scriptमानसून के पहले गड्ढों को भरने नपा ने नहीं किया प्रयास | Patrika News
टीकमगढ़

मानसून के पहले गड्ढों को भरने नपा ने नहीं किया प्रयास

गड्ढों में तब्दील हो गई नया बस स्टैंड की सडक़

टीकमगढ़Jul 05, 2024 / 07:54 pm

akhilesh lodhi

गड्ढों में तब्दील हो गई नया बस स्टैंड की सडक़

गड्ढों में तब्दील हो गई नया बस स्टैंड की सडक़

अब बारिश में गड्ढे बन रहे बन रही आफ त, बारिश के पानी से फैल गए सडक़ में बने गड्ढे

टीकमगढ़.नगरपालिका क्षेत्र की आंबेडकर तिराहा से नया बस स्टैंड तक की सडक़ गड्ढों में तब्दील हो गई है। इस सडक़ पर अब पहले से ज्यादा और गहरे गड्ढे दिखाई देने लगे है। जिनमें वाहनों के पहिया फंस रहे है। गुरुवार को शुक्रवार को खादी ग्रामोद्योग केंद्र के सामने बने गड्ढे में दो बाइक सवार फंसकर गिर गए। हालांकि उन्हें चोट नहीं पहुंची, लेकिन वाहन में टूट फूट हो गई थी।
वाहन चालक राजू खान, ऑटो चालक रमजान खान, राकेश कुशवाहा और विजय कडा ने बताया कि जबसे बारिश शुरु हुई, तब से नया बस स्टैंड की ओर जाना कम कर दिया है। डेढ किमी तक जाने और आने में काफी समय लगता है। साथ ही कमर दर्द करने लगती है। वही वाहन की टूट फूट की संख्या भी होने लगती है। इस कारण से वहां की सवारियों पर ध्यान नहीं देते है। उनका का कहना था कि जितना किराया नहीं मिलता उससे अधिक टूट फूट में रुपए खर्च हो जाते है।
बारिश से फैल रहे गड्ढे
मानसून के पहले नगरपालिका द्वारा गड्ढे नहीं भरे गए। अब बारिश के बाद उन गड््ढों का आकार बड़ा हो गया है। उनकी लंबाई और चौड़ाई फैल गई है। जिसमें वाहन दौडऩे की जगह रैंग रहे है। चालको ने बताया कि बस स्टैंड के सामने का गड्ढो तो सीमेंट से भर दिया गया था। अब आंबेडकर का गड्ढा दर्द देने लगा है।

Hindi News/ Tikamgarh / मानसून के पहले गड्ढों को भरने नपा ने नहीं किया प्रयास

ट्रेंडिंग वीडियो