scriptहमारी प्रार्थना सुन लो प्रशासन, बस स्टैंड से अस्थाई अतिक्रमण हटवा दो... | Encroachment on Piplu bus stand | Patrika News

हमारी प्रार्थना सुन लो प्रशासन, बस स्टैंड से अस्थाई अतिक्रमण हटवा दो...

locationटोंकPublished: Feb 29, 2024 06:36:19 pm

Submitted by:

pawan sharma

टोंक से मालपुरा मार्ग पर चलने वाली रोडवेज बसों के 6 वर्षों बाद पीपलू बसस्टैंड पर आना तो शुरु हो गया लेकिन अतिक्रमण के चलते बसों को घुमाने में काफी दिक्कतें उठानी पड़ रही है।

 

हमारी प्रार्थना सुन लो प्रशासन, बस स्टैंड से अस्थाई अतिक्रमण हटवा दो...
हमारी प्रार्थना सुन लो प्रशासन, बस स्टैंड से अस्थाई अतिक्रमण हटवा दो...
हमारी प्रार्थना सुन लो प्रशासन....पीपलू कस्बे के मुख्य बस स्टैंड से अस्थाई अतिक्रमण हटवा दो....पुलिस कांस्टेबल तैनात कर दो.....अन्यथा आपकी लापरवाही की वजह से 6 साल बाद जो खुशियां हमें मिली है वो वापस लॉक हो जाएगी। दरअसल टोंक पत्रिका में लगातार पीपलू के उपखंड मुख्यालय होने के बावजूद रोडवेज बसों के संचालन नहीं होने का मामला उठाया गया।
इस बार चुनाव में 19 दिसंबर 2023 को मतदाता बोले

हमने निभाया अपना कर्तव्य, अब जनप्रतिनिधि घोषणाओं-वादों को करें पूरा और अन्य खबर प्रकाशित कर यह मुद्दा उठाया था। वहीं चुनाव के दौरान जागो जनमत, पत्रिका परिचर्चा, टॉक शो के माध्यम से भी यह मुद्दा उठाया था। इसके बाद रोडवेज ने दो शेड्यूल के 6 फेरे का संचालन पीपलू बस स्टैंड से होकर शुरु किया है।
टोंक से मालपुरा मार्ग पर चलने वाली रोडवेज बसों के 6 वर्षों बाद पीपलू बसस्टैंड पर आना तो शुरु हो गया लेकिन अतिक्रमण के चलते बसों को घुमाने में काफी दिक्कतें उठानी पड़ रही है। बसों के घुमाने में आ रही दिक्कत से कई बार चालक / परिचालक बसों को पीपलू बस स्टैंड तक लाने की बजाय 4 किमी दूर नाथड़ी से सीधे से गंतव्य स्थल के लिए ले जाते हैं। इससे सवारियां इंतजार में रह जाती हैं।
अस्थाई अतिक्रमण हटाए जाने की गुहार

दिव्यांग लड्डूलाल मेहरा, जितेन्द्र जैन, महेन्द्र दाधीच, एडवोकेट नंदकिशोर शर्मा सहित अन्य लोगों ने गत 20 फरवरी को उपखंड अधिकारी को जिला कलक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा था लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई है। ग्रामीणों ने बताया कि राजस्व रिकॉर्ड के मुताबिक पीपलू का बस स्टैण्ड एक बीघा 12 बिस्वा क्षेत्रफल में विस्तारित है लेकिन अतिक्रमण के चलते यह बारह बिस्वा में ही सिकुडकऱ रह गया है। साथ ही बस स्टैण्ड पर यातायात सुचारू रखने के लिए ट्रैफिक पुलिसकर्मी नहीं है।
बेतरतीब तरीके से खड़े करते हैं वाहन

कस्बे का मुख्य बस स्टैंड अतिक्रमण से बोझिल बना हुआ है। वहीं आडे-तिरछे खड़े रहने वाले वाहनों एवं ठेले खड़े होने से काफी दिक्कतें होती है। जिससे यातायात व्यवस्था चरमरा जाती है। ऐसे में बस स्टैंड पर यातायात व्यवस्था को सुचारू किए जाने को लेकर पुलिसकर्मी की स्थाई तैनाती की मांग की गई है। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर पुलिस ने भी कई बार अभियान चलाकर चालान काटने की कार्रवाई की लेकिन स्थाई रूप से इसका निदान नहीं हो पाया हैं।
बस स्टैंड पर हो रहे अस्थाई अतिक्रमण से बसों के संचालन में आ रही परेशानी की जानकारी मिली है। इस संबंध में थानाधिकारी को अस्थाई अतिक्रमण हटवाकर लोगों को पाबंद किए जाने के निर्देश दिए हैं।
इन्दु लोदी, पुलिस उपाधीक्षक, पीपलू वृत्त

ट्रेंडिंग वीडियो