवाई जहाज

Tanvi Sharma | Publish: Nov, 22 2018 06:16:46 PM (IST) | Updated: Nov, 22 2018 06:16:47 PM (IST) मंदिर

विदेश जाने की इच्छा हो जाती है पूरी, यहां प्रसाद के रूप में चढ़ता है हवाई जहाज

यूं तो भारत में देवी-देवताओं के अनेकों मंदिर हैं, जहां मुरादें पूरी करने के लिए अनोखी परंपराएं प्रचलित हैं। वहीं पंजाब के जालंधर जिले में संत बाबा निहाल सिंह जी गुरूद्वारा है। जहां श्रद्दालु खिलौने वाले हवाई जहाज़ प्रसाद के रुप में चढ़ाते हैं। मान्यताओं के अनुसार इस गुरूद्वारे में हवाई जहाज चढ़ाने से लोगों की विदेश जाने की मनोकामना पूरी हो जाती है। संत बाबा निहाल सिंह जी गुरूद्वारा के प्रति लोगों की गहरी आस्था जुड़ी हुई है। इस गुरुद्वारे को हवाई जहाज गुरुद्वारे के नाम से भी जाना जाता है।

aeroplane gurudwara

इस गुरुद्वारे को लेकर लोगों का मानना है की यदि आपका वीज़ा या पासपोर्ट नहीं बन पा रहा है तो, खिलौने वाला हवाई जहाज़ दान करने से उसका पासपोर्ट बनने में आ रही अड़चनें दूर हो जाती है और आपकी विदेश यात्रा की सभी परेशानियां दूर हो जाती हैं। सप्ताह भर ही यहां लोग आते हैं लेकिन रपिवार के दिन यहां ज्यादा ही भक्तों की भीड़ रहती है। हर वो व्यक्ति जिसका सपना होता है विदेश में जाकर नौकरी हासिल करने की या विदेश में रह कर पढ़ाई करने की, वह संत बाबा निहाल सिंह जी गुरूद्वारे में एक हवाईजहाज लेकर जरूर आता है। मान्यता हैं कि जो लोग यहाँ आकर माथा टेककर प्रार्थना करते हैं, उसे विदेश जाने में किसी भी तरह की परेशानी नहीं होती है।

यह गुरुद्वारा कम से कम 150 साल से भी ज्यादा पुराना है। वहीं गुरुद्वारे के प्रबंधन से जुड़े लोगों का कहना है कि यहां भक्तों द्वारा अर्पित किए गए खिलौनों का ढेर लग जाता है। ऐसे में ये खिलौने मत्था टेकने के लिए आने वाले बच्चों में बांट दिए जाते हैं। यहां के स्थानीय दुकानदार अन्य चीजों के अलावा खिलौना हवाईजहाज भी जरूर रखते हैं, क्योंकि इसकी बड़ी मांग है। हवाईजहाज चढ़ाने से यह गुरुद्वारा काफी मशहूर है।

Ad Block is Banned