न्यायालय के आदेश पर हरियाणा निवासी पीडि़त को लौटाई ठगी गई राशि

Fraudulent amount returned: सस्ता सोना बेचने के नाम हुई ठगी की वारदात के बाद गिरफ्तार आरोपी से जब्त राशि को न्यायालय के आदेश पर पीडि़त को लौटा दी गई है।

By: pawan sharma

Updated: 27 Nov 2019, 11:18 AM IST

दूनी. दूनी थाना क्षेत्र के पोल्याड़ा समुदाय विशेष बस्ती में गत दिनों सस्ता सोना बेचने के नाम हुई ठगी की वारदात के बाद गिरफ्तार आरोपी से जब्त राशि को दूनी न्यायिक मजिस्ट्रेट जितेन्द्र रैया के आदेश सोमवार देर रात को पीडि़त को सौंप दी। दूनी थानाप्रभारी बाबूलाल टेपण ने बताया कि आरोपी से जब्त की गई दो लाख चालीस हजार की राशि पीडि़त खेथल, हरियाणा निवासी अनिलकुमार जाट को सौंपी गई।

उन्होंने बताया कि पीडि़त चालक प्रवीण जयपुर में दो युवकों से मिला। उन्होंने सस्ता सोना दिलाने की बात कही। साथ ही अन्य को सोना दिलाने पर कमीशन देने की बात कह पीडि़त को मोबाइल नम्बर दे दिए। चालक प्रवीण ने गांव जा कर मालिक अनिल कुमार को सस्ता सोना बेचे जाने की बात बताई।

इसके बाद प्रवीण अपने मालिक को साथ ले 20 सितम्बर की सुबह पोल्याड़ा आए, जहां फोन करने पर आरोपी युवक राजमार्ग पर आए और उन्हें बस्ती में ले गए। बस्ती में दस 24 हजार प्रति तोले के हिसाब से सोदा होने पर पीडि़तों ने उन्हें 2 लाख 40 हजार रुपए दे दिए।

रुपए देने के तत्काल बाद पुलिस वर्दी पहनकर चार युवक आए तो वहां मौजूद आरोपी पुलिस आ गई, पुलिस आ गई शोर मचाने लगे, नकली पुलिसकर्मी पीडि़तों पर लाठियां फटकारने लगे, इस पर पीडि़त जान बचा बाहर आ गए। बाद में ग्रामीणों से ठगने की जानकारी मिलने पर दूनी थाने में पहुंच 23 सितम्बर को आरोपी के खिलाफ ठगी का मामला दर्ज कराया।

इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई कर आरोपी चांदली हाल पोल्याड़ा निवासी जैकी व शहंशाह पुत्र सवाई सिंह कंजर को गिरफ्तार कर ठगी गई राशि जब्त की। इस दौरान एएसआई गोपालनारायण शर्मा, हैड कांस्टेबल देवनारायण गुर्जर सहित अन्य पुलिसकर्मी मौजूद थे।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned