जिला स्तर पर बनेंगा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक

कोरोना व अन्य रोग से पीडि़त होने पर ऑक्सीजन की आवश्यता होने पर चिकित्सक से परामर्श के बाद मरीज को घर पर ही चिकित्सा विभाग की ओर से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उपल्ब्ध कराए जाएंगे।

By: pawan sharma

Published: 23 Jul 2021, 05:16 PM IST

टोंक. कोरोना व अन्य रोग से पीडि़त होने पर ऑक्सीजन की आवश्यता होने पर चिकित्सक से परामर्श के बाद मरीज को घर पर ही चिकित्सा विभाग की ओर से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उपल्ब्ध कराए जाएंगे।
इस सुविधा के लिए मरीज के परिजन द्वारा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की मांग सीएम हेल्पलाइन नंबर 181 पर अथवा जिला ड्रग वेयर हाउस, डीडीसी पर ऑफलाइन चिकित्सीय परामर्श की पर्ची तथा आधार कार्ड, अन्य फोटोयुक्त पहचान पत्र की प्रति के साथ की जा सकती है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अशोक यादव ने बताया कि कोविड संक्रमण के प्रसार को रोकने, संक्रमण की श्रंृखला को तोडऩे, कोविड-19 के कारण होने वाली जनहानि को न्यूनतम किए जाने तथा तीसरी आशंकित लहर को रोकने, सीमित करने तथा घर पर ही कोविड-19, सिलकोसिस एवं अन्य रोगों के मरीजों को उनकी मेडिकल स्थिति के अनुसार मेडिकल ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के लिए जिले में ऑक्सीजन बैंक स्थापित किया जाएगा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ऑक्सीजन बैंक के प्रभारी होंगे। इन ऑक्सीजन बैंक की मदद से मरीज का घर पर ही उपचार किया जा सकेगा।


यादव ने बताया कि निर्धारित अमानत राशि 5000 (रिफंडेबल), जिला स्वास्थ्य समिति के खाते में जमा करवाए जाने पर ऑक्सीजन बैंक से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उपलब्ध करवाया जा सकेगा। उन्होने बताया कि मरीज को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर दिए जाने से पूर्व बारकोड लगाया जाएगा एवं जमा कराए जाने से पूर्व बारकोड की जांच की जाएगी।

मरीज के परिजन को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर दिए जाने से पूर्व ड्रग वेयर हाउस के प्रभारी, कार्मिक द्वारा मरीज के परिजन को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर को उपयोग में लिए जाने की संपूर्ण प्रक्रिया एवं आवश्यक सावधानियों से अवगत कराया जाएगा तथा यूजर मैनुअल भी उपलब्ध करवाया जाएगा। डिप्टी सीएमएचओ डॉ. महबूब खान ने बताया कि इसके लिए विभाग की ओर से आवश्यक तैयारी की जा रही है।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned