Auli Resort : अपनी प्राकृतिक सुंदरता से बरबस ही दुनियाभर के पर्यटकों को अपनी आेर खींच लाता है आैली

Auli Resort : अपनी प्राकृतिक सुंदरता से बरबस ही दुनियाभर के पर्यटकों को अपनी आेर खींच लाता है आैली

Deovrat Singh | Publish: Nov, 30 2017 09:20:43 AM (IST) ट्रेवल

Auli Resort : उत्तराखण्ड में 5-7 किलोमीटर में फैला छोटा सा स्की-रिसोर्ट आैली अपनी प्राकृतिक सुंदरता से बरबस ही दुनियाभर के पर्यटकों को अपनी आेर खींच

उत्तराखण्ड में 5-7 किलोमीटर में फैला छोटा सा स्की-रिसोर्ट आैली अपनी प्राकृतिक सुंदरता से बरबस ही दुनियाभर के पर्यटकों को अपनी आेर खींच लाता है। स्की-रिसोर्ट आैली 9,500-10,500 फीट की ऊँचाई पर बना होने के कारण वहां से आसपास के प्राकृतिक नजारे बेहद सुंदर नजर आते हैं। देवदार के पेडों की महक यहाँ की ठंडी और ताजी हवाओं में महसूस की जा सकती है।


बर्फ से खेलते हैं पर्यटक
औली में प्रकृति ने अपने सौन्दर्य को खुल कर बिखेरा है। बर्फ से ढकी चोटियों और ढलानों को देखकर दिल खुश हो जाता है। यहाँ पर कपास जैसी मुलायम बर्फ पड़ती है और पर्यटक खासकर बच्चे इस बर्फ में खूब खेलते हैं।

जिंदादिल लोगों के लिए है खास जगह
जिंदादिल लोगों के लिए औली बेहद खास जगह है। यहाँ पर बर्फ गाड़ी और स्लेज आदि की व्यवस्था नहीं है। यहाँ पर केवल स्कीइंग और केवल स्कीइंग की जा सकती है। इसके अलावा यहाँ पर अनेक सुन्दर दृश्यों का आनंद भी लिया जा सकता है। नंदा देवी के पीछे सूर्योदय देखना एक बहुत ही सुखद अनुभव है। नंदा देवी राष्ट्रीय उद्यान यहाँ से 41 किलोमीटर दूर है। इसके अलावा बर्फ गिरना और रात में खुले आकाश को देखना मन को सकून पहुंचाने वाला होता है।

सिखने को मिलती है स्की

यहाँ पर स्की करना सिखाया जाता है। गढ़वाल मण्डल विकास निगम ने यहाँ स्की सिखाने की व्यवस्था की है। मण्डल द्वारा 7 दिन की नॉन-सर्टिफिकेट और 14 दिन की सर्टिफिकेट ट्रेनिंग दी जाती है। यह ट्रेनिंग हर वर्ष जनवरी-मार्च में दी जाती है। मण्डल के अलावा निजी संस्थान भी ट्रेनिंग देते हैं। यह पर्यटक के ऊपर निर्भर करता है कि वह कौन सा विकल्प चुनता है। स्की सीखते समय सामान और ट्रेनिंग के लिए रू.500 देने पड़ते हैं। इस फीस में पर्यटकों के लिए रहने, खाने और स्की सीखने के लिए आवश्यक सामान आदि की आवश्यक सुविधाएं दी जाती हैं।

शुल्कः

स्की करने के लिए व्यस्कों से रू. 475 और बच्चों से रू. 250 शुल्क लिया जाता है। स्की सीखाने के लिए रू. 125-175, दस्तानों के लिए रू. 175 और चश्मे के लिए रू. 100 शुल्क लिया जाता है। 7 दिन तक स्की सीखने के लिए भारतीय पर्यटकों से रू. 4,710 और विदेशी पर्यटकों से रू. 5,890 शुल्क लिया जाता है। 14 दिन तक स्की सीखने के लिए भारतीय पर्यटकों से रू. 9,440 और विदेशी पर्यटकों से रू. 11,800 शुल्क लिया जाता है।

ठहरने का है पूरा इंतजाम
आैली में कई डीलक्स रिसोर्ट भी हैं। यहाँ पर भी ठहरने का अच्छा इंतजाम है। पर्यटक अपनी इच्छानुसार कहीं पर भी रूक सकते हैं। बच्चों के लिए भी औली बहुत ही आदर्श जगह है। यहाँ पर पड़ी बर्फ किसी खिलौने से कम नहीं होती है। इस बर्फ से बच्चे बर्फ के पुतले और महल बनाते हैं और बहुत खुश होते हैं।

जाने का सही समय
औली जाने के लिए सबसे अच्छा मौसम जनवरी-मार्च का है। इस समय यहाँ पर बर्फ पड़ती है। यह समय स्की करने के लिए बिल्कुल ठीक समय है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned