Anupama Written Updates 7th April 2021: शाह हाउस में घुसा चोर, काव्या को मिला अनिरुद्ध का साथ

By: Neha Gupta
| Published: 07 Apr 2021, 04:23 PM IST
Anupama Written Updates 7th April 2021: शाह हाउस में घुसा चोर, काव्या को मिला अनिरुद्ध का साथ
Anupamaa

अनिरुद्ध काव्या को समझाता है कि उसे वनराज पर विश्वास करना होगा वरना वो अपना रिश्ता खो देगी। वहीं शाह परिवार में चोर के घुसने से खलबली मचने वाली है। पूरा एपिसोड जानने के लिए पढ़िए 6 अप्रैल का पूरा अपडेट।

नई दिल्ली | टीवी का टॉप शो अनुपमा (Anupamaa) इन दिनों दर्शकों को बेहद पसंद आ रहा है। पाखी ये याद करके दुखी हो जाती है कि उसके मां-बाप कैसे उसे पैम्पर किया करते थे और उन्होंने उससे वादा किया था कि वो उसका दिल नहीं दुखाएंगे। किंजल उसके लिए दूध लेकर आती है और उसे दुखी देखकर पूछती है कि वो इसलिए परेशान हैं कि उसकी मां यहां नहीं हैं। पाखी कहती है कि वो दुखी है कि मम्मी कुछ दिनों बाद उसके साथ नहीं रहेंगी। वो गुस्सा हो जाती थी जब मां उसके कमरे में अचानक आ जाती थी और वो उनपर चिल्लाया करती थी, वो उसे उसके गाल खींचकर शांत कराती थी। वो कहती है कि कैसे वो मां की बेइज्जती किया करती थी और उसने कभी उनकी वैल्यू नहीं की। वो अपनी मां को स्कूल के एनुअल डे फंक्शन पर भी नहीं ले गई थी और उसकी जगह पर काव्या को लेकर गई थी। जबकि मां ने उसके सेलिब्रेशन के लिए नाश्ता बनाया था। जब उसकी मां ने ट्रॉफी जीती थी तो उसने उन्हें बधाई भी नहीं दी थी और बल्कि बा और पापा ने उनकी बेइज्जती की थी। ये सब देखकर मम्मी ने ट्रॉफी को कूड़े में फेंक दिया था।

अनिरुद्ध ने काव्या को दी सलाह

घर आते वक्त अनिरुद्ध काव्या से पूछता है कि क्या वो पक्की तौर पर वनराज से शादी करना चाहती है। वो कहती है कि हां बिल्कुल और वनराज भी उससे शादी करना चाहता है, वो उसे फोर्स नहीं कर रही है। वो कहता है कि उसे बहुत सोच समझ कर निर्णय लेना चाहिए। वो कहती है कि वो अपना फैसला नहीं बदलेगी तो उसे कोशिश नहीं करनी चाहिए थी। वो कहता है कि वो उससे उसका फैसला बदलने को नहीं कह रह है, वो बस उससे वनराज पर भरोसा करने को कह रहा है क्योंकि कुछ भी गलत नहीं है अगर वो उसकी वाइफ के साथ बाहर चला गया है। वो कहती है कि उसकी जगह वो क्यों नहीं है जब वो उस औरत के साथ चला गया जिससे उसका रिश्ता हुआ करता था। वो कहता है कि उस हिसाब से वो भी उस इंसान के साथ है जिसके साथ उसका सालों तक रिश्ता रहा।

पाखी को हुआ गलती का एहसास

पाखी कहती है कि उसे बहुत अफसोस है कि वो और तोशू कैसे मम्मी की बेइज्जती बिना किसी बात के किया करते थे। मम्मी उसका जन्मदिन धूमधाम से मनाया करती थी लेकिन उसने कभी उन्हें एक बार बर्थडे तक नहीं विश किया। यहां तक कि मां के जन्मदिन पर काव्या के प्रमोशन का सेलिब्रेशन किया, उसे एहसास होता है कि वो लोग कितने गलत थे।

अनिरुद्ध ने काव्या से निभाई दोस्ती

अनिरुद्ध काव्या को बताता है कि उन्हें शादी के 12 साल लड़ते हुए बिताए क्योंकि उसके लिए करियर जरूरी था और वो उसे जरूरी मानता था लेकिन जो भी हुआ वो आज दोस्त हैं और एक दूसरे की फीलिंग्स शेयर कर रहे हैं। वो दोस्त हैं ये भी ठीक है, यहां तक कि अनुपमा और वनराज भी दोस्त हो सकते हैं क्योंकि एक माता-पिता के तौर पर वो कभी अलग नहीं होंगे और अपने बच्चों के लिए हमेशा मिलते रहेंगे, तो क्या वो हर बार असुरक्षित महसूस करेगी।

