बजरी खनन की सूचना देने पर माफिया ने हमला कर किया घायल, सूचना पर पुलिस बोली-घायलों से थाने पर फोन करवा दो, जाप्ता भेज देंगे

Pawan Kumar Sharma | Updated: 11 Oct 2019, 03:19:00 PM (IST) Tonk, Tonk, Rajasthan, India

Injured in attack: बजरी खनन की सूचना देने पर राष्ट्रीय राजमार्ग जयपुर-कोटा पर दो युवकों पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया।

 

देवली. राष्ट्रीय राजमार्ग जयपुर-कोटा पर गुरुवार दोपहर बजरी माफिया ने होटल पर बैठे दो युवकों पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया। युवकों का कसूर बस इतना था कि उन्होंने खनन की प्रशासन को सूचना दी थी। घटना के बाद लोगों ने थाना पुलिस को सूचना दी, जहां पुलिस के मौके पर पहुंचने के बजाय घायलों से थाने पर फोन कराने की बात कहते रहे। उक्त घटना सिरोही गांव स्थित एक होटल पर हुई।

read more:VIRAL VIDEO पर मंत्री भंवरलाल की सफाई, 'मज़ाक में कही थी बात, मेरे खिलाफ साजिश'

घटना में देवली निवासी प्रशांत गौतम व सपन बुरी तरह घायल हुए है। दोनों युवकों बाइक से राजमहल गांव जा रहे थे। जहां वे सिरोही स्थित एक होटल पर चाय पीने ठहर गए। इस दरम्यान तीन कारों में करीब एक दर्जन लोग आएं, जिन्होंने आते ही दोनों युवकों पर लाठियों से पीटना शुरू कर दिया। वहीं हाथ व पीठ पर लाठियों से प्रहार किए। इससे दोनों युवक बुरी तरह घायल हो गए। इसमें घायल सपन बेहोश हो गया।

read more:हास्य की फुलझड़ियां फूटी और व्यंग्य के बम छूटे,370 धारा को लेकर कवियों के मन उछले

वहीं प्रशांत ने अपने परिजनों को घटना की सूचना दी। सूचना पर थाना प्रभारी नरेश कुमार के निर्देश पर स्थानीय थाना पुलिस के एएसआई सतीश मौके पर पहुंचे तथा घायलों से जानकारी ली। वहीं पुलिस ने घायलों को देवली अस्पताल लाकर भर्ती कराया। जहां चिकित्सक राजकुमार गुप्ता ने दोनों युवकों का उपचार किया।

उपचार के बाद घायल प्रशांत को पुलिस अपने साथ पुन: मौके पर ले गई। जहां मौका मुआयना तैयार किया गया। घायल प्रशांत गौतम ने बताया कि उन्होंने गत दिनों बजरी खनन व परिवहन की स्थानीय प्रशासन को जानकारी दी। इससे खफा चल रहे बजरी माफिया ने उन पर हमला किया। इससे पहले माफिया ने उन्हें फोन पर भी धमकाया था।

घायलों से फोन करवा दो-
युवकों की पिटाई के बारे में थाना पुलिस के एएसआई व ड्यूटी ऑफिसर सतीश शर्मा सूचना देने के लिए ही थाने पर फोन किया गया है। इसके बावजूद एएसआई ने तत्काल कार्रवाई करने की बजाय फोनकर्ता को घायलों से एक फोन थाने पर करवाने की बात कही। एएसआई ने कहा कि घायलों को बोल दो वे थाने पर फोन कर दे। उधर, मामले की जानकारी मिलते ही थाना प्रभारी नरेश कुमार ने पुलिस जाप्ता मौके पर भेजकर घायलों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया।


मालूम करवाता हूं
एएसआई को सूचना दी गई है तो पुलिस जाप्ता भेजना चाहिए। ऐसी बात है तो मालूम करवाता हंू।
नरेश कुमार, थाना प्रभारी, देवली।


कार्रवाई के लिए कहता हूं-

मैं अभी मालपुरा हंू, यदि ऐसी बात है तो कार्रवाई के लिए कह देता हंू।
आदर्श सिधू एसपी, टोंक।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned