Anupama 8th May 2021 Written Updates : वनराज ने काव्या के सपनों पर फेरा पानी, शादी ना करने का लिया फैसला

By: Shweta Dhobhal
| Published: 08 May 2021, 12:15 PM IST
Anupama 8th May 2021 Written Updates : वनराज ने काव्या के सपनों पर फेरा पानी, शादी ना करने का लिया फैसला
Anupama 8th may 2021 written updates Vanraj decided not to marry Kavya

नंदनी और समर की सगाई में आकर काव्या पूरे परिवार को वनराज और अनुपमा के तलाक की डेट के बारें में बता देती है। जिसकी वजह से दोनों की सगाई रुक जाती है। जिसकी वजह से वनराज गुस्से में फैसला सुनाता है कि ना वो अनुपमा को तलाक देगा और ना ही अब काव्या से शादी करेगा।

नई दिल्ली। छोटे पर्दे का मोस्ट पॉपुलर शो 'अनुपमा' में एक के बाद एक कई ट्विस्ट देखने को मिल रहे हैं। एक ओर जहां अनुपमा अपनी बीमारी के चलते दुख में है। वहीं वह अपने छोटे बेटे समर और नंदिनी की सगाई को लेकर काफी खुश है। लेकिन इस बीच फिर काव्या अपनी चालों से अनुपमा और वनराज पर हमला करती है और एक बार फिर अनुपमा का दिल टूट जाता है। तंडाव कर अनुपमा अपना दुख और गुस्सा जाहिर करती है। वहीं वनराज काव्या की हरकत से दुखी होकर एक बड़ा फैसला सुनता है। तो चलिए आपको बतातें हैं कि आखिर क्या होगा आज शो अनुपमा में।

समर-नंदनी की सगाई टली

एक दिन बाद वनराज और अनुपमा के तलाक की खबर सुनाकर काव्या सबका मूड खराब कर देती है और समर और नदंनी की सगाई रूक जाती है। जिसके बाद अनुपमा की सास उनसे पूछती हैं कि उन्होंने यह बात बताई क्यों नहीं। जिसके बाद अनुपमा कहती हैं कि उन्हें खुद रात को पता चला है, लेकिन वह सगाई और तलाक दोनों चाहती हैं। नंदनी और समर की सगाई में विघ्न डालकर काव्या फंक्शन से चली जाती है। जिसके समर और नंदनी की सगाई रोक जाती है।

सास ने जोड़े अनुपमा के सामने हाथ

तलाक की खबर सुनने के बाद अनुपमा की बा लीला काफी परेशान हो जाती है। वह अनुपमा को प्यार और डांट से समझाती हैं कि उनके सामने सुख और दुख चुनने की छूट दी है। लीला अनुपमा को समझाती है कि वह उन्हें दुख नहीं चुनेंने देंगी। वह अनुपमा को हुकुम देते हुए कहती हैं कि वह सगाई को चुनेंगी। शो में अनुपमा की सास रोते हुए उनके सामने हाथ जोड़ते हुए उन्हें सही फैसला लेने की बात कहती हैं।

नंदनी को बयां किया काव्या ने दर्द

सगाई का फंक्शन रोकने के बाद जब नंदनी काव्या को अपना गुस्सा जाहिर करती है। तो काव्या रोते हुए नदंनी को कहती हैं जब उनकी खुशियों पर बात आई तो वह काफी हर्ट हुईं। काव्या का कहती हैं कि वह हर बार गलत नहीं होती हैं। वह मानती हैं कि शादीशुदा लड़के से प्यार करना उनकी गलती है। लेकिन अपना हक मांगना उनकी गलती नहीं है।

काव्या पर फूटा वनराज का गुस्सा

शीशे में खुद की मांग में सिंदूर और गले में मंगल सूत्र पहनती काव्या के सपनों पर वनराज आकर पानी फेर देते हैं। वनराज काव्या से कहते हैं कि उन्होंने बहुत कोशिश की उनका और अनुपमा का तलाक करवाने की। साथ ही वनराज कहते हैं कि वह काव्या को कहते रहे कि उनके परिवार से दूर रहें लेकिन वह नहीं रहती। जिसके बाद वनराज एक बड़ा फैसला सुनाते हुए कहते हैं कि वह अनुपमा को तलाक नहीं देंगे। साथ ही वनराज काव्या को कहते हैं कि अब वह उनके पास भी नहीं आएंगे।

तंडाव कर अनुपमा ने निकला गुस्सा

आज के एपिसोड में अनुपमा तड़ाव कर अपना गुस्सा उतारते हुए दिखाई देंगी। तंडाव करते हुए अनुपमा के सामने वह सारे दुख भरे पल आते हैं। जिसमें उन्हें वनराज संग तलाक की बातें,अपनी बीमारी, सास लीला की बातें, बेटे समर और नंदनी की सगाई टूटने का गम और उनकी परिवार की खुशी की झलक उनके आंखों के सामने आते हैं। जिन्हें याद वह तांडव करती हैं और फिर एक दम से नीचे गिर जाती हैं। यह देख डॉक्टर अद्वैत अनुपमा की तारीफ करते हैं और कहते हैं कि वह काफी लंबे समय से इसी बात का इंतजार कर रहे थे कि वह अपना गुस्सा और दुख बाहर निकाल दें।

(Precap- समर-नंदनी की सगाई में आकर काव्या वनराज और अनुपमा की तलाक डेट के बारें में बता देती है। जिसके बाद पूरा परिवार दुखी हो जाता है और नंदनी और समर की सगाई रोक जाती है। वनराज का गुस्सा काव्या पर फूटता है और अनुपमा को तलाक देने से और काव्या से शादी करने से मना कर देता है।)