काव्या के डर को अनिरुद्ध ने किया दूर

वो उसे कहता है कि उसे विश्वास करना सीखना होगा वरना ये रिश्ता उसके हाथों से निकल जाएगा। पाखी कहती है कि वो नहीं चाहती कि उसके मम्मी-पापा का डिवोर्स हो। किंजल कहती है कि उसे उसकी मां के फैसले में उनका सपोर्ट करना चाहिए, वो आज उसके साथ सोएगी और उसकी मां की तरह ख्याल रखेगी। उधर अनिरुद्ध कहता है कि हर रिश्ता बदलता है, यहां तक कि वनराज और अनुपमा का रिश्ता भी बदल जाएगा, वो उन्हें बस वैसा ही रहने दें। वो तलाक के बाद भी उसका दोस्त रहेगा और उसे सपोर्ट करेगा। काव्या उसकी दुविधा को दूर करने और हमेशा उसका साथ देने के लिए धन्यवाद करती है।

मच्छरों के बीच राखी का हुआ बुरा हाल

किंजल बा को बताती है कि वो उनका दूध कमरे में रख आई है। बा कहती हैं कि राखी के लिए दूध लाई या नहीं। राखी कहती है कि वो दूध नहीं पीती। बापूजी कहते हैं कि कर्फ्यू के चलते उम्मीद है कि वनराज और अनुपमा ने अपनी गलतफहमियों को दूर कर लिया होगा। मामाजी राखी से फिर से फ्लर्ट करते हैं और कहते हैं कि क्या वो भी कर्फ्यू के कारण रुकेगी। वो कहती है कि हां उसके घर की रोड भी बंद है और बा से एसी रूम के बारे में पूछती है। बा कहती है कि हां है ना और वो सुबह उठेगी तो हॉट चिल्ली से कुल्फी हो जाएगी। लाइट चली जाती है। राखी कहती है कि वो एसी में पैदा हुई थी। वो कहती है कि वो बिना एसी के कैसे रहेगी अब। बा ताना मारते हुए कहती हैं कि वो तो ऐसे बोल रही है जैसे एसी में ही पैदा हुई थी। वो कहती है कि बड़े एसी वाले अस्पताल में पैदा हुई थी। मामाजी फिर से फ्लर्ट करते हैं। राखी कहती है कि उसकी कार का एसी चलाकर उसी में सोने का सोच रही है। बा कहती हैं कि कार में सोना खतरे से भरा है अगर कोई चोर आ गया तो। किंजल कहती है हां ये सही बात है। बा कहती हैं कि बापूजी और मामाजी लॉन में सो जाएंगे वहीं राखी कमरे में सो जाएगी। राखी कहती है कि वो किंजल के कमरे में सोएगी। किंजल कहती है कि पाखी के साथ सोएगी क्योंकि अपने मम्मी-पापा को बहुत मिस कर रही है। बा राखी को कमरे में ले जाती हैं।

शाह परिवार में घुसा चोर

रात में, मामाजी जग जाते हैं और बापूजी से राखी से मिलवाने के लिए कहते हैं। बापूजी उन्हें चुपचाप सो जाने को कहते हैं। मामा जी के बार-बार कहने पर बापूजी कहते हैं कि को कोशिश कर सकते हैं। वो ख्यालों में सोचते हैं कि राखी का कमरा खटखटाते हैं और बा उन्हें थप्पड़ मार देती हैं। बापूजी कहते हैं कि सही में थप्पड़ नहीं खाना चाहते इसलिए उन्हें सो जाना चाहिए। एक चोरनी शाह हाउस में घुस जाती है। राखी को मच्छरों के कारण नींद आती है और बा के तेज खर्ऱाटे उसे सोने नहीं देते हैं। वो फ्रिज से ठंडा पानी पीने के लिए उठती है और मामा जी वहां आ जाते हैं और फ्लर्ट करने लगते हैं। राखी उन्हें उससे दूर रहने को कहती है और वापस बा के कमरे में चली जाती है। बा उठ जाती हैं और पूछती हैं कि वो कहां गई थी। राखी कहती है कि उसे उनके खर्राटों के कारण नींद नहीं आ रही है तो वो पानी पीने गई थी। बा कहती हैं कि खर्राटें नहीं लेती हैं और पानी की एक और बोतल लाने को कहती हैं। राखी बड़बड़ाते हुए जाती है। चोरनी खिड़की से किचन में घुस जाती है। मामाजी को कुछ आवाज सुनाई देती है और वो चोरनी को राखी समझकर उसे सोने को कहते हैं। राखी को आता देखकर चोरनी छुप जाती है। किंजल देखती है कि पाखी को नींद नहीं आ रही है तो उसे अनुपमा की तरह लोरी गा के सुनाती है।

(Precap- वनराज घर के लिए रवाना होते हुए अनुपमा से तलाक को लेकर बात करता है। काव्या सोचती है कि पूरे परिवार को तलाक के बारे में बताकर उनकी खुशियों पर पानी फेर देगी। जब अनुपमा और वनराज घर आते हैं, काव्या ताना मारते हुए कहती है कि वो लोग दुनिया के कूलेस्ट कपल हैं जो तलाक के दिन पहले पिकनिक पर गए थे।)