Kaun Banega Crorepati 12: कोरोनावायरस के चलते 20 साल बदल गए केबीसी के नियम, नहीं मिलेगी ये लाइफलाइन

By: Neha Gupta
| Published: 24 Sep 2020, 10:15 AM IST
Kaun Banega Crorepati 12: कोरोनावायरस के चलते 20 साल बदल गए केबीसी के नियम, नहीं मिलेगी ये लाइफलाइन
Kaun Banega Crorepati 12 new rules

कौन बनेगा करोड़पति सीजन 12 (Kaun Banega Crorepati 12) पहली बार बिल्कुल अलग अंदाज में देखने को मिलेगा। कोरोनावायरस के चलते शो के फॉर्मेट को पूरी तरह से बदल दिया गया है। जानिए क्या बदलाव किए गए हैं।

 

नई दिल्ली | कौन बनेगा करोड़पति का सीजन 12 (Kaun Banega Crorepati 12) जल्द ही शुरू होने वाला है। इस साल कोविड-19 के चलते सभी टीवी सीरियल्स की शूटिंग कई महीनों तक बंद रही। लेकिन अब धीरे-धीरे सब पटरी पर आ रहा है। टीवी के पॉपुलर शोज भी शुरू हो रहे हैं, ऐसे में दर्शकों का उत्साह फिर से बढ़ने लगा है। कौन बनेगा करोड़पति की फैन फॉलोइंग किसी से छिपी नहीं है। 28 सितंबर से शुरू हो रहे इस शो के लिए इस बार नए नियम बनाए गए हैं। पिछले 20 सालों के नियमों को इस बार बदलने की प्लानिंग कर ली गई है। एक बार फिर से बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ही कौन बनेगा करोड़पति का 12वां सीजन होस्ट करते नजर आएंगे।

ऐसा पहली बार होने जा रहा है कि कौन बनेगा करोड़पति के पुराने नियमों (KBC rules) को बदला जाएगा। कोरोना वायरस के चलते इस बार आपको ऑडियंस भी देखने को नहीं मिलेगी। सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देश अनुसार ही कौन बनेगा करोड़पति 12 की शूटिंग भी की जाएगी। गौरतलब हो कि शो में लाइफआइन के रूप में ऑडियंस पोल भी एक ऑप्शन दिया जाता था जो अब नहीं मिल पाएगा। ऐसे में इसकी जगह पर वीडियो ए फ्रेंड लाइफलाइन कंटेस्टेंट को दी जाएगी।

 

इस बार केबीसी के फॉरमेट में ही बदलाव नहीं नजर आएंगे बल्कि वहां मौजूद लोग मास्क और गलव्स में दिखाई देंगे। हाल ही में केबीसी शो का एक अनसीन वीडियो सामने आया था जिसमें मेकअपमैन पीपीई किट (PPE Kit) में नजर आ रहा था। केबीसी के सीजन 12 के कई प्रोमो रिलीज किए जा चुके हैं। जिसके बाद एक बार फिर लोग अमिताभ बच्चन को देखने के लिए तैयार हैं।

जाहिर है कि अब ऑडियंस वाले शोज में नए-नए जुगाड़ किए जा रहे हैं। द कपिल शर्मा शो में भी लाइव ऑडियंस की जगह पर उनके हंसते हुए कटआउट्स लगाए गए हैं। कौन बनेगा करोड़पति में भी हो सकता है इसी तरह के कटआउट्स लगाए जाए। ऐसा फैसला लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए किया गया है।

Show More